बच्चों के लिए योग और फायदे (12 Effective Yoga For Kids in Hindi)

बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga For Kids in Hindi) : माता-पिता के रूप में, हम हमेशा अपने बच्चों के लिए शारीरिक और मानसिक विकास के बारे में चिंतित रहते हैं। हम अलग-अलग शारीरिक गतिविधि जैसे कि डांस और तैरना सिखाते हैं, इसमें कोई शक नहीं है कि वे सभी हमारे बच्चों के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं। परन्तु योग भी हमारे बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं।

इसमें कोई शक नही है की योग हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है और योग के क्या क्या फायदे है, इस लिए हमे खुद और अपने बच्चों को योग जरुर सिखाना चाहिए, इस लेख में हम बच्चों के लिए योगासन बतायेंगे जो बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए अति महत्वपूर्ण है।

एक बच्चे को इसका अभ्यास शुरू करने के लिए योग कौशल की आवश्यकता नहीं होती है। उन्हें बस शुरुआत करनी है, और योग उनके जीवन का एक तरीका बन जाएगा। यह उन्हें सक्रिय रखता है, उनके शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को संतुलित करता है और उन्हें उनके जीवन पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है।

विषय सूची :

बच्चों के लिए योग के लाभ क्या हैं? (Benefits Of Yoga For Kids in Hindi):

योग एक प्रदर्शन है जो किसी व्यक्ति के शारीरिक, आध्यात्मिक और भावनात्मक पहलुओं को एकजुट करने की क्षमता सिखाता है और उन्हें आंतरिक शांति और मन: स्थिति तक पहुंचने में मदद करता है।

कम उम्र में बच्चों को योग सिखाना, शुरू करना एक अच्छा विचार है, क्योंकि यह न केवल उनकी शारीरिक वृद्धि बल्कि उनकी भावनात्मक और समग्र भलाई के लिए भी फायदेमंद है। यह बच्चों को पारस्परिक संबंधों, तनाव प्रबंधन और दिमाग की समझ, कौशलता विकसित करने में मदद करता है जो उनके वयस्कता में उपयोगी हो सकता है।

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga For Kids in Hindi)

(यह भी पढ़े – शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे (7 Effective Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi))

कई शारीरिक और भावनात्मक समस्याओं से निपटने में योग सहायक हो सकता है। इसे जीवन में संतुलन लाने के लिए एक उपकरण के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। यहां निचे हमने बच्चों के लिए योग के फायदे (Benefits of Yoga for Kids in Hindi) बताए हैं, जिन्हें आपको जानना चाहिए-

  1. योग बच्चों के शरीर के संतुलन, शक्ति और एरोबिक क्षमता में सुधार करता है।
  2. योग से बच्चों की मांसपेशियों के दर्द जैसे पुराने दर्द को कम करने में मदद मिलती है।
  3. यह बच्चों में नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है।
  4. योग कोर्टिसोन जैसे तनाव हार्मोन की रिहाई को कम कर सकता है, और इसलिए, तनाव, चिंता और थकान को कम करने में प्रभावी है।
  5. योग बच्चे के कक्षा व्यवहार, ध्यान और शैक्षणिक प्रदर्शन पर काम करता है।
  6. यह बच्चों में भावनात्मक संतुलन लाकर जीवन की गुणवत्ता में सुधार करता है, क्योंकि योग एक गैर-प्रतिस्पर्धी गतिविधि है।
  7. बच्चों को लचीलापन, मनोदशा और आत्म-नियमन कौशल में सुधार करने में मदद करता है।
  8. योग के आसन रीढ़ के लचीलेपन को बढ़ाने में मदद करता है।
  9. योगासन से कंधे, कलाई, छाती और फेफड़ों की क्षमता में बढ़ावा होता है।
  10. योगासन के अभ्यास से हृदय चक्रों के लिए उत्कृष्ट कार्य और मणिपुर चक्र भी प्रभावी होता हैं।
  11. यह पूरे शरीर में शारीरिक जकड़न को दूर करने में भी प्रभावी आसन है।
  12. यह आपको भावनात्मक के साथ-साथ शारीरिक ऊर्जा भी प्रदान करता है।
  13. योग रक्त परिसंचरण के साथ-साथ प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बेहतर बनाने में मदद करता है।
  14. योगासन से बच्चों की पेट की चर्बी भी कम होती है।

योग करने के असंख्य लाभ हैं। अपने बच्चों को मूल मुद्रा से शुरू करवाएं और उन्हें योग के अभ्यास की सुंदरता का एहसास करवाएं। योग की विभिन्न शैलियाँ हैं, जिनमें शरीर के आसन, साँस लेने के व्यायाम और ध्यान शामिल हैं।

इसलिए, बच्चों को योग सिखाते समय, आप योग गुरु द्वारा उन्हें योग सिखाने पर विचार कर सकते हैं और या शुरू में अपने घर पर ही उनके लिए इसे दिलचस्प बना सकते हैं जिस से उनमे योग के प्रति जागरूकता बने।

एक बार जब आप उन्हें योग में दिलचस्पी देंगे तो वह खुद-ब-खुद योग सिखने को प्रेरित हो जायेंगे हैं, और योग करने पर विचार करेंगे।

आपको अपने बच्चे को यह भी समझाना चाहिए कि वे समय के साथ योग के लाभों को प्राप्त कर सकते हैं, और इसे प्राप्त करने के लिए, उन्हें नियमित रूप से इसका अभ्यास करने की आवश्यकता है।

योग की शुरुआत करने के लिए, यहाँ बच्चों के लिए योगासन (Yoga for Kids in Hindi) बताए गये हैं जो आप अपने बच्चों को सिखाने की कोशिश कर सकते हैं।

बच्चों के लिए योगासन (12 Effective Yoga For Kids in Hindi):

ठीक है, बच्चे, बच्चे हैं इसलिए हम अपने छोटे बच्चों के लिए कुछ आसान और प्रभावी योगा गतिविधि बताने जा रहे हैं और बच्चों को शारीरिक और मानसिक लाभ के लिए प्रीस्कूल द्वारा इस गतिविधि का अभ्यास कराया जा सकता है।

विज्ञान के अनुसार, प्रत्येक व्यक्ति की सीखने की एक अनूठी शैली होती है ताकि आप बच्चों के सीखने के पैटर्न के अनुसार योग अनुक्रम को संशोधित कर सकें।

योग में एक विशाल स्थान या विस्तृत उपकरण की आवश्यकता नहीं होती है। यह सिर्फ एक योग चटाई के साथ बगीचे, घर, या स्कूल में सफलतापूर्वक किया जा सकता है।

नोट : बच्चो को हमेशा एक मार्गदर्शक की तरह ही योग का अभ्यास करवाए या किसी योग गुरु के मार्गदर्शक में भी उन्हें योग की कला सिखाए।

1. बच्चों के लिए योगासन में सुखासन योग फायदेमंद है (Easy Pose / Sukhasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में सुखासन योग फायदेमंद है (Easy Pose / Sukhasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Sukhasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. अपनी योग चटाई पर “आलथी-पालथी” या मुड़े हुए पैरों के साथ आराम से बैठें एवम हाथो को ध्यान मुद्रा में अपने घुटनों पर रख ले।
  2. सुनिश्चित करे की आपकी सिर, गर्दन और रीढ़ की हड्डी पर आप कोई भी तनाव न डाले, और उन्हें सीधा रखें।
  3. अपने दोनों हाथों की हथेलियों को अपने घुटनों पर रखें और ज्ञान मुद्रा में बेठे।
  4. अपने शरीर को ढीला रखते हुए अपनी आँखों को बंद करे और इस पोज में कम से कम 10 मिनट तक बेठे रहे।

(यह भी पढ़े – बवासीर के लिए योग – Bawasir Ke Liye Yoga (9 Effective Yoga For Piles in Hindi))

संभावित लाभ : यह आपके बच्चों के पीठ, जांघों और कूल्हों के लिए अच्छा योग है, यह घुटनों और पैरों को खिंचाव देता है और चिंता और तनाव को कम करने में मदद करता है।

सावधानी : यदि आपके बच्चे के कूल्हे तंग हैं और उन्हें फ्लैट बैठना मुश्किल हो रहा है, तो उन्हें कूल्हों के नीचे एक मुड़ा हुआ कंबल या सॉफ्ट तकिया दें सकते है।

2. बच्चों के लिए योगासन में वृक्षासन योग लाभदायक है (Tree Pose / Vrikshasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में वृक्षासन योग लाभदायक है (Tree Pose / Vrikshasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Vrikshasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. सबसे पहले अपने दोनों हाथों को पीछे रखें और सीधे खड़े हो जाएं।
  2. उसके बाद, अपने दाहिने पैर को उठाएं और बाएं पैर के घुटने के ऊपर रखें।
  3. उसके बाद, सांस ले और साँस छोड़ते हुए अब प्रार्थना की मुद्रा में दोनों हाथों को ऊपर की ओर ले जाएं।
  4. सुनिश्चित करें कि आपकी रीढ़ की हड्डी सीधी हो। साथ ही, आपके शरीर को तना हुआ होना चाहिए, और हर बार जब आप सांस छोड़ते हैं तब एक गहरी सांस लेनी चाहिए।
  5. इस मुद्रा में कम से कम 30 सेकंड से 1 मिनट तक बने रहने की कोशिश करे।
  6. अब इसी पूरी प्रक्रिया को अपने दूसरे पैर से दोहराए।

संभावित लाभ : यह बच्चों के संतुलन और एकाग्रता में सुधार करता है; पैर और छाती को फैलाते हुए जांघ की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है, पिंडलियों और टखनों को मजबूत करता है।

सावधानी : यदि आपका बच्चा अपनी मुद्रा धारण करने की कोशिश करते हुए शुरुआत में अस्थिर हो जाता है, तो आप उन्हें एक दीवार के सहारे या अपनी पीठ के साथ खड़ा कर सकते हैं।

3. बच्चों के लिए योगासन में ताड़ासन योग जरुर सिखाए (Mountain Pose / Tadasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में ताड़ासन योग जरुर सिखाए (Mountain Pose / Tadasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Tadasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. एक साफ और खुली जगह चुनें और योग मैट, दरी या कंबल बिछा कर उस पर खड़े हो जाये।
  2. अब पैरों और कमर को सीधा करके योगा मैट पर खड़े हो जाएं।
  3. सीधे खड़े होकर पैरों के बीच कुछ दूरी रखें।
  4. अपने दोनों हाथों को अपने शरीर के करीब रखें।
  5. अब गहरी सांस लें, अपनी दोनों बाहों को सिर से ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियों को एक साथ बांध लें।
  6. अब अपने हाथ सीधे रखें और स्ट्रेच करें, इस दोरान आपकी हथेलियों की दिशा आकाश की तरफ होनी चाहिए।
  7. अब आपको अपनी एड़ी ऊपर करते हुए अपने पेरो की उंगलियों पर खड़े होना है।
  8. इस दौरान आपके शरीर को पैरों से लेकर हाथों की उंगलियों तक खिंचाव महसूस करना चाहिए।
  9. अब 10 सेकंड तक इस पोजीशन में रहें और सांस लेते रहें।
  10. फिर सांस छोड़ते हुए शुरु की अवस्था में आ जाएं और इस आसन को कम से कम 10 बार जरुर दोहराएं।

(यह भी पढ़े – बालों के लिए योगा – Balo Ke Liye Yoga [9 Effective Yoga For Hair Fall in Hindi])

संभावित लाभ : यह बच्चे के आसन में सुधार करता है। जांघों, पैरों और टखनों को मजबूत करता है; पेट और कूल्हों को दृढ़ करता है; नींद में सुधार करता है।

सावधानी : इस आसन को कोई भी सफलतापुर्वक कर सकता है अतार्थ इस योग की अनुवर्ती के लिए कोई सावधानी नहीं है।

4. बच्चों के लिए योगासन में शवासन योग है अत्यधिक आसान आसन (Corpse Pose / Savasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में शवासन योग है अत्यधिक आसान आसन (Corpse Pose / Savasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Tadasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. शवासन में, बस लेटना होता है। एक कुरसी या चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएँ। जरूरत पड़ने पर अपनी गर्दन के नीचे एक छोटा तकिया रखें। अपनी आँखें बंद करें।
  2. दोनों हाथों को शरीर से कम से कम 4-5 इंच दूर रखें।
  3. अपने पैरों को आराम से फैलाएं, दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखें। दोनों पैरों की अंगुलियां एक दूसरे के विपरीत होनी चाहिए।
  4. हथेलियों को आकाश की ओर रखें और अपने हाथों को शरीर के साथ रखें लेकिन अपने शरीर को न छुएं।
  5. अपना ध्यान धीरे-धीरे शरीर के हर हिस्से पर लगा लें और अपने पूरे शरीर को आराम दें, एवम सम्पूर्ण शरीर को ढीला छोड़ दें।
  6. अपनी आँखें बंद करें। अब थोड़ी सांस लें। धीमी और गहरी सांस लें और हर सांस का आनंद ले। अपने मन में उत्पन्न होने वाली उत्तेजना, जल्दबाजी या किसी भी बात पर ध्यान न दें। बस अपने तन और मन के साथ रहें। अपने पूरे शरीर को पृथ्वी पर समर्पित करें और आराम करें। इस बात का ध्यान रखें कि इस आसन को करते समय आपको नींद न आ जाए।
  7. अब अपना सारा ध्यान अपनी सांसों पर केंद्रित करें।
  8. कम से कम 5 से 10 मिनट के लिए इसी स्थिति में रहें फिर जब आप पूर्णता का अनुभव करते हैं, तो आप धीरे-धीरे अपनी आँखें खोल सकते हैं।
  9. अब उठो और अपने दाहिने हाथ के सहयोग से बैठ जाए।
  10. इस मुद्रा के अंत में सांस लेने पर ध्यान दें। अपने हाथों और पैरों की उंगलियों को हल्के से हिलाना शुरू करें, फिर अपनी कलियों को घुमाएं। अब अपने हाथ ऊपर उठाएं और अपने सम्पूर्ण शरीर को खिचाव या स्ट्रेचिंग दे और धीरे-धीरे उठकर आलथी-पालथी मार कर बैठ जाएं।

संभावित लाभ : यह बच्चों में हृदय गति और रक्तचाप को कम रखता है; मांसपेशियों का तनाव कम करता है; कम चयापचय दर को सही करता है; अनिद्रा, चिंता और थकान को कम करने में मदद करता है; उत्पादकता, स्मृति और एकाग्रता में सुधार करता है।

सावधानी : अक्सर, शरीर ठंडा हो जाता है, और इस आसन को करने के बाद व्यक्ति अपेक्षाकृत ठंडा महसूस कर सकता है। अपने बच्चे को स्वेटर या एक जोड़ी मोज़े पहनाए, यदि उन्हें ठंड लगती है।

5. सेतुबंधासन बच्चों के लिए योगासन में लाभदायक है (Bridge Pose / Setu Bandhasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
सेतुबंधासन बच्चों के लिए योगासन में लाभदायक है (Bridge Pose / Setu Bandhasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Tadasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. सेतुबंधासन करने के लिये सबसे पहले एक योग चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएं।
  2. अपने घुटनों को मोड़ें।
  3. घुटनों और पैरों को सीधी रेखा में रखते हुए दोनों पैरों को एक-दूसरे से थोड़ा गैप रखते हुए फैलाएं।
  4. हाथों को शरीर से सटाकर रखें और हाथों की हथिलियो को जमीन पर सटा कर रखे।
  5. धीरे-धीरे साँस लेते हुए, अपनी पीठ के निचले, मध्य और ऊपरी हिस्सों को धीरे से जमीन से ऊपर उठाएं।
  6. धीरे-धीरे अपने कंधों को अंदर की ओर ले जाएं।
  7. अपनी ठोड़ी को हिलाए बिना, अपनी ठोड़ी के साथ अपनी छाती लगाएं और अपने वजन के साथ अपने कंधों, हाथों और पैरों का समर्थन करें। इस दौरान निचले शरीर को स्थिर रखें और ध्यान रहे की इस दौरान दोनों जांघें एक साथ रहेंगी।
  8. यदि आप चाहें तो इस समय के दौरान, आप अपने ऊपरी शरीर को जमीन पर हाथों से दबाकर उठा सकते हैं। आप अपने हाथों से अपनी कमर का सहारा भी ले सकते हैं।
  9. साँस छोड़ते हुए आसन को 1-2 मिनट तक करें फिर आसन को समाप्त करे।

(यह भी पढ़े – गैस के लिए योगा [Gas ke Liye Yoga (12 Effective Yoga For Gas Problem in Hindi])

संभावित लाभ : स्ट्रेच और कंधों, जांघों, कूल्हों और छाती के हिस्से को खोलता है; पीठ और हैमस्ट्रिंग को मजबूत करता है; रीढ़ की लचीलेपन को बढ़ाता है

सावधानी : यदि आपका बच्चा श्रोणि को फर्श से उठाने में कठिनाई का सामना करता है, तो उसके श्रोणि को आराम देने के लिए तकिए का प्रयोग करें। किसी भी प्रकार के गर्दन या कंधे के दर्द के मामले में, एक पेशेवर से राय लें कर ही इसका अभ्यास करे।

6. बच्चों के लिए योगासन में बालासन योग है फायदेमंद (Child Pose / Balasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में बालासन योग है फायदेमंद (Child Pose / Balasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Balasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. बालासन की मुद्रा करने के लिए अपनी योग चटाई पर बैठें।
  2. वज्रासन में अपने घुटनों के बल बैठ जाएं। इस मुद्रा में, अपने हाथो को जांघों पर रखे।
  3. अपने पैरों के दोनों घुटनों को एक दूसरे से या थोड़ी दूरी पर एक-दूसरे से चिपका कर रखें और कमर को बिल्कुल सीधा रखें।
  4. अब सांस लें, दोनों हाथों को सीधे सिर से ऊपर उठाएं। हथेलियों को न जोड़ें।
  5. अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें। ध्यान रखें कि कूल्हे के जोड़ों को झुकाना है, कमर के जोड़ों को नहीं।
  6. जब तक आपकी हथेलियां जमीन को न छुएं तब तक आगे झुकते रहें।
  7. अब सिर को जमीन पर ले जाएं।
  8. अब आप जिस मुद्रा में है वह बालासाना/बच्चे की मुद्रा हैं, अब पूरे शरीर को रिलैक्स करने दे और फिर एक गहरी सांस लें और उसे छोड़े।
  9. दोनों हाथों की उंगलियां कसकर जोड़ ले। आपको उनके बीच में अपना सिर रखकर उनका सहारा देना होगा।
  10. अब सिर को धीरे-धीरे दोनों हथेलियों के बीच में रखें एवम अपनी सांस को सामान्य रखें।
  11. अब आप 1 से 5 मिनट तक बालसन/बच्चे की मुद्रा में रह सकते है।
  12. इस आसान से बाहर निकलने के लिए, सबसे पहले, अपनी हथेलियों को कंधे के नीचे लाएं और धीरे-धीरे अपने ऊपरी शरीर को उठाएं और पिछली स्थिति में वापस आ जाएं और आराम से सांस लें। इन सभी क्रियाओं को आराम से करें।

संभावित लाभ : इस आसन से बच्चों के शरीर को स्ट्रेच मिलता है और यह कूल्हों, जांघों और आंतरिक कमर को खोलता है; रीढ़ को लम्बा खींचता है; बाजुओं और कंधों को मजबूत बनाता है।

सावधानी : यदि आपके बच्चे के घुटने या टखने में कोई चोट है, तो इस मुद्रा को करने से पहले डॉक्टर से जाँच करवाएं।

7. बच्चों के लिए योगासन में वीरासन है जरुरी (Hero Pose / Veerasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में वीरासन है जरुरी (Hero Pose / Veerasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Veerasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. वीरासन करने के लिए आप सबसे पहले किसी स्थान पर योगा मैट बिछा कर घुटनों के बल बैठ जाएं।
  2. सुनिश्चित करें कि आपके घुटने आपके कूल्हों के ठीक नीचे हैं।
  3. अब अपने हाथों को सीधा करके घुटनों पर रखें।
  4. अपने पैर की उंगलियों को बाहर की ओर रखें।
  5. अब धीरे-धीरे, अपने पैरों को घुटनों के करीब लाने की कोशिश करें।
  6. यदि संभव हो, तो दोनों घुटने एक दूसरे के साथ स्पर्स कराने की कोशिश करें।
  7. आपको जितना संभव हो सके उतना अपने दोनों घुटनों को एक दुसरे से मिलाने की कोशिश करनी है।
  8. अब पैरों को पीछे से धीरे-धीरे बहार की ओर खोलने की कोशिश करें।
  9. दोनों पैरों के बीच एक दूरी होनी चाहिए, यह दूरी आपके कूल्हों की चौड़ाई से अधिक होनी चाहिए।
  10. अब अपने हिप्स या कुल्हों को धीरे धीरे निचे जमीन पर लगाने की कोशिश करें।
  11. यदि आपको शुरुआत में अपने कूल्हों को जमीन पर रखने में कठिनाई होती है तो आप अपने कूल्हों के नीचे एक छोटे तकिया का उपयोग कर सकते हैं।
  12. अपनी नाभि को भीतर की तरफ खींचें और शरीर को पूरी तरह से शांत रखें।
  13. अब आंखें बंद करके ध्यान करने की कोशिश करें और गहरी सांसें लें और छोडें।
  14. अब आपको कम से कम 30 सेकंड के लिए इस मुद्रा में रहने का प्रयास करना है।
  15. आप 3 से 5 बार वीरासन का अभ्यास कर सकते हैं।

(यह भी पढ़े – पेट कम करने के योगासन [Pet Kam Karne Ke Yogasan (13 Effective Yoga For Reduce Belly Fat in Hindi)])

संभावित लाभ : रीढ़, क्वाड्रिसेप्स और कंधों को स्ट्रेच करता है; रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और पैरों के दर्द की थकान से राहत देता है; पाचन और मुद्रा में सुधार करता है।

सावधानी : यदि योग की चटाई पर आपका बच्चा आराम से नहीं बैठ पाता हैं, तो उनके कुल्हो के बीच में कम्बल का उपयोग करें।

8. बच्चों के लिए योगासन में भुजंगासन जरुर करवाए (Cobra Pose / Bhujangasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में भुजंगासन जरुर करवाए (Cobra Pose / Bhujangasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Bhujangasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. सबसे पहले योग मेट बिछा कर उस पर पेट के बल लेट जाएं।
  2. अपने पैरों को उंगलियों के बल टिका लें या पैर के तलवो को उपर छत की ओर करके रखें।
  3. अपने पैरों को एकसाथ सीधा और खुला रखें।
  4. हाथों की हथेलियों को छाती के पास कंधों या सिर के दोनों तरफ रखें।
  5. अपने मस्तक या माथे को जमीन पर सीधा रखें।
  6. अब आपको एक गहरी सांस लेते हुए, अपने ऊपरी शरीर को ऊपर की ओर उठाना है।
  7. आपको पहले सिर, फिर छाती और अंत में नाभि तक के क्षेत्र को ऊपर उठाना होगा।
  8. इसके लिए अपनी हाथों की हथेलियों को अपने कंधों के बराबर रखते हुए, हाथों से जमीन की ओर दबाव डाल कर नाभि तक के शरीर को ऊपर उठाने का प्रयास करें।
  9. अब दोनों हाथों को सीधा करें और गर्दन उठाते हुए आकाश की ओर देखने का प्रयास करें और 15-30 सेकेंड के लिए इसी स्थिति में रहें।
  10. अपने शरीर का भार दोनों हाथों पर बराबर बना कर रखें और सामान्य रूप से सांस लेते रहें।
  11. ध्यान रहे की आपके पेट या नाभि से नीचे शरीर का सारा हिस्सा जमीन से नहीं उठना चाहिए।
  12. आराम से पीठ को जितनी मोड़ सकें उतनी ही मोड़ें, जबरदस्ती या क्षमता से ज़्यादा जोर ना लगाए।
  13. अब धीरे-धीरे अपनी सांस छोड़ें और अपनी प्रारंभिक अवस्था में लौट आएं।

संभावित लाभ : रीढ़ को मजबूत करता है; छाती, कंधे, पेट और नितंबों को फैलाता है; पेट के अंगों को उत्तेजित करता है और थकान और तनाव को दूर करता है; अस्थमा जैसी श्वास समस्याओं के प्रबंधन के लिए अच्छा हो सकता है।

सावधानी : अपने बच्चे को पीठ उतना ही उठाने के लिए कहें जितना उसका शरीर कर सकता है। हर बच्चे में अलग लचीलापन होता है, इसलिए उन्हें इसे धीमी गति से करने दें।

9. बच्चों के लिए योगासन में मार्जरी आसन है फायदेमंद (Cat Pose / Marjariasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में मार्जरी आसन है फायदेमंद (Cat Pose / Marjariasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Marjariasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. मार्जरी आसन करने के लिए सबसे पहले फर्श पर योग चटाई बिछाकर अपने दोनों घुटनों पर बैठ जाएं।
  2. अब अपने दोनों हाथों को फर्श पर आगे रखें।
  3. अपने दोनों हाथों पर थोड़ा वजन डालते हुए अपने कूल्हों को ऊपर उठाएं।
  4. अपनी जांघों को ऊपर की ओर सीधा करें और पैरों के घुटनों तक 90 डिग्री का एंगल बनाएं।
  5. इस मामले में आपकी चेस्ट फर्श के समानांतर होगी और आपका पोज एक बिल्ली की तरह दिखाई देगा।
  6. अब आप एक लंबी साँस लेते हुए और अपने सिर को पीछे की ओर झुकाएं, और अपने पेट को नीचे से ऊपर की ओर ले जाये और रीढ़ की हड्डी का निचला हिस्सा ऊपर की और उठाएं।
  7. अब सांस छोड़ते हुए अपने सिर को नीचे की ओर झुकाएं और अपने मुंह की ठोड़ी को अपनी छाती पर लगाने की कोशिश करें।
  8. इस पोजीशन में घुटनों के बीच की दूरी का ध्यान रखे और ध्यान रखें कि इस आसन को करते समय आपके हाथो की कोहनी मोड़ने ना पाए।
  9. अपनी सांस को लंबी और गहरी रखते हुए अपने सिर को पीछे की ओर घुमाएं और इस प्रक्रिया को दोहराएं। आपको इस क्रिया को 15-20 बार दोहराना चाहिए।

संभावित लाभ : रीढ़, गर्दन, धड़ और पेट के अंगों को आराम और फैलाने में मदद करता है।

सावधानी : यदि आपका बच्चा अपनी ऊपरी पीठ को गोल करते समय कठिनाई का सामना करता है, तो समर्थन के लिए कंधे के ब्लेड के ऊपर और उसके बीच एक हाथ रखें और सहारा दे।

10. बच्चों के लिए योगासन में धनुरासन योग (Bow Pose / Dhanurasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में धनुरासन योग (Bow Pose / Dhanurasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Dhanurasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. धनुरासन करने के लिए, सबसे पहले, एक साफ हवादार जगह चुनें।
  2. उसके बाद अपनी योग चटाई बिछाकर पेट के बल लेट जाएं। अपने नितंबों के बीच गैप रखें और दोनों हाथों को सीधा रखें।
  3. अपने घुटनों को मोड़ते हुए सांस छोड़ें, अपनी एड़ी को अपने नितंबों के जितना करीब लाएं। और धनुषाकार होते हुए, अपनी एड़ियों को अपने हाथों से पकड़ें।
  4. अब अपनी छाती को सांस लेते हुए जमीन से ऊपर ले जाएं।
  5. अब पैरों को थोड़ा और ऊपर उठाएं और सांस लेते हुए अपनी एड़ियों को हाथ से खींचने की कोशिश करें।
  6. इस दौरान, आपके घुटने आपके कूल्हों की चौड़ाई से अधिक चौड़े नहीं होते हैं।
  7. एड़ियों को खींचते समय पेट के वजन का संतुलन बनाए रखें और सिर को बिल्कुल सीधा रखें।
  8. आपके शरीर के लचीलेपन के आधार पर, आप अपने शरीर को आगे बढ़ा सकते हैं।
  9. इस धनुषाकार मुद्रा का प्रदर्शन करते हुए सांस लेने और छोड़ने पर ध्यान दें।
  10. जब तक संभव हो इस स्थिति में रहें।
  11. प्रारंभिक अवस्था में वापस आने के लिए, धीरे-धीरे शरीर की मांसपेशियों को ढीला छोड़े और अपनी नितंबों और जांघों को जमीन की ओर लाएं।
  12. अब शरीर के सामने के हिस्से को जमीन पर लाएं।
  13. इसके बाद, दोनों हाथों से एड़ी को छोड़ दें और अपनी प्रारंभिक अवस्था में आ जाएं।

(यह भी पढ़े – कब्ज के लिए योग [8 Effective Yoga For Constipation in Hindi])

संभावित लाभ : पीठ, कंधे, छाती और पैर को मजबूत और टोन बनाता है; कूल्हे में लचीलापन लाता है, और पाचन तंत्र को नियंत्रित करता है।

सावधानी : धनुरासन मुद्रा में स्ट्रेचिंग का एक बड़ा हिस्सा शामिल होता है, इसलिए यदि आपका बच्चा पीठ के निचले हिस्से में भारी महसूस करता है, तो मुद्रा को तब तक कम रखें जब तक वह खिंचाव के लिए आरामदायक न हो। टखनों को पकड़ने और शरीर को उठाने में उनकी मदद करें। 

11. बच्चों के लिए योगासन में नावासन योग जरुर सिखाए (Boat Pose / Navasana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में नावासन योग जरुर सिखाए (Boat Pose / Navasana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Navasana Yoga For Kids in Hindi):

  1. सबसे पहले, आपको पीठ के बल लेटने की जरूरत है।
  2. श्वास लें और अपने शरीर को 30 डिग्री तक ऊपर उठाएं ताकि आप आसानी से आँखों से पैर की उंगलियों को देख सकें।
  3. हथेलियों को जांघों पर रखें।
  4. यथासंभव लंबे समय के लिए इस विशेष मुद्रा में बने रहें।
  5. प्रारंभ में, आप इसे 20 सेकंड के लिए कर सकते हैं और फिर अपना समय 2 मिनट तक बढ़ा सकते हैं।
  6. सुनिश्चित करें जब आप इस मुद्रा को बनाए रखते हैं, तो नाभि क्षेत्र में खिंचाव महसूस होना चाहिये।
  7. अब गहरी सांस छोड़ते हुए और आराम करते हुए शरीर को नीचे लाएं।
  8. श्वास और श्वास को धीरे-धीरे छोड़ें जब आप मुद्रा बनाए रखें।

संभावित लाभ : यह बच्चों में कोर, हाथ की मांसपेशियों, कंधों और जांघों को मजबूत करता है; यह लीवर और गुर्दे के लिए बहुत अच्छा है; कब्ज को कम करने में मदद करता है और पाचन समस्याओं को कम करता है।

सावधानी : यदि आपका बच्चा किसी पुरानी बीमारी या रीढ़ की हड्डी की समस्याओं से पीड़ित है, तो इस मुद्रा से बचें।

12. बच्चों के लिए योगासन में तितली आसन है लाभदायक [Butterfly Pose / Titli Asana Yoga For Kids in Hindi):

बच्चों के लिए योगासन - baccho ke liye yoga – Yoga For Kids in Hindi
बच्चों के लिए योगासन में तितली आसन है लाभदायक [Butterfly Pose / Titli Asana Yoga For Kids in Hindi)

कैसे करे (Steps To Do Titli Asana Yoga For Kids in Hindi):

  1. अपनी योग चटाई बिछाकर उस पर दंडासन में बैठे।
  2. फिर अपने घुटनों को मोड़ें और पैरों के तलवों को एक दूसरे से मिलायें, और आप से जहाँ तक संभव हो अपनी एडियों को शरीर के करीब ले जायें।
  3. जांघ की मांसपेशियों को पूरी तरह से आराम दें और अपने हाथों के साथ-साथ अपने पैरों को पकड़ें।
  4. गहरी सांस लें। साँस छोड़ते हुए, अपने घुटनों को ऊपर-नीचे करें। जरूरत पड़ने पर घुटनों को दबाने के लिए कोहनी का इस्तेमाल करें।
  5. अब दोनों पैरों को तितली के पंखों की तरह ऊपर-नीचे करना शुरू करें।
  6. घुटनों को नीचे ले जाते समय जमीन को छूने की कोशिश करें। लेकिन ध्यान रखें कि ऐसा करने के लिए बल प्रयोग न करें।
  7. 30 से 50 बार टांगो को ऊपर निचे करें / लगभग दो से पांच मिनट के लिए इस मुद्रा को करें।

संभावित लाभ : यह आसन जांघों, घुटनों और कूल्हों को अच्छा स्ट्रेच देता है; आंत और आंत्र आंदोलन को नियंत्रित करता है; लड़कियों के लिए, आसान और दर्द रहित मासिक धर्म में मदद करता है।

सावधानी : यदि आपके बच्चे के घुटने या कमर में चोट है, तो दर्द को रोकने के लिए जांघों के नीचे एक कंबल रखें।

योग की दैनिक दिनचर्या आपके बच्चे को अधिक अनुशासित और उनकी गतिविधि पर ध्यान केंद्रित करेगी और उन्हें तनाव का सामना करने की ताकत देती है।

शुरू में अभ्यास करने के लिए एक या दो योग अपने बच्चों के साथ शुरू करें, और फिर आप उन्हें अधिक से अधिक प्रयास करने को प्रेरित कर सकते हैं क्योंकि उन्हें अभ्यास करने की खुद-ब-खुद आदत हो जाएगी और वो योग के प्रति जागरूक होकर अनेको योगो को करने के बारे में सोचेंगे।

आशा है इन सभी योगासनों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yogasan (Yoga for Kids in Hindi) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga for Kids in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga for Kids in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga for Kids in Hindi) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी बच्चों के लिए योगासन – Bachho Ke Liye Yoga (Yoga for Kids in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!