योगराज गुग्गुलु के फायदे, उपयोग, खुराक और नुकसान (Yograj Guggulu Benefits, Uses, Dose And Side Effects in Hindi)

Show Some Love By Sharing!

योगराज गुग्गुलु के फायदे, उपयोग, खुराक और नुकसान (Yograj Guggulu Benefits, Uses, Dose And Side Effects in Hindi) : योगराज गुग्गुलु (योगराज गुग्गुलु और योगराज गुग्गुल के रूप में भी लिखा जाता है, जिसे पक्षघात्री गुग्गुल भी कहा जाता है) एक आयुर्वेदिक ओषधि है, जिसका उपयोग दर्द विकारों, पाचन रोग, सांस लेने में परेशानी जैसी आदि समस्याओ में उपयोग किया जाता है।

योगराज गुग्गुलु जोड़ों के विकारों में जकड़न, दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है। यह भूख और पाचन में सुधार करता है। यह विभिन्न प्रकार के विकारों के लिए आयुर्वेद में कायाकल्प पूरक और सहायक चिकित्सा के रूप में भी प्रयोग किया जाता है।

विषय सूची:

योगराज गुग्गुलु की सामग्री (Yograj Guggulu Active Ingredients in Hindi):

योगराज गुग्गुलु का मुख्य घटक सुधा गुग्गुलु है, जो एक प्रोडक्ट में लगभग 50% की मात्रा में पाया जाता है।

यहाँ निचे हमने एक ग्राम (1000 मिलीग्राम) योगराज गुग्गुलु में पाए जाने वाले पोषक तत्व के बारे में बताया है, जिसे आपको जानना चाहिए-

जड़ी बूटियां (सामग्री) मात्रा
सुधा गुग्गुलु500 मिलीग्राम
त्रिफला पाउडर250 मिलीग्राम
सूखे अदरक (ज़िंगिबर ऑफ़िसिनेल)12.5 मिलीग्राम
पिपली (लंबी मिर्च या पाइपर लोंगम) – फल12.5 मिलीग्राम
पिपली (लंबी मिर्च या पाइपर लोंगम) – जड़ें12.5 मिलीग्राम
छव्य (पाइपर क्यूबबा)12.5 मिलीग्राम
चित्रक (प्लम्बेगो ज़ेलेनिका)12.5 मिलीग्राम
हींग  12.5 मिलीग्राम
अजमोद (अपियम ग्रेवोलेंस) अजवाइन के बीज12.5 मिलीग्राम
सरसों के बीज12.5 मिलीग्राम
काला जीरा12.5 मिलीग्राम
सफेद जीरा12.5 मिलीग्राम
निर्गुंडी बीज12.5 मिलीग्राम
इंडरजो (होलर्रहिना एंटीडीसेंटरीका सीड्स)12.5 मिलीग्राम
पाठ (सीसम्पेलोस परेरा)12.5 मिलीग्राम
विदंगा (एम्बेलिया रिब्स)12.5 मिलीग्राम
गजपीपल (जावा लांग पेपर)12.5 मिलीग्राम
कुटकी (पिक्रोरिजा कुरोआ)12.5 मिलीग्राम
अतीस या अतिविशा (एकोनिटम हेटरोफिलम)12.5 मिलीग्राम
भारंगी (क्लेरोडेंड्रम सेराटम)12.5 मिलीग्राम
वचा (एकोरस कैलमस)12.5 मिलीग्राम
मुस्तक (साइपरस रोटंडस)12.5 मिलीग्राम
योगराज गुग्गुलु की सामग्री (Yograj Guggulu Active Ingredients in Hindi)

(यह भी पढ़े – दालचीनी के फायदे और नुकसान (15 Effective Benefits of Cinnamon in Hindi))

योगराज गुग्गुलु के फायदे और लाभ (Yograj Guggulu Benefits in Hindi):

यहाँ निचे हमने योगराज गुग्गुलु के फायदे (Yograj Guggulu Benefits in Hindi) के बारे में बताया है, जिसे आपको जानना चाहिए-

योगराज गुग्गुलु के फायदे, योगराज गुग्गुलु के उपयोग, योगराज गुग्गुलु की खुराक,  योगराज गुग्गुलु के नुकसान, Yograj Guggulu Ke Fayde, Yograj Guggulu Ka Upyog, Yograj Guggulu Ki Khurak, Yograj Guggulu Ke Nuksan, Yograj Guggulu Benefits in Hindi, Yograj Guggulu Uses in Hindi, Yograj Guggulu Dose in Hindi, Yograj Guggulu Side Effects in Hindi,
योगराज गुग्गुलु के फायदे, उपयोग, खुराक और नुकसान (Yograj Guggulu Benefits, Uses, Dose And Side Effects in Hindi)

1. अच्छे पाचन के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Good Digestion in Hindi):

  • कब्ज को कम करता है।
  • भूख वापस पाने में मदद करता है।
  • यह पाचन में सहायता करता है और शरीर में पाचन प्रक्रिया और चयापचय गतिविधियों को ठीक करता है।
  • अपच को ठीक करने में मदद करता है।
  • इर्रीटेबल आंत्र सिंड्रोम (IBS) के लक्षणों को कम करता है।
  • यह बिना पचे भोजन के कारण शरीर में विकसित विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में सहायता करता है।
  • सूजन के प्रभाव को कम करता है।
  • गैस के गठन को कम करता है।

(यह भी पढ़े – त्रिफला गुग्गुल के फायदे, उपयोग और नुकसान (10 Effective Triphala Guggul Benefits in Hindi))

2. मांसपेशियों, हड्डियों और जोड़ों के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Muscles, Bones and Joints in Hindi):

  • रूमेटोइड गठिया को ठीक करता है।
  • जोड़ों की कठोरता को कम करता है।
  • अकडन के साथ पीठ दर्द के प्रभाव को कम करता है।
  • मांसपेशियों की ऐंठन को ठीक करने में मदद करता है।

3. तंत्रिका और मस्तिष्क के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Nerve and Brain in Hindi):

  • मिर्गी के प्रभाव को कम करता है।
  • साइटिका के प्रभाव को कम करता है।
  • अवसाद (डिप्रेशन) के प्रभावों को ठीक करने में मदद करता है।

4. हृदय और रक्त के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Heart and Blood in Hindi):

  • उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।
  • रक्त को शुद्ध रखने में मदद करता है।

(यह भी पढ़े – पाइल्स के लिए पतंजलि मेडिसिन [3 Effective Patanjali Medicine For Piles in Hindi])

5. श्वसन के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Respiration in Hindi):

  • अस्थमा को ठीक करने में मदद करता है।
  • कफ के उत्पादन के प्रभाव को कम करता है।

6. वात और कफ दोषों के लिए योगराज गुग्गुलु के फायदे (Benefits of Yograj Guggulu For Vata and Kapha Doshas in Hindi):

  • यह वात और कफ दोषों को कम करता है।
  • उचित व्यायाम और आहार के साथ वजन घटाने के लिए एक प्रभावी सहायक है।

(यह भी पढ़े – Follihair Tablet Uses & Side Effects in Hindi [All in 1 Full Guide])

योगराज गुग्गुलु के उपयोग (Yograj Guggulu Uses in Hindi):

योगराज गुग्गुलु टेबलेट्स का इस्तेमाल इन निम्नलिखित रोगों में सहायक है, जिन्हें यहाँ निचे बताया गया है:-

  • जकड़न के साथ पीठ दर्द
  • संयुक्त कठोरता के साथ गठिया
  • कब्ज
  • जोड़ो का अकड़ जाना
  • मांसपेशियों में ऐंठन
  • रूमेटाइड गठिया
  • सूजन
  • पेट फूलना
  • खट्टी डकार
  • इर्रिटबेल आंत्र सिंड्रोम (आईबीएस)
  • उदर विस्तार
  • मिरगी
  • फाइब्रोमाइल्जिया
  • पक्षाघात या हेमिप्लेजिया
  • महिला बांझपन
  • कटिस्नायुशूल तंत्रिका दर्द
  • स्प्रू
  • कष्टार्तव (दर्दनाक अवधि)
  • प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (पीएमएस)
  • एनोरेक्सिया
  • जोड़ों के रोग
  • चर्म रोग
  • बवासीर
  • मधुमेह
  • नासूर
  • दुर्बलता
  • दमा, सर्दी और खांसी आदि।

योगराज गुग्गुलु की खुराक (Yograj Guggulu Dose in Hindi):

योगराज गुग्गुलु की खुराक रोग और व्यक्तिगत आवश्यकता के अनुसार भिन्न होती है। आम तौर पर, 500 मिलीग्राम से 1000 मिलीग्राम दिन में दो बार ज्यादातर मामलों में एक उपयुक्त खुराक है। कुछ मामलों में, आपका डॉक्टर आपको इसे अधिक मात्रा में लेने की भी सलाह दे सकता है, जो 2 ग्राम दिन में दो या तीन बार हो सकता है। कुल खुराक प्रति दिन 6 ग्राम से अधिक कभी भी न लें।

(यह भी पढ़े – पेट में गैस की आयुर्वेदिक दवा और इलाज [Ayurvedic Medicine And Treatment For Stomach Gas in Hindi])

योगराज गुग्गुलु कब खाएं और कब नहीं खाएं (When To Eat Yograj Guggulu And When Not in Hindi):

आयु वर्गदिन में कितनी बार लेंकितनी खुराक लेंखाने के बाद लें या पहलें लेंअधिकतम मात्रा
शिशु (1 महीने से 2 वर्ष)2 बार निर्धारित खुराक लेंखाने के बाद 1 टेबलेट
बच्चे (2 वर्ष से 12 वर्ष)2 से 3 बारनिर्धारित खुराक लेंकभी भी 2 टेबलेट
व्यस्क2 से 3 बारनिर्धारित खुराक लेंकभी भी2 टेबलेट्स
बुजुर्ग2 से 3 बारनिर्धारित खुराक लेंकभी भी2 टेबलेट्स
योगराज गुग्गुलु की खुराक (Yograj Guggulu Dose in Hindi)

अगर आपको इसे लेने में खराब स्वाद लगे तो आप इस आयुर्वेदिक दवा को शहद के साथ ले सकते है।

योगराज गुग्गुलु की पैकिंग और कंपनी के नाम (Yograj Guggulu Packing & Company Name in Hindi):

  • योगराज गुग्गुलु एक आयुर्वेदिक दवा है, जिसे कई कंपनी बनाती है। जैसे- पतंजलि, हिमालया, बैधनाथ, दिव्य, डाबर और उंझा आदि।
  • यह आपको 40mg से लेकर 500mg तक की पैकिंग तक बाजार में आसानी से मिल सकता है।

योगराज गुग्गुलु कहां से खरीदें? (Where To Buy Yograj Guggulu in Hindi):

अगर आप योगराज गुग्गुलु खरीदने की सोच रहे है, तो आप इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह खरीद सकते है, जो आपको ऑनलाइन कई वेबसाइट पर मिल जाएगी। और अगर आप इसे ऑफलाइन खरीदना चाहते है, तो आप इसे अपने नजदीकी आयुर्वेदिक दवाखाना से खरीद सकते है। इसे खरीदते समय अपने आयुर्वेदिक डॉक्टर से इसकी नियमित खुराक के बारे में अवश्य जानकारी लें लें और उन्हें यह भी पूछ लें की क्या आप इन योगराज गुग्गुलु टेबलेट्स का सेवन कर सकते है या नहीं।

योगराज गुग्गुलु के दुष्प्रभाव और नुकसान (Side effects and harms of Yograj Guggulu in Hindi):

योगराज गुग्गुलु ज्यादातर लोगों के लिए संभवतः सुरक्षित है जब एक आयुर्वेदिक चिकित्सक की देखरेख में इसकी उचित खुराक ली जाएँ। यह कुछ संवेदनशील लोगों में कुछ दुर्लभ दुष्प्रभाव पैदा कर सकता है, जिन्हें यहाँ निचे हमने बताये है-

  • इसकी अधिक मात्रा लेने से एसिडिटी और नाराज़गी हो सकती है।
  • पेट में जलन (यह तभी होता है जब योगराज गुग्गुलु की खुराक 6 ग्राम प्रतिदिन से अधिक हो।)
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसके सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें लेनी चाहिए।
  • एलर्जी की प्रतिक्रिया, यह तब हो सकता है जब आपको इसमें मौजूद किसी भी घटक से एलर्जी हो।

आशा है की आपको इस लेख द्वारा योगराज गुग्गुलु के फायदे, उपयोग, खुराक और नुकसान (Yograj Guggulu Benefits, Uses, Dose And Side Effects in Hindi) के बारे में जानकारी मिल गयी होगी।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख त्रिफला गुग्गुल के फायदे और नुकसान – Yograj Guggulu Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Yograj Guggulu Uses, Benefits And Side Effects in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी त्रिफला गुग्गुल के फायदे और नुकसान – Yograj Guggulu Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Yograj Guggulu Uses, Benefits And Side Effects in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई त्रिफला गुग्गुल के फायदे और नुकसान – Yograj Guggulu Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Yograj Guggulu Uses, Benefits And Side Effects in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी त्रिफला गुग्गुल के फायदे और नुकसान – Yograj Guggulu Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Yograj Guggulu Uses, Benefits And Side Effects in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!