ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान (12 Amazing Benefits of Glycerin in Hindi)

Show Some Love By Sharing!

ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi): ग्लिसरीन, बेदाग और खूबसूरत त्वचा हर किसी की चाहत होती है। यही वजह है कि हम ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर काफी पैसा खर्च करते हैं। बाजार में कोई भी नया ब्यूटी प्रोडक्ट आते ही हम उसे इस्तेमाल करने के बारे में सोचने लगते हैं।

जी हां, सिर्फ ग्लिसरीन के इस्तेमाल से आप बेदाग त्वचा और काले, लंबे और घने बाल पा सकते हैं। हो सकता है कि आप अभी भी ग्लिसरीन के फायदे और लाभों से अनजान होंगे। इसलिए इस लेख में हमने ग्लिसरीन के कुछ ऐसे ही फायदों के बारे में विस्तार से बताया है। साथ ही हम आपको ग्लिसरीन के नुकसान के बारे में भी बताएंगे।

यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ़ एग्रीकल्चर के अनुसार, ग्लिसरीन एक प्रकार का ट्राइहाइड्रॉक्सी शुगर अल्कोहल है। हालांकि, ग्लिसरीन को एक रसायन के रूप में वर्गीकृत नहीं किया गया है।

विषय सूची:

ग्लिसरीन क्या है? (What is Glycerine in Hindi):

ग्लिसरीन, जिसे ग्लिसरॉल भी कहा जाता है, वनस्पति तेलों या पशु वसा से प्राप्त एक प्राकृतिक यौगिक है। यह एक मीठे स्वाद के साथ एक स्पष्ट, रंगहीन, गंधहीन और सिरप जैसा तरल है।

ग्लिसरीन एक हुमेक्टैंट, एक प्रकार का मॉइस्चराइजिंग एजेंट है जो आपकी त्वचा और हवा के गहरे स्तर से आपकी त्वचा की बाहरी परत में पानी खींचता है।

त्वचा देखभाल उत्पादों में, ग्लिसरीन का उपयोग आमतौर पर त्वचा में खींची जाने वाली नमी को फंसाने के लिए, एक अन्य प्रकार के मॉइस्चराइजिंग एजेंट के साथ किया जाता है।

यह एक जैविक उत्पाद है, जिसे वनस्पति तेल या पशु वसा से निकाला जाता है। ग्लिसरीन एक रंगहीन, गंधहीन, चिपचिपा द्रव होता है, जो स्वाद में मीठा और गैर-विषैला होता है। इसका उपयोग मिठास, बायोडीजल, दवाओं और कॉस्मेटिक उद्योगों में किया जाता है।

(यह भी पढ़े – कैलामाइन लोशन के फायदे, उपयोग और नुकसान (11 Amazing Benefits of Calamine Lotion in Hindi))

यहाँ निचे हमने ग्लिसरीन के फायदे (Glycerine Benefits in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हें आप नही जानते होंगे-

ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerine in Hindi):

ग्लिसरीन का इस्तेमाल खासतौर पर त्वचा और बालों को बढ़ाने के लिए किया जाता है। इस लेख में हम वैज्ञानिक अध्ययनों पर आधारित ग्लिसरीन के लाभों के बारे में विस्तार से बताने की कोशिश कर रहे हैं।

ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi)
ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi)

1. त्वचा को मुलायम बनाने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Soften The Skin in Hindi):

चेहरे पर ग्लिसरीन लगाने के फायदे में कोमल त्वचा भी शामिल है। ग्लिसरीन एक अद्भुत त्वचा-नरम करने वाला एजेंट है। ग्लिसरीन के मॉइस्चराइजिंग गुणों का इस्तेमाल त्वचा को मुलायम बनाने के लिए किया जा सकता है।

विधि: अपने फेस क्रीम में एक चम्मच ग्लिसरीन मिलाएं। दिन में दो बार चेहरा साफ करने के बाद इसका इस्तेमाल करें।

2. त्वचा को नमी देने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Moisturize The Skin in Hindi):

ग्लिसरीन लगाने के फायदे में त्वचा को मॉइस्चराइज करना भी शामिल है। कई बार मौसम या शरीर में पानी की कमी के कारण त्वचा रूखी होने लगती है। ऐसे में त्वचा पर मृत कोशिकाओं के कारण रोम छिद्र बंद हो सकते हैं और किसी भी क्रीम के पोषक तत्व त्वचा के अंदर जाना बंद कर सकते हैं।

इस स्थिति में, त्वचा के लिए ग्लिसरीन का लाभ यह है कि यह त्वचा में नमी और पोषण को अवशोषित करने में मदद कर सकता है। त्वचा में नमी भी बरकरार रख सकता है।

विधि: एक चम्मच ग्लिसरीन और चार चम्मच गुलाब जल लें। सभी सामग्री को मिलाकर एक बोतल में भर लें। रोजाना नहाने के बाद इस घोल को अपने चेहरे और हाथों और पैरों पर लगाएं।

(यह भी पढ़े – मछली के तेल के कैप्सूल के फायदे और उपयोग (Fish Oil Capsules Benefits And Uses in Hindi))

3. एंटी-एजिंग गुण प्राप्त करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Get Anti-Aging Properties in Hindi):

यह कहना गलत नहीं होगा कि धूल, मिट्टी और प्रदूषण के कारण अब उम्र से पहले चेहरे पर बढ़ती उम्र के निशान नजर आने लगे हैं। अगर किसी व्यक्ति के साथ ऐसा हो रहा है तो उसे एक बार ग्लिसरीन का इस्तेमाल करते हुए देखा जा सकता है।

ग्लिसरीन के फायदे यह हैं कि यह त्वचा की सबसे बाहरी परत यानी स्ट्रेटम कॉर्नियम में नमी बनाए रखता है। ग्लिसरीन का यह प्रभाव त्वचा की लोच को बनाए रखने में भी सहायक हो सकता है। इसलिए नियमित रूप से ग्लिसरीन का इस्तेमाल करने से त्वचा अक्सर बढ़ती उम्र से बचाव करती है।

विधि: अंडे को तोड़कर उसका सफेद और पीला भाग अलग कर लें। इसके बाद अंडे की सफेदी को अच्छे से फेंट लें। अब इसमें एक चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच शहद मिलाएं। अच्छी तरह मिक्स होने पर इसे अपनी उंगलियों या ब्रश की मदद से चेहरे पर लगाएं। जब यह पैक अच्छे से सूख जाए तो चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

4. ब्लैकहेड्स को दूर करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Remove Blackheads in Hindi):

ग्लिसरीन के फायदे ब्लैकहेड्स को कम करने में भी मददगार हो सकते हैं। ब्लैकहेड्स भी एक तरह के मुंहासे हैं। ये नाक और ठुड्डी पर दिखने वाले काले नाखून होते हैं। मुल्तानी मिट्टी के साथ ग्लिसरीन का उपयोग करके ब्लैकहेड्स को हटाया जा सकता है, लेकिन इसकी पुष्टि के लिए अभी भी विस्तृत शोध की आवश्यकता है।

विधि: दो चम्मच ग्लिसरीन, चार चम्मच बादाम पाउडर और एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी। एक बाउल में सारी सामग्री को एक साथ मिला लें। इस मिश्रण की एक पतली परत प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। जब यह परत पूरी तरह सूख जाए तो चेहरे को साफ पानी से धो लें।

(यह भी पढ़े – गोजी क्रीम के फायदे, उपयोग और साइड इफेक्ट्स (7 Effective Goji Cream Benefits In Hindi))

5. एक्जिमा और एटोपिक त्वचा से राहत पाने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin for Relieving Eczema and Atopic Skin in Hindi):

ग्लिसरीन के इस्तेमाल से न सिर्फ त्वचा की मिठास बढ़ती है बल्कि त्वचा संबंधी कई रोगों से भी निजात मिल सकती है। शोध के अनुसार, इसके मॉइस्चराइजिंग गुण त्वचा की खुजली और रूखेपन को दूर कर सकते हैं। इसलिए ग्लिसरीन युक्त क्रीम रूखी त्वचा के लक्षणों को कम करने में कारगर मानी जाती हैं।

6. मुंहासे को दूर करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Remove Acne in Hindi):

वैज्ञानिक शोध के अनुसार ग्लिसरीन लगाने से भी मुंहासों से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। ट्रान्सएपिडर्मल पानी की कमी, यानी त्वचा में नमी की कमी, मुंहासों का एक प्रमुख कारण हो सकता है। ग्लिसरीन में नमी बनाए रखने के गुण होते हैं।

यदि इसका अकेले उपयोग किया जाता है, तो ट्रांस एपिडर्मल पानी के नुकसान को 29 प्रतिशत तक बढ़ा सकता है। इससे बचने के लिए गुलाब जल के साथ इसका प्रयोग किया जा सकता है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले एंटी-इंफ्लेमेटरी और मॉइस्चराइजिंग गुणों के कारण इसे एंटी-मुँहासे तत्वों की सूची में शामिल किया जा सकता है।

विधि: एक कटोरी में एक चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच दूध मिलाएं। अब इसे अपनी उंगलियों की मदद से पूरे चेहरे पर या सिर्फ प्रभावित जगह पर लगाएं। 15 से 20 मिनट तक सूखने दें और उसके बाद धो लें। त्वरित परिणामों के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में तीन बार दोहराया जा सकता है।

7. खुजली कम करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Reduce Itching in Hindi):

कई तरह के चर्म रोग में खुजली एक ऐसा लक्षण है जो सबसे ज्यादा परेशानी का कारण बन सकता है। माना जाता है कि ग्लिसरीन खुजली से राहत देता है। यह रूखी त्वचा को कोमल बना सकता है और इसमें ज्वरनाशक गुण होते हैं, जो खुजली वाली जगह पर राहत दे सकते हैं।

(यह भी पढ़े – चेहरे के सफेद दाग कैसे हटाये (10 Effective Ways To Use in Home Remedies For White Spots on Face in Hindi))

8. ग्लिसरीन के फायदे फेस क्लींजर के रूप में फायदेमंद (Benefits of Glycerin Beneficial as a Face Cleanser in Hindi):

ग्लिसरीन त्वचा से गंदगी और धूल हटाने के लिए क्लींजर का काम करता है। आप ग्लिसरीन को गुलाब जल में मिलाकर क्लींजर की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। इस मिश्रण को रात को सोने से पहले अपने चेहरे पर लगाएं। त्वचा को साफ करने और त्वचा के रोमछिद्रों को खोलने के लिए नियमित रूप से इस प्रक्रिया का प्रयोग करें।

9. घाव भरने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin for Wound Healing in Hindi):

ग्लिसरीन घाव भरने में भी मददगार हो सकता है। यह एक अच्छा हुमेक्टैंट (humectant) है और घाव की ड्रेसिंग में इस्तेमाल किया जा सकता है। ग्लिसरीन नमी को अवशोषित कर सकता है, जो घाव को ठीक करने में मदद कर सकता है। विशेष रूप से ग्लिसरीन जली हुई त्वचा को आराम देने में कारगर हो सकती है।

नोट: त्वचा विशेषज्ञों की सलाह के बिना एक्जिमा, एटोपिक त्वचा, खुजली और घावों से राहत के लिए किसी भी घरेलू उपचार का उपयोग करने की सलाह नहीं दी जाती है। इसलिए डॉक्टर से संपर्क करें, वही आपको सही ग्लिसरीन युक्त क्रीम का सुझाव दे सकता है।

10. डैंड्रफ को कम करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Reduce Dandruff in Hindi):

ग्लिसरीन के फायदे बालों के लिए भी बढ़ाए जा सकते हैं। डैंड्रफ बालों की एक आम समस्या है जिसकी शिकायत ज्यादातर लोग करते हैं। डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल किया जा सकता है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार ग्लिसरीन में एंटी-फंगल गुण होते हैं, जिसकी वजह से इसका इस्तेमाल बालों से डैंड्रफ को दूर करने के लिए किया जा सकता है।

विधि: आधा कप ग्लिसरीन लें और ग्लिसरीन को उंगलियों की मदद से अपने स्कैल्प पर लगाएं। आप चाहें तो इसमें किसी भी एसेंशियल ऑयल की तीन से चार बूंदें भी मिला सकते हैं। इस प्रयोग को हफ्ते में तीन बार दोहराएं, जिससे ग्लिसरीन के फायदे बालों के लिए अच्छे साबित हों।

(यह भी पढ़े – Black Lips To Pink Lips Tips in Hindi (होठों का कालापन दूर करने और गुलाबी बनाने के 13 उपाय, नुस्खे और तरीके))

11. फटे होंठों को ठीक करने के लिए ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin to Heal Chapped Lips in Hindi):

फटे होंठ हर महिला के लिए अभिशाप होते हैं, खासकर ठंड के महीनों में जो विशेष रूप से कठोर हो जाते हैं। जबकि हम में से अधिकांश लोग इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए व्यावसायिक रूप से उपलब्ध और रासायनिक युक्त लिप बाम का उपयोग करते हैं, हल्के गैर-विषैले ग्लिसरीन का उपयोग करना एक ऐसा आसान विकल्प है जो आपकी त्वचा पर उतना ही प्रभावी और कोमल प्रभाव जोड़ता है।

विधि: ग्लिसरीन और शहद की कुछ बूंदों को अपने होठों पर स्वाइप करें और दर्दनाक, परतदार होंठ आपके लिए कुछ ही दिनों में पक कर अतीत की बात हो जाएगी।

नोट: शहद और ग्लिसरीन का मीठा स्वाद आपको इसे चाटने के लिए प्रेरित कर सकता है, लेकिन इससे स्थिति और खराब हो जाएगी। इसके बजाय, इसके सूखने की प्रतीक्षा करें और फिर इसे रुई की एक नम गेंद से पोंछ लें।

12. बालों के दोमुंहे सिरों से छुटकारा पाने में ग्लिसरीन के फायदे (Benefits of Glycerin in Getting Rid of Split Ends of Hair in Hindi):

ग्लिसरीन का इस्तेमाल बालों के दोमुंहे सिरों के लिए भी अच्छा माना जाता है। यह बालों के सिरों की रक्षा करने में कारगर हो सकता है। इसलिए, ग्लिसरीन का उपयोग कई कंडीशनर में किया जाता है, लेकिन इसके कामकाज के लिए अभी और शोध की आवश्यकता है।

विधि:आधा कप ग्लिसरीन, आधा कप पानी और एक चम्मच एलोवेरा जेल लें। सभी सामग्री को एक साथ मिलाएं और एक स्प्रे बोतल में डाल दें। अब इसे लगाने से पहले बालों को थोड़ा गीला कर लें। अब इस मिश्रण को थोड़े गीले बालों पर स्प्रे करें। बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

यहाँ निचे हमने ग्लिसरीन का इस्तेमाल कैसे करें? (How to Use Glycerin in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हें आप नही जानते होंगे-

(यह भी पढ़े – जानिए 10 दिन में फेस पर ग्लो कैसे लाये? (Face Par Glow Kaise Laye))

ग्लिसरीन के उपयोग (Uses of Glycerin in Hindi):

  1. अगर आपके होंठ फट रहे हैं या होंठ काले हो गए हैं तो ग्लिसरीन को सीधे होठों पर लगाएं। यह हमारे होठों की कोशिकाओं को उत्तेजित करता है और उन्हें जगाता है।
  2. अगर आप गर्दन के कालेपन से छुटकारा पाना चाहते हैं तो बेसन में हल्दी, जूस, परफ्यूम और ग्लिसरीन का मिश्रण बनाकर ऊपर से नीचे तक ब्रश से गर्दन पर लगाएं और जब यह सूख जाए तो पानी से धो लें। सूखा।
  3. काली कोहनियों पर नींबू के छिलकों को ग्लिसरीन से रगड़ने से भी कोहनियों का कालापन दूर हो जाएगा।
  4. नाखूनों को चमकदार और शक्तिशाली बनाने के लिए गुनगुने पानी में रस और ग्लिसरीन की कुछ बूंदें मिलाकर उसमें नाखूनों को पानी में डुबोएं। इससे आपके नाखूनों में जान आ जाएगी और वे खूबसूरत दिखने लगेंगे।
  5. फटी एड़ियों से निजात पाने के लिए आप चाहें तो इसमें एक चम्मच ग्लिसरीन, एक चम्मच जूस और एक चम्मच परफ्यूम मिलाएं, फिर इस मिश्रण को टखनों पर लगाएं और कुछ देर के लिए सूखने दें और फिर मोजे को रात भर लगा रहने दें। सुबह अपने टखनों को गुनगुने पानी से धो लें। कुछ ही दिनों में आपकी फटी एड़ियां नर्म दिखने लगेंगी।
  6. अगर शेविंग करते समय त्वचा कट जाती है या खरोंच आती है, तो ग्लिसरीन लगाने से घाव में जलन नहीं होती है।
  7. आप अपने बालों को व्यवस्थित और चिकना रखने के लिए ग्लिसरीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  8. अगर त्वचा पर रैशेज यानी सॉफ्ट स्किन पर रैशेज पर ग्लिसरीन लगाया जाए तो डायपर पहनने से बच्चों के दर्द में राहत मिल सकती है।

यहाँ निचे हमने ग्लिसरीन का उपयोग करने से पहले क्या सावधानियां बरते (Precautions to be Taken Before Using Glycerin in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हें आप नही जानते होंगे-

ग्लिसरीन का उपयोग करने से पहले क्या सावधानियां बरते (Precautions to be Taken Before Using Glycerin in Hindi):

ग्लिसरीन के साइड इफेक्ट से बचने के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें जैसे-

  1. मिलावट से बचने के लिए हमेशा विश्वसनीय ब्रांड का ग्लिसरीन ही खरीदें।
  2. ग्लिसरीन के नुकसान से बचने के लिए, खरीदने से पहले इसकी समाप्ति तिथि की जांच करें।
  3. अगर कोई व्यक्ति त्वचा के संक्रमण या घाव से जूझ रहा है, तो डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इसका इस्तेमाल करें।
  4. ग्लिसरीन को चेहरे और बालों पर लगाते समय ग्लिसरीन आंखों में नहीं जाना चाहिए।
  5. ग्लिसरीन के नुकसान से बचने के लिए संवेदनशील त्वचा पर ग्लिसरीन लगाने से पहले पैच टेस्ट करें।
  6. अगर किसी को जल्दी एलर्जी की समस्या है तो डॉक्टर से पूछे बिना इसका इस्तेमाल न करें।
  7. ग्लिसरीन लगाकर धूप में न निकलें, ग्लिसरीन के साइड इफेक्ट से बचने का यह सही तरीका हो सकता है।

यहाँ निचे हमने ग्लिसरीन के दुष्प्रभाव (Harms of Glycerin in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिसे आपको जानना चाहिए-

ग्लिसरीन के नुकसान (Side Effects of Glycerin in Hindi):

अगर सावधानी से इस्तेमाल किया जाए तो ग्लिसरीन फायदेमंद हो सकता है। वहीं अगर इसके नुकसान की बात करें तो इसकी संख्या कम है। आइए जानते हैं इसके कुछ साइड इफेक्ट्स-

  1. ग्लिसरीन का त्वचा पर इस्तेमाल करने से आंखों और त्वचा में जलन हो सकती है। इसके अलावा त्वचा पर हाइपरसेंसिटिव डर्मेटाइटिस जैसी समस्या भी हो सकती है।
  2. यदि ग्लिसरीन को मौखिक रूप से दवा के रूप में उपयोग किया जाता है, तो आपको सिरदर्द, चक्कर आना, मतली और थकान का अनुभव हो सकता है।
  3. ग्लिसरीन के अधिक सेवन से शरीर में पानी की कमी हो सकती है।
  4. इसे मौखिक रूप से लेने के बाद गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में जलन भी महसूस हो सकती है।
  5. एक वैज्ञानिक अध्ययन में पाया गया है कि ग्लिसरीन से पित्ती (पित्ती) का खतरा हो सकता है।

आशा है की आपको इस लेख द्वारा ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Glycerin Benefits, Uses And Side Effects in Hindi) के बारे में जानकारी मिल गयी होगी।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी ग्लिसरीन के फायदे, उपयोग और नुकसान – Glycerin Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits of Glycerin in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!