एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगा और प्राणायाम [10 Effective Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi]

Show Some Love By Sharing!

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi) :- स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है। एकाग्रता में सुधार के लिए शारीरिक व्यायाम और स्वस्थ आहार बहुत महत्वपूर्ण हैं लेकिन एकाग्रता में कमी आजकल एक आम समस्या बन गई है। आपका मस्तिष्क दैनिक कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

आपके कार्य करने की क्षमता, समझने की क्षमता, महसूस करने की क्षमता और फिर अच्छी तरह से कार्य करने में सक्षम होना, सभी आपके मस्तिष्क की एकाग्रता से संबंधित हैं। हमारे आसपास ऐसे बहुत से लोग है जो बहुत कुछ बड़ी आसानी से याद रख लेते है, अपने हर काम को अच्छे से कर लेते है।

वही कुछ ऐसे लोग भी है जिन्हें चीजो को याद करने में बड़ी मुश्किलें होती है। इसके पीछे का मुख्य कारण एकाग्रता (Concentration) में कमी होना है। एकाग्रता में कमी होने के कारण हम किसी भी काम में ध्यान नहीं लगा पाते है और मन इधर उधर भटकता रहता है। किसी भी कार्य को अच्छे से सफलतापूर्वक करने के लिए मन का स्थिर होना बहुत आवश्यक है।

ऐसे में आप एकाग्रता बनाए रखने के लिए योगासन का सहारा ले सकते हैं। ऐसे कई प्राणायाम और योग है जो शरीर के ऊर्जा स्तर के साथ एकाग्रता को बढ़ाने में भी मदद करते है। रोजाना केवल कुछ मिनट योगासन करने से आपका दिल और दिमाग पूरी तरह से स्वस्थ रहता है। प्रतिदिनं योग करने से शरीर न केवल स्वस्थ रहता है, बल्कि मन को भी शांति मिलती है।

इसलिए आज हम आपके लिये यह लेख लाए है एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi) इस लेख में आप जानेगें की वो कौन-कौनसें योगासन हैं, जो आपको इस समस्या से राहत दिलाने में मददगार साबित हो सकते है। एकाग्रता और स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए योग, इनके नियमित अभ्यास से अवश्य लाभ होगा।

विषय सूची :

एकाग्रता बढ़ाने में योग कैसे मदद करता है [How Does Yoga Help with Concentration in Hindi]

छात्रों के लिए खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत रखना बहुत महत्वपूर्ण है। योगासन शरीर के साथ-साथ मन को भी एकाग्र करने का एक साधन है। अगर आप प्रतिदिन कुछ समय के लिये सही तरीके से योग करते हैं, तो इससे सकारात्मकता बढ़ती है। यह छात्रों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है। योग के नियमित अभ्यास से ध्यान लगाने में मदद मिलती है।

योगासन मन की एकाग्रता बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। योग करने से तनाव को भी कम किया जा सकता है, एवं योग के माध्यम से मस्तिष्क के द्वारा संचालित सभी महत्वपूर्ण क्रियाओं के संचालन में मदद मिलती है जो एकाग्रता को बढ़ाने में सहायक है। योग शरीर की आन्तरिक शक्ति को जगाता है, जो शरीर की कार्यक्षमता को बढ़ाता है।

एकाग्रता और स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए योग [Yoga To Increase Concentration in Hindi]:

दिमागी क्षमता बढ़ाने के लिए आप अपने खान-पान और दैनिक जीवन में कई चीजें अपनाते होंगे लेकिन शायद ही कभी आपने योगासनो के बारे में सोचा होगा, योग एक ऐसी विधि है जो कम समय में बिना किसी खर्च के आपको शारीरिक और मानसिक रूप से अन्य लोगों के मुकाबले कई गुना तेज बना सकते है।

अगर आपके दिमाग में यह सवाल है की ब्रेन पावर बढ़ाने के लिए कौन से योग करें तो आज इस लेख में आप जानेगें की वें कौन-कौन से दिमाग तेज करने के लिए योग Yoga for Mind Concentration in Hindi हैं जो एकाग्रता बढ़ाने में आपकी मदद कर सकते हैं, तो चलिए जानते है मस्तिष्क के लिए योगासन (Yoga For Brain Health in Hindi) कौन कौन से हैं-

एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi):

1. एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में लाभदायक है ताड़ासन योग [(Mountain Pose) Tadasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में ताड़ासन योग कैसे लाभदायक है (How Tadasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

ताड़ासन या माउंटेन पोज़ हमारी मुद्रा को बेहतर बनाने, हमारी सांस को संतुलित करने और एकाग्रता बढ़ानेमें मदद करता है। इसके अतिरिक्त, यह पेट और नितंबों को मजबूत बनाता है, और रीढ़ के लचीलेपन में सुधार करता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योगासन में ताड़ासन योग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में ताड़ासन योग कैसे करे [Steps To Do Tadasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. एक साफ और खुली जगह चुनें और योग मैट, दरी या कंबल बिछा कर उस पर खड़े हो जाये।
  2. अब पैरों और कमर को सीधा करके योगा मैट पर खड़े हो जाएं।
  3. सीधे खड़े होकर पैरों के बीच कुछ दूरी रखें।
  4. अपने दोनों हाथों को अपने शरीर के करीब रखें।
  5. अब गहरी सांस लें, अपनी दोनों बाहों को सिर से ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियों को एक साथ बांध लें।
  6. अब अपने हाथ सीधे रखें और स्ट्रेच करें, इस दोरान आपकी हथेलियों की दिशा आकाश की तरफ होनी चाहिए।
  7. अब आपको अपनी एड़ी ऊपर करते हुए अपने पेरो की उंगलियों पर खड़े होना है।
  8. इस दौरान आपके शरीर को पैरों से लेकर हाथों की उंगलियों तक खिंचाव महसूस करना चाहिए।
  9. अब 10 सेकंड तक इस पोजीशन में रहें और सांस लेते रहें।
  10. फिर सांस छोड़ते हुए शुरु की अवस्था में आ जाएं और इस आसन को कम से कम 10 बार जरुर दोहराएं।

(यह भी पढ़े – कीगल एक्‍सरसाइज कैसे करें और फायदे (Kegel Exercise Steps And Benefits in Hindi))

2. एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में लाभदायक है वृक्षासन योग [(Tree Pose) Vrikshasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में वृक्षासन योग कैसे लाभदायक है (How Vrikshasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

एकाग्रता और समय अवधि एक साथ चलते हैं। यह मुद्रा संतुलन और स्थिरता में सुधार करने में मदद करता है। यह आत्मविश्वास और सम्मान का निर्माण करता है और यह आपकी सहनशक्ति को बढ़ाता है और पूरे शरीर को फैलाता है। यह आपके तंत्रिका तंत्र को शांत करता है और सुन्नता का इलाज करता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में वृक्षासन योग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में वृक्षासन योग कैसे करें [Steps To Do Vrikshasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. सबसे पहले अपने दोनों हाथों को पीछे रखें और सीधे खड़े हो जाएं।
  2. उसके बाद, अपने दाहिने पैर को उठाएं और बाएं पैर के घुटने के ऊपर रखें।
  3. उसके बाद, सांस ले और साँस छोड़ते हुए अब प्रार्थना की मुद्रा में दोनों हाथों को ऊपर की ओर ले जाएं।
  4. सुनिश्चित करें कि आपकी रीढ़ की हड्डी सीधी हो। साथ ही, आपके शरीर को तना हुआ होना चाहिए, और हर बार जब आप सांस छोड़ते हैं तब एक गहरी सांस लेनी चाहिए।
  5. इस मुद्रा में कम से कम 30 सेकंड से 1 मिनट तक बने रहने की कोशिश करे।
  6. अब इसी पूरी प्रक्रिया को अपने दूसरे पैर से दोहराए।

(यह भी पढ़े – जानिए सेराजेम थेरेपी क्या है और इसके फायदे क्या होते है (Ceragem Therapy Benefits in Hindi))

3. एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में लाभदायक है गरुड़ासन योग [(Eagle Pose) Garudasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में गरुड़ासन योग कैसे लाभदायक है (How Garudasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

गरुड़ासन आपके पैरों की मांसपेशियों को मजबूत करता है और आपके शरीर को संतुलित करता है। यह आपके कूल्हों और पैरों को अधिक लचीला बनाता है और न्यूरोमस्कुलर समन्वय को पुनर्स्थापित करता है। यह पोस्टुरल दोषों को भी ठीक करता है यह आपकी एकाग्रता बढ़ाने में लाभदायक हो सकता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में गरुड़ासन योग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में गरुड़ासन योग कैसे करें [Steps To Do Garudasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. सबसे पहले, आपको ताड़ासन की तरह खड़ा होना है।
  2. फिर दाहिने घुटने को धीरे से मोड़ें और फिर बाएं पैर को इस तरह से दाहिने पैर के चारों ओर लपेटें कि घुटने वास्तव में एक-दूसरे के ऊपर टिके हों।
  3. अब यह देखे की बाएं पैर को दाहिने पैर के पिंडली को छू रहे हो।
  4. फिर दोनों हाथो को आगे की ओर उठाये।
  5. अब दाएं हाथ को बाईं हाथ की बाह पर लपेटें। सुनिश्चित करें कि कोहनी वास्तव में 90 डिग्री के कोण पर मुड़ी हुई हो।
  6. फिर दोनो हाथो की हथेलियों को आपस में जोड़े।
  7. इस विशेष मुद्रा में संतुलन बनाने की कोशिश करे।
  8. अब 40-60sec तक इस मुद्रा में बने रहे और धीरे-धीरे गहरी सांस लें। अपनी तीसरी आंख पर ध्यान केंद्रित करें और फिर अपनी सभी नकारात्मक भावनाओं को त्याग दें।
  9. अब इस मुद्रा शुरु से जारी करें और फिर इस मुद्रा को दोहराते हुए दूसरी ओर भी इसका अभ्यास करे।

(यह भी पढ़े – पेट की समस्या के लक्षण, दूर करने के उपाय और इलाज (All About Stomach Problems in Hindi))

4. एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में लाभदायक है उष्ट्रासन योग [(Camel Pose) Ustrasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में उष्ट्रासन योग कैसे लाभदायक है (How Ustrasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

यह आपकी पीठ और कंधों को मजबूत और फैलाता है और आपकी मुद्रा में सुधार करता है। यह पीठ दर्द से राहत देता है और श्वसन, पाचन और उत्सर्जन में सुधार करता है। यह आपके चक्रों को ठीक करता है और संतुलित करता है और अंतःस्रावी ग्रंथियों को उत्तेजित करता है। यह मुद्रा आपके संपूर्ण स्वास्थ्य का ख्याल रखती है। यह मासिक धर्म की परेशानी को कम करता है, आपकी नसों को सक्रिय करता है, और शरीर में वसा को कम करता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में उष्ट्रासन योग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में उष्ट्रासन योग कैसे करें [Steps To Do Ustrasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. उष्ट्रासन मुद्रा शुरू करने के लिए, पहले वज्रासन स्थिति में एक योग चटाई पर बैठें।
  2. अब घुटने मोड़कर खड़े हो जाएं, अपने हाथों को कूल्हों पर रखें, और एक गहरी साँस ले।
  3. यह सुनिश्चित करे की आपके घुटने सीधे होने चाहिए, पैरों के तलवों को फर्श से दबाएं और पैरों की एडिया ऊपर की ओर होनी चाहिए।
  4. साँस छोड़ते हुए, अपने कंधे को पीछे की ओर झुकाते हुए आगे की ओर छाती को उठाएं।
  5. मुद्रा की पूरी विविधता में पहुंचने के लिए, अपनी पीठ को ध्यान से बेंड करें और अपनी एड़ी को छूने की कोशिश करें।
  6. यदि आप इस मुद्रा में अच्छा महसूस करते हैं, तब ही इस मुद्रा में 2 साँसों की गिनती तक बने रहे, एवम अपनी गर्दन को तनाव या फ्लेक्स न करें और न ही गले को कसें।
  7. 30 सेकंड से 1 मिनट तक इस मुद्रा को करें।
  8. सांस छोड़ें और धीरे-धीरे अपनी प्रारंभिक स्थिति / मुद्रा में वापस आएं। अपने हाथों को कूल्हों पर रखें और धीरे-धीरे घुटने मोड़कर खड़े होने की स्थिति में आएं।

(यह भी पढ़े – Balo Ko Kaise Ghana Kare 10 Din Me [10 Effective Hair Mask For Hair Growth in Hindi])

5. एकाग्रता बढ़ाने के लिए शीर्षासन योग करे [Sirsasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में शीर्षासन योग कैसे लाभदायक है (How Sirsasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

शीर्षासन आपके शरीर को शांत करने में मदद करता है। यह पिट्यूटरी ग्रंथि को उत्तेजित करता है, फेफड़ों को मजबूत करता है, पाचन में सुधार करता है और अस्थमा को ठीक करता है। यह हाथों और पैरों को मजबूत बनाता है और पेट के अंगों को टोन करता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में शीर्षासन योग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में शीर्षासन योग कैसे करें [Steps To Do Sirsasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. शीर्षासन शुरू करने के लिए, अपनी योगा मैट या ज़मीन पर कंबल,चादर या फिर कोई मोटा तौलिया बिछाकर वज्रासन की स्थिति में घुटनों के बल बैठ जाएं।
  2. अब आगे झुकें और दोनों हाथों की कोहनियों को जमीन पर टिकाएं।
  3. अपने दोनों हाथो की उंगलियों को कसकर सख्ती से जोड़ लें, (यह आपके सिर के समर्थन के लिए बेहद जरुरी है, क्योंकि आपको इनके बीच में सिर रख कर उसे सहारा देना है)।
  4. घुटनों और पैरों को सीधा कर के रखे।
  5. अब अपने सिर को हाथों की हथेली के बीच में धीरे से रखते हुए अपने पैर की उंगलियों के उपर आ जायें।
  6. अपने सिर की ओर कुछ कदम चलते हुए, अपने पैरों को फर्श से उठाएं और सुनिश्चित करें कि आपकी पीठ सीधी होनी चाहिए।
  7. अपनी सांसो को सामान्य रखें।
  8. पीठ को सीधी रखते हुए अपने शरीर के वजन को पंजों से सिर और बांहों पर लाये एवं पैरो को ऊपर की और उठाना शुरू करें।
  9. इसमें आप टाँगों को सिर्फ़ “आधा” उठायें,  जहाँ आपके घुटने छाती को छू रहे हों और पैर आधे मुड़े हुए हो। (इस मुद्रा में 2 मिनट तक रहने का अभ्यास करें।)
  10. अब जब आप इस मुद्रा को स्धिर रखने में पारंगत हो जाएँ तो आप इसके बाद धीरे-धीरे अपने दोनों पैरों को ऊपर उठाएं और एकदम सीधे रखें, इस दौरान नीचे से ऊपर तक आपका शरीर का पूरा हिस्सा एकदम से सीधा होना चाहिए।
  11. इस आसन को करते समय आप अपने पैरों को ऊपर उठाने के लिए दीवार या किसी व्यक्ति का सहारा भी ले सकते हैं।
  12. अब इस मुद्रा में आने के बाद कुछ देर तक इसी मुद्रा में रहें और 30 सेकेंड तक गहरी सांस लें और बहार छोड़े।
  13. इस मुद्रा या आसन को 3 से 4 बार दोहराएं।

(यह भी पढ़े – पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम PCOS के लिए योगा (10 Effective Yoga For PCOS in Hindi))

6. एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में करें पश्चिमोत्तानासन योग [(Seated forward bend Pose) Paschimottanasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग कैसे लाभदायक है (How Paschimottanasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

पश्चिमोत्तानासन योग एक तनाव निवारक है। यह गुस्सा और चिड़चिड़ापन कम करता है और आपके दिमाग को शांत करता है। यह कब्ज को कम करता है और आपकी आंतों और पित्ताशय को उत्तेजित करता है। यह पेट दर्द, सिरदर्द और बवासीर को ठीक करता है।

यह आपकी कूल्हे की हड्डियों को मजबूत करता है और आपके कंधों को फैलाता है। यह आपकी रीढ़ की हड्डी को सक्रिय करता है और आपके शरीर को सक्रिय करता है। यह मुद्रा आपकी भूख बढ़ाती है और मोटापा कम करती है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में पश्चिमोत्तानासनयोग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग कैसे करें [Steps To Do Paschimottanasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. अपने पैरों को सामने फैलाकर बैठें, रीढ़ को सीधा रखें, और अंगुलिया तनी हुयी होनी चाहिए।
  2. सांस लेते हुए दोनों हाथों को सिर के ऊपर उठाएं और खींचे।
  3. अब साँस छोड़ते हुए, अपने नितम्ब के जोड़ से आगे झुकने का प्रयास करे अब जहां तक आपसे संभव हो अपने शरीर को आगे की और झुकाए और अपनी दृष्टि को पंजो की ओर केन्द्रित करे।
  4. आखिरी स्टेप में आपको अपने दोनों हाथों को पैरों के तलवों और नाक को घुटनों तक चुने का प्रयास करे, जितना आप से हो सके उतना की खिचाव डाले।
  5. शुरू में 5 सेकंड तक ऐसा करें और धीरे-धीरे तब तक आसन में बने रहने की कोशिश करें जब तक आप सहज महसूस न कर लें।
  6. साँस लें और अपनी शुरुवाती स्थिति में लौट जाए।
  7. यहाँ एक चक्र पूरा हुआ। शुरुवात में 30-60 सेकंड के लिए करें। स्वास्थ्य लाभ के लिए हर दिन 3 – 5 मिनट पर्याप्त है।

(यह भी पढ़े – बच्चों के लिए योग और फायदे (12 Effective Yoga For Kids in Hindi))

7. एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में करें बालासन योग [(Seated forward bend Pose) Balasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में बालासन योग कैसे लाभदायक है (How Balasana Yoga is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

बालासन योग हिप जॉइंट और मांसपेशियों सहित पूरे शरीर को फैलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह न केवल समग्र संतुलन और सहनशक्ति बढ़ाता है, बल्कि रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है और कूल्हे, टखनों और जांघ क्षेत्र के आसपास की मांसपेशियों को टोन करता है। इसका नियमित रूप से अभ्यास करने से न केवल तनाव और चिंता से छुटकारा मिलता है बल्कि यह शांति और तनाव मुक्त दिमाग को भी संरक्षित करता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में बालासनयोग कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में बालासन योग कैसे करें [Steps To Do Balasana Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  • बालासना/बच्चे की मुद्रा करने के लिए अपनी योग चटाई पर बैठें।
  • वज्रासन में अपने घुटनों के बल बैठ जाएं। इस मुद्रा में, अपने हाथो को जांघों पर रखे।
  • अपने पैरों के दोनों घुटनों को एक दूसरे से या थोड़ी दूरी पर एक-दूसरे से चिपका कर रखें और कमर को बिल्कुल सीधा रखें।
  • अब सांस लें, दोनों हाथों को सीधे सिर से ऊपर उठाएं। हथेलियों को न जोड़ें।
  • अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें। ध्यान रखें कि कूल्हे के जोड़ों को झुकाना है, कमर के जोड़ों को नहीं।
  • जब तक आपकी हथेलियां जमीन को न छुएं तब तक आगे झुकते रहें।
  • अब सिर को जमीन पर ले जाएं।
  • अब आप जिस मुद्रा में है वह बालासाना/बच्चे की मुद्रा हैं, अब पूरे शरीर को रिलैक्स करने दे और फिर एक गहरी सांस लें और उसे छोड़े।
  • दोनों हाथों की उंगलियां कसकर जोड़ ले। आपको उनके बीच में अपना सिर रखकर उनका सहारा देना होगा।
  • अब सिर को धीरे-धीरे दोनों हथेलियों के बीच में रखें एवम अपनी सांस को सामान्य रखें।
  • अब आप 1 से 5 मिनट तक बालसन/बच्चे की मुद्रा में रह सकते है।
  • इस आसान से बाहर निकलने के लिए, सबसे पहले, अपनी हथेलियों को कंधे के नीचे लाएं और धीरे-धीरे अपने ऊपरी शरीर को उठाएं और पिछली स्थिति में वापस आ जाएं और आराम से सांस लें। इन सभी क्रियाओं को आराम से करें।

(यह भी पढ़े – बवासीर के लिए योग – Bawasir Ke Liye Yoga (9 Effective Yoga For Piles in hindi)

8. एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में नाड़ी शोधन प्राणायाम करे [(OM Chanting) Nadi Shodhana Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में नाड़ी शोधन प्राणायाम कैसे लाभदायक है (How Nadi Shodhana Pranayama is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

ऑक्सीजन आपके मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। नाड़ी शोधन प्राणायाम करते समय ताजी हवा की एक साँस आपके मस्तिष्क को अच्छा कर सकती है, क्योंकि यह आपके मस्तिष्क को ऑक्सीजन की एक अतिरिक्त खुराक प्रदान करती है। अंदर और बाहर धीरे-धीरे सांस लें, जैसा कि आप आसन करते समय अपने हृदय गति में गिरावट का अनुभव करते हैं- इससे स्वतः तनाव और चिंता में कमी आएगी। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में नाड़ी शोधन प्राणायाम कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में नाड़ी शोधन प्राणायाम कैसे करे [Steps To Do Nadi Shodhana Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. यहां हम आपको नाड़ी शोधन प्राणायाम की विधि विस्तार से बता रहे हैं, इसे ध्यान से पढ़ें –
  2. सबसे पहले अपने रीढ़ की हड्डी और कंधों को सीधा करते हुए आराम से ध्यान की अवस्था में बैठें।
  3. अपने बाएं हाथ को बाएं घुटने पर रखें और दाहिने हाथ की अंगुलियों को मुंह के सामने लाएं।
  4. तर्जनी उंगली या (इंडेक्स फिंगर) और मिडिल फिंगर को धीरे-धीरे माथे के बीच रखें। दोनों अंगुलियों पर ज्यादा दबाव न रखें, अंगुलियों को आराम से रखें।
  5. अनामिका और छोटी उंगली को बाएं नथुने और अंगूठे को दाईं नासिका के बीच रखें। हम दायें नथुने के लिए बायीं नासिका और अंगूठे को खोलने या बंद करने के लिए अनामिका और छोटी उंगली का उपयोग करेंगे।
  6. अपने अंगूठे को दाएं नथुने पर दबाएं और बाएं नथुने से धीरे से सांस छोड़ें।
  7. अब बाईं नासिका से सांस लें और फिर अनामिका और छोटी उंगली से बाईं नासिका को धीरे से दबाएं। दाहिने नथुने से दाहिने अंगूठे को हटाते हुए, दाईं ओर से सांस लें।
  8. दोनों नथुनों से बारी-बारी से सांस लेते रहे, और प्रत्येक साँस छोड़ने के बाद, उसी नथुने से साँस लेना याद रखें जिसमें से आपने साँस छोड़ी थी। अपनी आँखें बंद रखें और बिना किसी बल या प्रयास के लंबी, गहरी साँसें लेते रहें।
  9. आप अपनी छोटी उंगलीयो को अंदर की ओर मोड़ सकते हैं।
  10. इस प्राणायाम को आप 30 मिनट तक करें।

9. एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग में उद्गीथ प्राणायाम करे [Udgeeth Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में उद्गीथ प्राणायाम कैसे लाभदायक है (How Udgeeth Pranayama is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

मस्तिष्क को हमारे शरीर का स्वामी माना जाता है। यह राजा अंग है जो हर कार्य और क्रिया के लिए जिम्मेदार होता है। इस लिए हमारे माइंड को भी आराम की आवश्यकता होती है; ताकि यह अच्छे और शानदार तरीके से काम कर सके। कई टॉनिक, प्राकृतिक उपचार आदि उपलब्ध हैं जो आपके मस्तिष्क की कार्य क्षमता को बढ़ाते हैं।

लेकिन एक तथ्य के रूप में, ऐसे मामलों में केवल और केवल “उद्गीथ प्राणायाम” से बेहतर कुछ नहीं है, यह एकाग्रता बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा प्राणायाम माना जाता है। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में उद्गीथ प्राणायाम कैसे किया जाता है?:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में उद्गीथ प्राणायाम कैसे करे [Steps To Do Udgeeth Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. पद्मासन मुद्रा में बैठें। हम आपको अपनी रीढ़ की हड्डी के साथ सीधे बैठने की सलाह देते हैं। अपने चेहरे पर हल्की मुस्कान रखें।
  2. अपने सम्पूर्ण शरीर को ढीला छोड़ दे और पीठ सीधी कर के योग में मगन हो जाये।
  3. अपनी आँखे बंद करे फिर ध्यान की मुद्रा में बेठे और ओम शब्द का उच्चारण करते हुए सांस छोड़ें।
  4. ओम जाप की लय के साथ ॐ की ध्वनी को सुनिश्चित करें।
  5. व्यायाम का एक स्तर चुनें, आप आसानी से साथ रह सकते हैं और आराम से सांस ले सकते हैं।
  6. श्वास लेते एवम साँस छोड़ते समय ॐ का जाप करना निर्धारित करें।
  7. इस प्राणायाम को 9 से 10 बार दोहराए और आप इसे अपनी क्षमता के अनुसार बदल भी सकते हैं।

(यह भी पढ़े – बालों के लिए योगा – Balo Ke Liye Yoga [9 Effective Yoga For Hair in hindi)

10. एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम करे [(Bee Breathing) Bhramari Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में भ्रामरी प्राणायाम कैसे लाभदायक है (How Bhramari Pranayama is beneficial in Yoga For Mind Concentration in Hindi):

यह आसन आपकी स्मृति के साथ-साथ एकाग्रता बढ़ाने के लिए एक आदर्श प्राणायाम है। गुनगुनाती ध्वनि और कंपन आपके मस्तिष्क को शांत करने में मदद करते हैं और तनाव, थकान और नकारात्मक भावनाओं को दूर करने में आपकी मदद करता हैं, जैसे कि चिंता, डिप्रेशन, क्रोध और निराशा। तो आइये जानते है की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में भ्रामरी प्राणायाम कैसे किया जाता है:

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)
एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन और प्राणायाम (Pranayama And Yoga for Mind Concentration in Hindi)

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योगासन में भ्रामरी प्राणायाम कैसे करे [Steps To Do Bhramari Pranayama Yoga For Mind Concentration in Hindi]:

  1. किसी भी जगह एक शांत वातावरण में, जहां पर अच्छी हवा आती जाती हो ध्यान करने के किसी भी सुविधाजनक आसन में बैठें और अपनी आँखें बंद कर लें।
  2. अब कुछ समय के लिए अपनी आँखें बंद रखें।
  3. शरीर में संवेदनाएं और आंतरिक शांति पर ध्यान केन्द्रित करें।
  4. अपनी तर्जनी या मध्यमा उंगली (Middle Finger) को अपने कानों पर रखें।
  5. आपके गाल और कान के बीच एक कार्टिलेज है, अपनी तर्जनी को कार्टिलेज पर रखें।
  6. गहरी सांस अंदर लेते हुए और धिरे-धिरे सांस छोड़ें और धीरे से कार्टिलेज को दबाएं।
  7. अब आप मधुमक्खी की तरह तेज गुनगुना आवाज (Humming Sound) करते हुए कार्टिलेज को दबाए रख सकते हैं या उसे अपनी उंगलियों से अंदर-बाहर कर सकते हैं।
  8. चाहे तो आप कम आवाज़ वाली आवाज़ भी कर सकते हैं लेकिन बेहतर नतीजों के लिए ऊंची पिच बनाना अच्छा होता है।
  9. फिर से गहरी सांस लेते रहे एवम एक ही पैटर्न 3-4 बार जारी रखें।

एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग करते समय क्या सावधानियां बरतनी चाहिए (What Precautions Should Be Taken While Doing Yoga For Mind Concentration in Hindi):

योग एकाग्रता बढ़ाने के लिए अत्यधिक लाभ प्रदान करता है। लेकिन विभिन्न योग आसनों को करते समय सावधानी बरतना भी उतना ही आवश्यक है। यहां कुछ बिंदु दिए गए हैं, जिन्हें आपको एकाग्रता बढ़ाने और मस्तिष्क के लिए योग करते समय याद रखना चाहिए:

  • इन अभ्यासों को अकेले करने की कोशिश न करें क्योंकि एक पेशेवर की देखरेख में उन्हें प्रदर्शन करना किसी भी प्रकार की ऐंठन या चोट से बचने में मदद कर सकता है।
  • हमेशा वार्म अप के साथ योग का अभ्यास शुरू करें, योग से पहले अपने शरीर को थोड़ा सा खुलने दें।
  • अपने चिकित्सक से परामर्श करें यदि आप किसी भी प्रकार की असुविधा का अनुभव करते हैं जो व्यायाम के किसी भी रूप में या उसके बाद आपको प्रभावित करता है।
  • सही तरीके से योग आसन और विभिन्न श्वास तकनीकों का अभ्यास करना बहुत महत्वपूर्ण है।
  • आपको अधिक समय तक सांस लेने से बचना चाहिए।
  • योग आसनों को संतुलित करते हुए आपको सावधानी बरतनी चाहिए।
  • योग के सत्र से पहले और बाद में आपके शरीर के पोषण और जलयोजन की जरूरतों पर ध्यान देने की सिफारिश की जाती है।
  • आपको योग के लिए आरामदायक कपड़े पहनने चाहिए।
  • आपको ओवर-स्ट्रेचिंग से बचना चाहिए।
  • आपको योग के सत्र के बाद आराम करना चाहिए।

आशा है इन सभी योगासनों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga For Mind Concentration in Hindi) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga For Mind Concentration in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga For Mind Concentration in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga For Mind Concentration in Hindi) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga For Mind Concentration in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!
×