शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे (7 Effective Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) : योग या हठ योग दुनिया की सबसे पुरानी योग शैली में से एक है। यह प्राचीन काल में योगियों और ऋषियों द्वारा हठ योग का अभ्यास किया जाता था। लेकिन अब यह धीरे-धीरे लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हो गया है।

योग में, शरीर पर निर्भर विभिन्न प्रकार के आसन, प्राणायाम के आधार पर विभिन्न प्रकार के प्राणायाम, और इन दोनों के मिश्रण से (शरीर, प्राण) विभिन्न प्रकार की मुद्राएँ, किर्या, और अन्य गतिविधियाँ की जाती हैं और ध्यान भी किया जाता है।

विषय सूची :

योग या हठ योग क्या है? (What is Yoga in Hindi):

हठ योग दो शब्दों हा और थ से बना है जहाँ हा का अर्थ है सूर्य और था का अर्थ है चंद्रमा और योग का योग दोनों का संयोजन है। हठ योग का अर्थ है आपके शरीर में सूर्य और चंद्रमा को संतुलित करना। सूर्य और चंद्रमा के एक साथ संतुलन की स्थिति को हठ योग कहा जाता है।

दूसरे शब्दों में, जिस योग को बलपूर्वक किया जाता है, अपनी सारी शक्ति का उपयोग करते हुए, उसे ” हठ योग ” कहा जाता है।

योग जीवन जीने का एक बहुत शक्तिशाली तरीका है जिसमें योग के ऐसे आसनों या योगासनों का उपयोग किया जाता है। इसका अभ्यास करने से व्यक्ति जीवन के सोचने, महसूस करने और अनुभव करने के तरीके को बदल और बढ़ा सकता है।

यह एक वैज्ञानिक विधि है जो योग की विभिन्न शाखाओं को एकजुट करती है और किसी व्यक्ति के जीवन में सद्भाव लाती है। योग का नियमित अभ्यास अच्छे स्वास्थ्य और शक्ति प्राप्त करने में मदद करता है।

हठ योग का इतिहास (History Of Yoga in Hindi):

माना जाता है कि यह योग शैली हजारों वर्षों से भी पुरानी है। लेकिन कोई लिखित तथ्य नहीं है कि इसका अभ्यास कब से किया जा रहा था।

शैववाद हठ योग अभ्यास की मुख्य धारा है। हठ योग के संस्थापक योगी मत्स्येन्द्रनाथ नाथ संप्रदाय के योगियों से जुड़े हैं। और इसका श्रेय मत्स्येन्द्रनाथ के शिष्य गोरखनाथ या गोरक्षनाथ को दिया जाता है। शैव धर्म के अलावा, बौद्धों ने भी इस योग को अपनाया है।

कुछ मान्यताओं के अनुसार, यह योग सबसे पहले भगवान शिव द्वारा किया गया था। योग की इस शैली को भारतीय योग की सबसे पुरानी विधा माना जाता है और कई सदियों से भारत के योगियों द्वारा इसका अभ्यास किया जाता है।

योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

हठ योग के फायदे और लाभ (Yoga Benefits in Hindi):

हठ योग ने इन दिनों में काफी लोकप्रियता हासिल कर ली है। बहुत से लोग योग के लाभों को जानते हैं। योग की इस शैली से आपका वजन कम, एक मजबूत और लचीला शरीर, शक्ति, लचीलापन और संतुलन, सुंदर चमकती त्वचा, शांतिपूर्ण दिमाग, अच्छा स्वास्थ्य – जो भी आप चाहते हैं, बढ़ता है। यह न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक स्वास्थ्य को भी बढ़ावा देता है। नियमित अभ्यास से, आप हठ योग के स्वास्थ्य फायदे और लाभ भी प्राप्त कर सकते हैं।

(यह भी पढ़े – मंडूकासन करने का तरीका और फायदे [Mandukasana (Frog Pose) Steps And Benefits in Hindi])

शारीरिक स्वास्थ्य के लिए हठ योग के फायदे और लाभ (Benefits Of Yoga in Hindi):

योग की यह शैली कई शारीरिक स्वास्थ्य फायदे और लाभ प्रदान करते है। यहाँ निचे हमने स्वास्थ्य के लिए योग के फायदे और लाभ बताये है, जिन्हें आपको जानना चाहिए।

1. हठ योग के फायदे शक्ति, लचीलापन और संतुलन बढ़ाते है (Benefits of Yoga Increase Strength, Flexibility and Balance in Hindi):

योग की यह शैली शक्ति, लचीलापन और संतुलन को बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। यह आपकी मांसपेशियों के लिए अच्छा काम करता है। वे आपको बेहतर ढंग से आगे बढ़ने और आनंदमय या कम थका हुआ महसूस करने में मदद कर सकते हैं। हठ योग के फायदे आपके शरीर में शक्ति, लचीलापन और संतुलन बढ़ाने में सहायक है।

2. हठ योग के फायदे वजन घटना में मदद करते है (Benefits of Yoga Help in Weight Loss in Hindi):

वजन घटाने के लिए हठ योग के फायदे – हाथ योग के बारे में एक मुख्य बात यह है कि यह एक एरोबिक व्यायाम होता है जो मध्यम गति के साथ किया जाता है, जो की वजन घटाने में बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। यह न केवल शरीर में जमे वसा को कम करता है बल्कि शरीर को लचीला बनाता है ताकि आप स्वस्थ रहें।

3. हठ योग के फायदे सुंदर चमकती त्वचा प्रदान करते है (Benefits of Yoga Provide Beautiful Glowing Skin in Hindi):

त्वचा की चमक बढ़ाने के लिए लोग कई तरह के उत्पादों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कुछ हठ योग आसन हैं जिनका उपयोग त्वचा की चमक बढ़ाने या नियमित अभ्यास से त्वचा की टोन में सुधार करने के लिए किया जा सकता है। त्वचा की चमक बढ़ाने के लिए आप इन योग का अभ्यास कर सकते है– सर्वंगासना, त्रिकोणासन, धनुरासन आदि।

योग की यह शैली उचित रक्त परिसंचरण को प्रोत्साहित करती है। और, बदले में यह, त्वचा में सुधार करता है क्योंकि यह कोशिकाओं को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है।

4. हठ योग के फायदे दर्द को कम करते है (Benefits of Yoga Reduce Pain in Hindi):

वर्षों से, कई शोध और अध्ययनों ने साबित किया है कि दर्द से राहत के लिए हठ योग काफी प्रभावी होता है। यह सांस नियंत्रण और ध्यान को जोड़ती है और मांसपेशियों को मजबूत और लचीली बनाने के साथ-साथ पुराने दर्द को दूर करने में मदद करती है।

इसके अलावा, अगर आप गठिया, माइग्रेन, फाइब्रोमायल्जिया से पीड़ित हैं, तो योग इन सभी बीमारियों के कारण पैदा हुए दर्द को कम करने में प्रभावी भूमिका निभाता है। जब पीठ दर्द और कंधे के दर्द से पीड़ित लोगों की बात आती है, तो योग की इन किर्याओ ने लाखों लोगों को राहत प्रदान की है।

5. हठ योग के फायदे संपूर्ण स्वास्थ्य को बढ़ावा देते है (Benefits of Yoga Promote Overall Health in Hindi):

अच्छा स्वास्थ्य न केवल बीमारियों से दूर रखता है, बल्कि यह अपने मन और भावनाओं के बीच संतुलन स्थापित करने में भी मदद करते है। योग की यह शैली आपको पूर्ण स्वास्थ्य प्रदान करती है, यह न केवल बीमारियों को खत्म करती है बल्कि यह आपको गतिशील, खुश और उत्साही बनाती है।

हठ योग के फायदे मानसिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते है (Benefits of Yoga Provide Mental Health Benefits in Hindi):

शारीरिक लाभों के अलावा, हठ योग के सर्वोत्तम लाभों में से एक यह है कि यह एक व्यक्ति को तनाव का प्रबंधन करने में भी मदद करता है।

6. हठ योग के फायदे तनाव मुक्ति करने में सहायक (Benefits of Yoga Helps in Relieving Stress in Hindi):

कई अध्ययनों से पता चलता है कि हठ योग तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकता है। यह आपके मूड और समग्र भावना को भी बढ़ा सकता है। इस प्रकार की योगिक क्रिया तनाव को कम करने के लिए उपयोग की जाने वाली कई तकनीकों को जोड़ती हैं।

7. हठ योग के फायदे बढे हुए मानसिक स्वास्थ्य में (Benefits of Yoga in increased Mental Health in Hindi):

हठ योग अनगिनत मानसिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। यह कम तनाव के स्तर को प्राप्त करने में मदद करता है, स्वयं और दूसरों के प्रति शत्रुता को कम करने में मदद करता है। यह चिंता को नियंत्रित करता है और प्रेरणा प्रदान करता है।

(यह भी पढ़े – मत्स्यासन करने का तरीका और फायदे [Matsyasana (Fish Pose) Steps And Benefits in Hindi])

8. हठ योग के फायदे याददाश्त और एकाग्रता में सुधार करते है (Benefits of Yoga Improve Memory and Concentration in Hindi):

शरीर के विभिन्न हिस्सों को जगाने और सक्रिय करने में हाथ योग और प्राणायाम का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है। ऐसा करना न केवल हमारी बौद्धिक शक्ति को बढ़ाता है, बल्कि यह हमारी एकाग्रता के साथ-साथ कई समस्याओं को हल करके भी याददाश्त बढ़ाता है।

9. हठ योग के फायदे आंतरिक शांति प्रदान करते है (Benefits of Yoga Provide Inner Peace in Hindi):

हम सभी शांतिपूर्ण, सुंदर और प्राकृतिक स्थानों की यात्रा करना पसंद करते हैं। जब हमें लगता है कि यह शांति हमारे अंदर है, तो हम दिन में किसी भी समय इस शांति का अनुभव कर सकते हैं। हठ योग और ध्यान के साथ यह शांति का अनुभव आपके चिंता से भरे दिमाग को शांत करने का सबसे अच्छा तरीका है।

10. हठ योग के फायदे मन को अध्यात्मा से जोड़ते है (Benefits of Yoga Connect The Mind With Adhyatma in Hindi):

हठ योग शरीर और मन को नियंत्रित करने के लिए व्यावहारिक तरीके प्रदान करता है। यह अनुभव पर केंद्रित है, यह एक आरामदायक और प्राकृतिक वातावरण में मानव जीवन को व्यवस्थित करने के लिए एक शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक प्रयोग है।

यह शरीर के विभिन्न विकारों को दूर कर के खोई हुई मानसिक शांति को वापस लौटाने और मन को शांत रखने, संकल्प शक्ति को बढ़ाने और आत्मा की रहस्यमय शक्तियों को जागृत करने का काम करता है।

योग के शुरुआती लोगों के लिए 7 सर्वश्रेष्ठ हठ योग (7 Effective Yoga For Beginners in hindi):

कुछ लोग हठ योग का अभ्यास नहीं करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि यह योग बहुत कठिन है या वे ऐसा नहीं कर पाएंगे। कुछ लोग योगा की शुरुआत कुछ योगासनों से करते हैं जो थोड़ा मुश्किल होता है और शुरुआत करने में कठिनाई प्रदान करते हैं, जिसके कारण वे योग करना छोड़ देते हैं।

इसीलिए आज हम योग में नौसिखियो या शुरुआती लोगो को बहुत की आसन आसन व पोज  के साथ-साथ इससे होने वाले स्वास्थ्य फायदे और लाभ के बारे में बताएंगे। तो चलिए जानते हैं कि एक बेहतरीन शुरुआत के लिए आसान योग आसन कौन कौन से हैं?

1. ताड़ासन या पर्वत मुद्रा (Mountain Pose / Tadasana Yoga For Beginners in Hindi):

जब हम योग के बारे में बात करते हैं ताड़ासन हमारे दिमाग में सबसे पहले आता है। बच्चे हों या बूढ़े, हर कोई इसे कर सकता है, जो विकलांग नहीं है।

ताड़ासन को पर्वत मुद्रा आसन के नाम से भी जाना जाता है, जो अभ्यास करने में काफी आसान है और यह विभिन्न स्वास्थ्य लाभों को प्रदान करता है।

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

ताड़ासन या पर्वत मुद्रा कैसे करें (Steps To Do Tadasana Yoga in Hindi):

  1. एक साफ और खुली जगह चुनें और योग मैट, दरी या कंबल बिछा कर उस पर खड़े हो जाये।
  2. अब पैरों और कमर को सीधा करके योगा मैट पर खड़े हो जाएं।
  3. सीधे खड़े होकर पैरों के बीच कुछ दूरी रखें।
  4. अपने दोनों हाथों को अपने शरीर के करीब रखें।
  5. अब गहरी सांस लें, अपनी दोनों बाहों को सिर से ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियों को एक साथ बांध लें।
  6. अब अपने हाथ सीधे रखें और स्ट्रेच करें, इस दोरान आपकी हथेलियों की दिशा आकाश की तरफ होनी चाहिए।
  7. अब आपको अपनी एड़ी ऊपर करते हुए अपने पेरो की उंगलियों पर खड़े होना है।
  8. इस दौरान आपके शरीर को पैरों से लेकर हाथों की उंगलियों तक खिंचाव महसूस करना चाहिए।
  9. अब 10 सेकंड तक इस पोजीशन में रहें और सांस लेते रहें।
  10. फिर सांस छोड़ते हुए शुरु की अवस्था में आ जाएं और इस आसन को कम से कम 10 बार जरुर दोहराएं।

2. उत्तानासन या स्टैंडिंग फॉरवर्ड बेंड पोज (Standing Forward Bend Pose / Uttanasana Yoga For Beginners in Hindi):

उत्तानासन एक संस्कृत शब्द है जिसमे “उत्त” का अर्थ है तीव्र, “तन” का अर्थ है विस्तार और “आसन” जिसका अर्थ है आसन या किर्या।

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

उत्तानासन या स्टैंडिंग फॉरवर्ड बेंड पोज कैसे करे (Steps To Do Uttanasana Yoga in Hindi):

उत्तानासन योग में आगे की ओर झुकते हुए कदमों को छुना होता है, जिसमे आपको निचे बताई गयी विधि का उपयोग करना आवश्यक है –

  1. अब जब आप ताड़ासन करने की विधि जान ही चुके है तो ताड़ासन किर्या या सबसे पहले अपने पैरों की मदद से सीधे खड़े हो जाएं। फिर एक गहरी साँस ले, और अपनी बाहों को ऊपर की ओर बढ़ाएं।
  2. अपने धड़ को लंबा करते हुए 90 डिग्री के कोण पर थोड़ा आगे झुकते हुए साँस छोड़ें।
  3. अब अपनी हथेलियों को जमीन से टिकाएं और अपने हाथों से पैरों को स्पर्श करें।
  4. इसके बाद अपने धड़ को इस तरह मोड़ें कि आपका धड़ और छाती आपकी जांघों को छुए।
  5. अब 50-60 सेकंड के लिए इस मुद्रा में रहे फिर सीधे खड़े हो जाये।

(यह भी पढ़े – पद्मासन करने का तरीका और फायदे [Padmasana (Lotus Pose) Steps And Benefits in Hindi])

3. वृक्षासन या ट्री पोज (Tree Pose / Vrikshasana Yoga For Beginners in Hindi):

वृक्षासन एक स्थिर और सुशोभित वृक्ष की तरह है। यह एक संस्कृत शब्द है जिसमे “वृक्षा” का अर्थ “वृक्ष” और “आसन” का अर्थ “मुद्रा” होता है।  

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

वृक्षासन या ट्री पोज योग कैसे करें (Steps To Do Vrikshasana Yoga in Hindi):

  1. सबसे पहले अपने दोनों हाथों को पीछे रखें और सीधे खड़े हो जाएं।
  2. उसके बाद, अपने दाहिने पैर को उठाएं और बाएं पैर के घुटने के ऊपर रखें।
  3. उसके बाद, सांस ले और साँस छोड़ते हुए अब प्रार्थना की मुद्रा में दोनों हाथों को ऊपर की ओर ले जाएं।
  4. सुनिश्चित करें कि आपकी रीढ़ की हड्डी सीधी हो। साथ ही, आपके शरीर को तना हुआ होना चाहिए, और हर बार जब आप सांस छोड़ते हैं तब एक गहरी सांस लेनी चाहिए।
  5. इस मुद्रा में कम से कम 30 सेकंड से 1 मिनट तक बने रहने की कोशिश करे।
  6. अब इसी पूरी प्रक्रिया को अपने दूसरे पैर से दोहराए।

4. सुखासन या आसान पोज (Easy Pose / Sukhasana Yoga For Beginners in Hindi):

“सुखासन” या “आसान पोज” आरामदायक, क्रॉस-लेग्ड, बैठने की स्थिति और योग अभ्यास और ध्यान में उपयोग किए जाने वाले सबसे बुनियादी पोज में से एक है।

हालांकि, आसान का मतलब मुश्किल के विपरीत नहीं है। इसका मतलब है “आराम से” तो, सुखासन में आप वास्तव में आराम से बैठ सकते हैं।

कुछ लोगों के लिए, कंबल, तौलिये और योग ब्लॉक जैसे प्रॉप्स का उपयोग करना आपको इस मुद्रा में यथासंभव आरामदायक महसूस करने में मदद कर सकता है।

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

सुखासन या आसान पोज कैसे करें (Steps To Do Sukhasana Yoga in Hindi):

  1. अपनी योग चटाई पर “आलथी-पालथी” या मुड़े हुए पैरों के साथ आराम से बैठें एवम हाथो को ध्यान मुद्रा में अपने घुटनों पर रख ले।
  2. सुनिश्चित करे की आपकी सिर, गर्दन और रीढ़ की हड्डी पर आप कोई भी तनाव न डाले, और उन्हें सीधा रखें।
  3. अपने दोनों हाथों की हथेलियों को अपने घुटनों पर रखें और ज्ञान मुद्रा में बेठे।
  4. अपने शरीर को ढीला रखते हुए अपनी आँखों को बंद करे और इस पोज में कम से कम 10 मिनट तक बेठे रहे।

5. बालासन योग या चाइल्ड पोज (Child Pose / Balasana Yoga For Beginners in Hindi):

बच्चे की मुद्रा जैसी मुद्रा बनाने वाला यह आसन आपकी रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाता है। इससे आपके शरीर के निचले हिस्से पर दबाव कम होता है। कई बार दर्द की स्थिति में आपको इस आसन से तुरंत राहत मिल जाती है। इस मुद्रा का अभ्यास तनाव और थकान को दूर करने में भी मदद कर सकता है।

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

बालासन कैसे करे (Steps To Do Balasana Yoga in Hindi):

  1. बालासन/बच्चे की मुद्रा करने के लिए अपनी योग चटाई पर बैठें।
  2. वज्रासन में अपने घुटनों के बल बैठ जाएं। इस मुद्रा में, अपने हाथो को जांघों पर रखे।
  3. अपने पैरों के दोनों घुटनों को एक दूसरे से या थोड़ी दूरी पर एक-दूसरे से चिपका कर रखें और कमर को बिल्कुल सीधा रखें।
  4. अब सांस लें, दोनों हाथों को सीधे सिर से ऊपर उठाएं। हथेलियों को न जोड़ें।
  5. अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें। ध्यान रखें कि कूल्हे के जोड़ों को झुकाना है, कमर के जोड़ों को नहीं।
  6. जब तक आपकी हथेलियां जमीन को न छुएं तब तक आगे झुकते रहें।
  7. अब सिर को जमीन पर ले जाएं।
  8. अब आप जिस मुद्रा में है वह बालासाना/बच्चे की मुद्रा हैं, अब पूरे शरीर को रिलैक्स करने दे और फिर एक गहरी सांस लें और उसे छोड़े।
  9. दोनों हाथों की उंगलियां कसकर जोड़ ले। आपको उनके बीच में अपना सिर रखकर उनका सहारा देना होगा।
  10. अब सिर को धीरे-धीरे दोनों हथेलियों के बीच में रखें एवम अपनी सांस को सामान्य रखें।
  11. अब आप 1 से 5 मिनट तक बालसन/बच्चे की मुद्रा में रह सकते है।

6. पश्चिमोत्तानासन योग (Seated Forward Bend Pose / Paschimottanasana Yoga For Beginners in Hindi):

इस योगासन में ऊपरी शरीर को आगे की ओर मोड़े। यह हठ योग से एक क्लासिक मुद्रा है, जो पूरे शरीर के सिर से लेकर एड़ी तक फैला हुआ है, इसलिए इसे पसचिमोत्साना कहा जाता है।

पश्चिमोत्तानासन करने का तरीका और फायदे – Paschimottanasana (Seated Forward Bend Pose) Steps and Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

पश्चिमोत्तानासन योग कैसे करें (Steps To Do Paschimottanasana Yoga in Hindi):

  1. अपने पैरों को सामने फैलाकर बैठें, रीढ़ को सीधा रखें, और अंगुलिया तनी हुयी होनी चाहिए।
  2. सांस लेते हुए दोनों हाथों को सिर के ऊपर उठाएं और खींचे।
  3. अब साँस छोड़ते हुए, अपने नितम्ब के जोड़ से आगे झुकने का प्रयास करे अब जहां तक आपसे संभव हो अपने शरीर को आगे की और झुकाए और अपनी दृष्टि को पंजो की ओर केन्द्रित करे।
  4. आखिरी स्टेप में आपको अपने दोनों हाथों को पैरों के तलवों और नाक को घुटनों तक चुने का प्रयास करे, जितना आप से हो सके उतना की खिचाव डाले।
  5. शुरू में 5 सेकंड तक ऐसा करें और धीरे-धीरे तब तक आसन में बने रहने की कोशिश करें जब तक आप सहज महसूस न कर लें।
  6. साँस लें और अपनी शुरुवाती स्थिति में लौट जाए।
  7. यहाँ एक चक्र पूरा हुआ। शुरुवात में 30-60 सेकंड के लिए करें। स्वास्थ्य लाभ के लिए हर दिन 3 – 5 मिनट पर्याप्त है।

7. शवासन या कॉर्प्स पोज (Corpse Pose / Savasana Yoga For Beginners in Hindi):

शवासन शब्द संस्कृत से लिया गया है जिसमे “शव” का अर्थ “मृत शरीर” होता है और आसन का अर्थ “आसन या मुद्रा” होता है। पूरे शरीर को आराम देने के लिए योगासन के अंत में शवासन का अभ्यास करें। इस योग में, शरीर लाश के समान होता है इसलिए इसे लाश मुद्रा भी कहा जाता है।

योग में शुरुवाती लोगो के लिए योग और फायदे - Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi
योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi)

शवासन या कॉर्प्स पोज कैसे करें (Steps To Do Savasana Yoga in Hindi):

  1. शवासन में, बस लेटना होता है। एक कुरसी या चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएँ। जरूरत पड़ने पर अपनी गर्दन के नीचे एक छोटा तकिया रखें। अपनी आँखें बंद करें।
  2. दोनों हाथों को शरीर से कम से कम 4-5 इंच दूर रखें।
  3. अपने पैरों को आराम से फैलाएं, दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखें। दोनों पैरों की अंगुलियां एक दूसरे के विपरीत होनी चाहिए।
  4. हथेलियों को आकाश की ओर रखें और अपने हाथों को शरीर के साथ रखें लेकिन अपने शरीर को न छुएं।
  5. अपना ध्यान धीरे-धीरे शरीर के हर हिस्से पर लगा लें और अपने पूरे शरीर को आराम दें, एवम सम्पूर्ण शरीर को ढीला छोड़ दें।
  6. अपनी आँखें बंद करें। अब थोड़ी सांस लें। धीमी और गहरी सांस लें और हर सांस का आनंद ले। अपने मन में उत्पन्न होने वाली उत्तेजना, जल्दबाजी या किसी भी बात पर ध्यान न दें। बस अपने तन और मन के साथ रहें। अपने पूरे शरीर को पृथ्वी पर समर्पित करें और आराम करें। इस बात का ध्यान रखें कि इस आसन को करते समय आपको नींद न आ जाए।
  7. अब अपना सारा ध्यान अपनी सांसों पर केंद्रित करें।
  8. कम से कम 5 से 10 मिनट के लिए इसी स्थिति में रहें फिर जब आप पूर्णता का अनुभव करते हैं, तो आप धीरे-धीरे अपनी आँखें खोल सकते हैं।
  9. अब उठो और अपने दाहिने हाथ के सहयोग से बैठ जाए।
  10. इस मुद्रा के अंत में सांस लेने पर ध्यान दें। अपने हाथों और पैरों की उंगलियों को हल्के से हिलाना शुरू करें, फिर अपनी कलियों को घुमाएं। अब अपने हाथ ऊपर उठाएं और अपने सम्पूर्ण शरीर को खिचाव या स्ट्रेचिंग दे और धीरे-धीरे उठकर आलथी-पालथी मार कर बैठ जाएं।

आशा है इन सभी गुणों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) पसंद आया होगा, अगर आपको भी योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी योग करने का तरीका और फायदे (Yoga For Beginners in Hindi And Yoga Benefits in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!