शवासन करने का तरीका और फायदे [Shavasana (Corpse Pose) Steps And Benefits in Hindi]

शवासन करने का तरीका और फायदे (Shavasana Steps And Benefits in Hindi) : क्या आपको पता है शवासन करने का सही तरीका क्या है, अगर नहीं तो यहाँ हमने विस्तार में बताया है की शवासन कैसे करे और इसके फायदे क्या होते है।   

इसी लिए आज हम आपके लिए यह लेख लाये है, जिसे पढ़ने के बाद आपको यह ज्ञान हो जाएगा की शवासन कैसे करते है और शवासन के फायदे क्या होते है, तो चलिए शुरू करते है।

शवासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां:

शवासन क्या है? (What Is Shavasana / Corpse Pose in Hindi) :

शवासन शब्द संस्कृत से लिया गया है जिसमे “शव” का अर्थ “मृत शरीर” होता है और आसन का अर्थ “आसन या मुद्रा” होता है।

पूरे शरीर को आराम देने के लिए योगासन के अंत में इस योग का अभ्यास अवश्य करें। इस योग में, शरीर लाश के समान होता है इसलिए इसे लाश मुद्रा भी कहा जाता है।

यह मुद्रा आसान लगती है लेकिन जब आप इसका अभ्यास शुरू करते हैं तो आपको उस तरह के लाभ होंगे जो किसी अन्य मुद्रा से नहीं मिलेंगे। शवासन में अपने मन की शांति और शरीर की थकान के साथ-साथ आपके दिमाग को आपकी भावनाओ को नियंत्रित करने पर मजबूर करता है।

खैर, जब आप इस आसन का अभ्यास करते हैं तो शायद आप सो सकते हैं। एक अनुस्मारक आपकी मदद करेगा कि आपके शरीर में ऐसा नही होना चाहिए जैसे आप सो रहे हैं लेकिन आप अपने मन में जाग रहे हैं। 5-10 मिनट की अवधि का उपयोग करके इस आसन का अभ्यास शुरू करें।

(यह भी पढ़े – बालासन करने का तरीका और फायदे [Balasana (Child Pose) Steps And Benefits in Hindi])

शवासन करने का तरीका और विधि (Shavasana Karne Ka Tarika Aur Vidhi, How To Do Shavasana / Corpse Pose in Hindi):

  • इस योग में, बस लेटना होता है। एक कुरसी या चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएँ। जरूरत पड़ने पर अपनी गर्दन के नीचे एक छोटा तकिया रखें। अपनी आँखें बंद करें।
  • दोनों हाथों को शरीर से कम से कम 4-5 इंच दूर रखें।
  • अपने पैरों को आराम से फैलाएं, दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखें। दोनों पैरों की अंगुलियां एक दूसरे के विपरीत होनी चाहिए।
  • हथेलियों को आकाश की ओर रखें और अपने हाथों को शरीर के साथ रखें लेकिन अपने शरीर को न छुएं।
  • अपना ध्यान धीरे-धीरे शरीर के हर हिस्से पर लगा लें और अपने पूरे शरीर को आराम दें, एवम सम्पूर्ण शरीर को ढीला छोड़ दें।
  • अपनी आँखें बंद करें। अब थोड़ी सांस लें। धीमी और गहरी सांस लें और हर सांस का आनंद ले। अपने मन में उत्पन्न होने वाली उत्तेजना, जल्दबाजी या किसी भी बात पर ध्यान न दें। बस अपने तन और मन के साथ रहें। अपने पूरे शरीर को पृथ्वी पर समर्पित करें और आराम करें। इस बात का ध्यान रखें कि इस आसन को करते समय आपको नींद न आ जाए।
  • अब अपना सारा ध्यान अपनी सांसों पर केंद्रित करें।
  • कम से कम 5 से 10 मिनट के लिए इसी स्थिति में रहें फिर जब आप पूर्णता का अनुभव करते हैं, तो आप धीरे-धीरे अपनी आँखें खोल सकते हैं।
  • अब उठो और अपने दाहिने हाथ के सहयोग से बैठ जाए।
  • इस मुद्रा के अंत में सांस लेने पर ध्यान दें। अपने हाथों और पैरों की उंगलियों को हल्के से हिलाना शुरू करें, फिर अपनी कलियों को घुमाएं। अब अपने हाथ ऊपर उठाएं और अपने सम्पूर्ण शरीर को खिचाव या स्ट्रेचिंग दे और धीरे-धीरे उठकर आलथी-पालथी मार कर बैठ जाएं।

बाबा रामदेव द्वारा बताया गया शवासन करने का सही तरीका और विधि (Baba Ramdev Shavasana Step By Step Instructions in Hindi):

(यह भी पढ़े – सूर्य नमस्कार करने का तरीका, फायदे और सावधानियां [Surya Namaskar (Sun Salutation) Steps & Benefits in Hindi])

शवासन के फायदे और लाभ (Shavasana Ke Fayde Aur Labh, Cropse Pose Benefits in Hindi):

यह आसन योग के सबसे महत्वपूर्ण आसनों में से एक है, और इसके कई फायदे हैं, जिन्हें आप नही जानते होंगे, तो आइये जानते है शवासन के फायदे और लाभ क्या है।

शवासन करने का तरीका और फायदे – Savasana (Corpse Pose) Steps and Benefits in Hindi
शवासन करने का तरीका और फायदे [Corpse Pose / Shavasana Steps and Benefits in Hindi]

1. शवासन के फायदे शारीरिक स्थिति के लिए लाभदायक है : (Shavasana Benefits For Body in Hindi)

इस योग के अभ्यास से शरीर आराम करता है और एक गहरी ध्यान की स्थिति में चला जाता है, जो बदले में आपकी कोशिकाओं और ऊतकों की मरम्मत में मदद करता है और तनाव दूर भगाता है।

2. शवासन के फायदे शरीर को शांत और आराम दिलाते है : (Benefits of Shavasana Provide Calm and Comfort To The Body in Hindi)

यह योग आपके शरीर को आनंद से भर देता है और शरीर को फिर से जीवंत कर देता है। यह आपकी कसरत का एक शानदार अंत करता है इसलिए इसे सबसे अंत में करना चाहिए। यह व्यायाम और आपके दैनिक कामों के बीच एक आदर्श योग है।

3. शवासन के फायदे रक्तचाप और चिंता को कम करते है : (Shavasana Benefits For Decreasing BP & Stress in Hindi)

जैसे-जैसे आपका शरीर आराम करता है और शांत होता है, आपका रक्तचाप भी कम हो जाता है, और इससे आपके दिल को आराम मिलता है। नतीजतन, चिंता नियंत्रण में आती है और स्ट्रेस दूर होता है।

(यह भी पढ़े – वज्रासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां [Vajrasana (Thunderbolt Pose) Steps and Benefits in Hindi])

4. शवासन के फायदे एकाग्रता और याददाश्त बढ़ाते है : (Shavasana Benefits For Improve Memory in Hindi)

ध्यान का सीधा प्रभाव ध्यान और एकाग्रता है। जब आप अपने शरीर के प्रत्येक क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करते हैं जब आप इस योग मुद्रा में होते हैं, तो आपका मन स्वतः ही एकाग्रता और याददाश्त में सुधार करता है।

5. शवासन के फायदे ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते है : (Shavasana Benefits For Boosting Energy in Hindi)

त्वरित ऊर्जा हासिल करने का सबसे तेज और सुरक्षित तरीका है “शवासन”। 10 मिनट का अभ्यास आपके शरीर को ऊर्जा देता है, और इस तरह, आपकी उत्पादकता को बढ़ाता है।

अन्य शवासन के फायदे और लाभ : (Other Shavasana / Corpse Pose Benefits in Hindi)

  • इस आसन को करने से शरीर तनाव मुक्त होता है। परिणामस्वरूप रक्त संचार सुचारू रूप से बहने लगता है।
  • यह नींद में सुधार और अनिद्रा का इलाज करता है।
  • यह आपके रक्तचाप को कम करने में मदद भी करता है।
  • सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए दिमाग को शांत करना अति आवश्यक होता है। इस आसन का अभ्यास आपके शरीर में नई ऊर्जा का संचार करता है। इसलिए आप अपने सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए इस आसन को करें।
  • शवासन मस्तिष्क को शांत करता है, और डिप्रेशन से राहत दिलाने में मदद करता है।
  • इस योगासन को करने से सम्पूर्ण शरीर को आराम मिलता है।
  • इस योग स्ट्रेस, सिरदर्द और अनिद्रा की अमूल्य दवा व घरेलू उपाय है।
  • इस योग के अभ्यास से आपकी याददाश्त और एकाग्रता में भी सुधार होता है।
  • शवासन करने से आपकी थकान कम होती है क्युकी यह शरीर को आराम दिलाने वाली मुद्रा है।
  • इसके अभ्यास से आपका पुराने से पुराना दर्द कम हो सकता है।
  • यह एकाग्रता में सुधार करता है।
  • इसका अभ्यास आपकी मांसपेशियों को आराम देता है, शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत करता है।
  • यह उन रोगियों को मदद कर सकता है जिनके पास अस्थमा, कब्ज, मधुमेह, अपच, जैसी न्यूरोलॉजिकल समस्या है।
  • यह वात दोष के लिए एक प्रभावी योग मुद्रा है।

शवासन के पीछे का विज्ञान (Science Behind Shavasana / Corpse Pose in Hindi):

यह योग मुद्रा आपके शरीर और दिमाग को परम विश्राम देता है, जो व्यायाम के लिए आवश्यक है।

एक ज़ोरदार कसरत के बाद जिसमें स्ट्रेचिंग, ट्विस्टिंग, कॉन्ट्रैक्टिंग और मसल्स को बनाना शामिल होता है, शवासन आपके शरीर को आराम करने और फिर से संगठित करने की अनुमति देता है। यहां तक ​​कि सबसे उपेक्षित मांसपेशियों को भी कुछ समय के लिए अपने तनाव को कम करने का मौका मिलेगा।

योग तंत्रिका तंत्र को न्यूरोमस्कुलर सूचनाओं की एक पूरी श्रृंखला के साथ प्रस्तुत करता है। शवासन आपके दिमाग को दिन के नियमित तनाव में व्यस्त होने से पहले आपके तंत्रिका तंत्र को इस जानकारी को एकीकृत करने में मदद करता है।

शवासन आपके मन और शरीर के बारे में गहरी जागरूकता प्रदान करता है। आप अपने द्वारा ली जाने वाली प्रत्येक सांस के प्रति बेहद सजग हो जाते हैं। इसलिए, यह उन लोगों के लिए गहरे ध्यान का एक महान परिचय है जो इसमें रुचि रखते हैं। यह एक संतोषजनक वर्कआउट का सही अंत है।

(यह भी पढ़े – मयूरासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां [Peacock Pose Steps And Benefits in Hindi])

शवासन करते समय क्या सावधानी व एहतियात बरते (Shavasana Karte Samay Kya Savdhaniya Barte, Precautions To Do Corpse Pose in Hindi):

हालाँकि शवासन कोई भी कर सकता है, परन्तु यहां कुछ सावधानियां बताई गई हैं जिनका आपको पालन करना चाहिए :

  • शवासन का अभ्यास करते समय अपने शरीर को हिलाने की कोशिश न करें क्योंकि ऐसा करने से आसन का उद्देश्य खराब हो सकता है जिससे शांति का अनुभव हो पायेगा।
  • इस आसन का अभ्यास ऐसी जगह पर न करें जहाँ शोर या बाहरी हल्ला हो।
  • इस आसन को करते हुए सोने की कोशिश न करें। यदि आप ऐसा करते हैं, तो इस से कोई नुकसान नहीं है, लेकिन सुनिश्चित करें कि आप एक सुरक्षित स्थान पर रहे।
  • अगर आपको अपने चिकित्सक से जमीं पर लेटने से मना किया है तो आप इसका अभ्यास न करे।

आशा है इन सभी गुणों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की शवासन करने का तरीका और फायदे (Corpse Pose / Shavasana Steps And Benefits in Hindi) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख शवासन करने का तरीका और फायदे (Corpse Pose / Shavasana Steps And Benefits in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी शवासन करने का तरीका और फायदे (Corpse Pose / Shavasana Steps And Benefits in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई शवासन करने का तरीका और फायदे (Corpse Pose / Shavasana Steps And Benefits in Hindi) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी शवासन करने का तरीका और फायदे (Corpse Pose / Shavasana Steps And Benefits in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!