मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे (10 Effective Home Remedies For Cataract in Hindi)

मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upay, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi): मोतियाबिंद एक ऐसी बीमारी है जो कई लोगों में बुढ़ापे के दौरान होती है। इसमें आमतौर पर आंख का लेंस धुंधला पड़ जाता है जो दृष्टि में बाधा डालता है। मोतियाबिंद बुढ़ापे में होता है, परन्तु कई लोगो में यह समस्या पहले भी उत्पन्न हो सकती है।

आपके पूरे जीवन में, आपकी आंखें सीधे सूर्य और पराबैंगनी किरणों के संपर्क में रहती हैं। लेकिन आंखों में रेडिकल्स बनने के कारण वे बुढ़ापे में मोतियाबिंद के शिकार हो जाते हैं। यह आम समस्या शुगर के मरीजों और धूम्रपान करने वाले लोगो में ज्यादा देखने को मिलती है।

वैसे तो मोतियाबिंद (सफेद मोतियाबिंद) को सर्जरी से दूर कर दिया जाता है, लेकिन इसके साथ ही कुछ ऐसे घरेलू उपाय भी हैं जो आपकी इस समस्या में आपकी मदद का सकते है। इस लिए मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे (Home Remedies For Cataract in Hindi) जानने के लिए बने रहे हमारे इस लेख में-

विषय सूची:

मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे (Home Remedies For Cataract in Hindi):

यहाँ निचे हमने मोतियाबिंद के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies For Cataract in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिसे आप नहीं जानते होंगे-

मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे - Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upay, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi)
मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upay, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi)

(यह भी पढ़े – (Cataract in Hindi): मोतियाबिंद क्या है?, प्रकार, लक्षण, कारण, इलाज, परीक्षण और रोकथाम)

1. निम्बू से मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Motiyabind Ka Gharelu Ilaj Hai Nimbu):

सामग्री:

  • गुलाब जल
  • निम्बू का रस

कैसे फायदेमंद है?

नींबू में विटामिन C और कई एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ आंखों के लिए भी फायदेमंद होते हैं।

नींबू का उपयोग कैसे करें?

  1. सबसे पहले एक छोटी बोतल लें और फिर उसमें गुलाब जल भरें और अब उसमें उतनी ही मात्रा में नींबू का रस मिलाएं।
  2. अब इस मिश्रण को अच्छी तरह मिला लें।
  3. अब एक आई ड्रॉपर लें और इस मिश्रण को उसमें डालें।
  4. अब इस मिश्रण को अपनी दोनों आंखों में लगाएं।
  5. आपको हल्की जलन महसूस होगी जिससे आपकी आंखों में पानी भी आ सकता है लेकिन मोतियाबिंद के लिए यह उपचार बहुत फायदेमंद है।

कब इस्तेमाल करें?

ऐसा आपको रोजाना कम से कम 1 बार जरूर करना चाहिए।

2. लहसुन है मोतियाबिंद का घरेलू उपाय (Lahsun Se Motiyabind Ka Gharelu Ilaj):

सामग्री:

  • 1 से 2 लहसुन की कलियाँ

कैसे फायदेमंद है?

लहसुन में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह आंखों में ऑक्सीडेटिव तनाव के कारण होने वाले प्रभावों को कम करके मोतियाबिंद को रोकने में मदद कर सकता है। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

लहसुन का उपयोग कैसे करें?

  1. सबसे पहले लहसुन की एक या दो कलियों को छील लें।
  2. एक या दो लहसुन की कलियां चबाएं।
  3. आप अपने पसंदीदा व्यंजनों में लहसुन भी शामिल कर सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें?

इसका सेवन आप दिन में एक या दो बार कर सकते हैं।

(यह भी पढ़े – (PCOS in Hindi): PCOS क्या है?, प्रकार, लक्षण, कारण, इलाज, परीक्षण और रोकथाम)

3. सौंफ है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Saunf Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • सौंफ

कैसे फायदेमंद है?

रोजाना सौंफ का सेवन करने से मोतियाबिंद का जल्द से जल्द इलाज हो सकता है।

सौंफ का उपयोग कैसे करें?

आपको बस इसे अपने दैनिक जीवन में जोड़ना है और इसका रोजाना 6 ग्राम सेवन अवश्य करें। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

कब इस्तेमाल करें?

आप इसे दिन में दो बार इस्तेमाल कर सकते है। इससे आपको इस समस्या का समाधान बहुत जल्द दिखाई देगा।

4. ग्रीन टी है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Green Tea Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • 1 कप पानी
  • 1 छोटा चम्मच ग्रीन टी

कैसे फायदेमंद है?

ग्रीन टी में EGCG (एपिगैलोकैटेचिन-3-गैलेट) नामक तत्व होता है, जो आपकी आंखों के लेंस को नुकसान होने से बचाने और मोतियाबिंद को कम करने में मदद कर सकता है।

ग्रीन टी का उपयोग कैसे करें?

  1. 1 कप पानी में 1 चम्मच ग्रीन टी को उबाल लें।
  2. इस चाय को पीने से पहले थोड़ा ठंडा होने दें, और इसे पी जाएँ।

कब इस्तेमाल करें?

ग्रीन टी को दिन में दो बार पिया जा सकता है।

(यह भी पढ़े – PCOS के लिए होम्योपैथिक इलाज और उपचार (10 Effective PCOS Homeopathy Treatment in Hindi))

5. कद्दू है मोतियाबिंद ठीक करने का घरेलू उपाय (Kaddu Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • कद्दू

कैसे फायदेमंद है?

गाजर के रस की तरह ही कद्दू का रस भी मोतियाबिंद का काफी कारगर इलाज है और यह आपको इस समस्या से भी दूर रखता है। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

कद्दू का उपयोग कैसे करें?

  1. आप कद्दू का रस निकाल कर रोजाना पी सकते हैं।
  2. लेकिन अगर आपको कद्दू का जूस पसंद नहीं है तो आप इसके रस को अपनी आंखों पर लगाकर 15 के लिए ऐसे ही छोड़ दें।

कब इस्तेमाल करें?

आप इस प्रक्रिया को रोजाना इस्तेमाल कर सकते है।

6. शहद है सफ़ेद मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Honey Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • 2 चम्मच पानी
  • 1 चम्मच शहद

कैसे फायदेमंद है?

शहद में एंटी-इन्फ्लामेंट्री और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। यह आंख के लेंस में दोषों को ठीक करने में मदद कर सकता है। साथ ही यह आंखों को भविष्य में किसी भी तरह के नुकसान से भी बचा सकता है और इसके उपयोग से रोग और संक्रमण को भी कम करने में मदद मिलती है। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

शहद का उपयोग कैसे करें?

  1. पानी के साथ शहद मिलाएं।
  2. आप शहद के पानी को आई ड्रॉप की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।
  3. अब इस घोल को अपनी दोनों आंखों में एक-दो बूंद डालें।
  4. आप नियमित रूप से एक चम्मच शहद का सेवन भी कर सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें?

ऐसा आप रोजाना 1 से 2 बार कर सकते हैं।

7. मोतियाबिंद का रामबाण घरेलू इलाज है बादाम (Badam Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • 5 से 6 बादाम
  • 1 कटोरी पानी
  • 1 गिलास दूध

कैसे फायदेमंद है?

कभी-कभी मोतियाबिंद के कारण आंखें लाल दिखने लगती हैं और इन्हें दूर करने के लिए बादाम आपकी इस समस्या को जल्दी दूर कर देता है। बादाम को आप रात भर पानी या दूध में भिगोकर रख सकते हैं। यह न केवल मोतियाबिंद को ठीक करता है बल्कि आपकी आंखों की रोशनी को भी ठीक रखता है। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

बादाम का उपयोग कैसे करें?

  1. सबसे पहले बादाम को रात भर के लिए पानी में भिगो दें।
  2. फिर दूसरे दिन भीगे हुए बादाम के छिलके उतारकर उसका सेवन करें।
  3. इसके बाद एक गिलास दूध का सेवन जरूर करें।

कब इस्तेमाल करें?

इसका सेवन आप रोजाना कर सकते हैं।

(यह भी पढ़े – (Varicose Veins in Hindi): वैरिकोज वेन्स क्या है?, प्रकार, लक्षण, कारण, इलाज, परीक्षण और रोकथाम)

8. मोतियाबिंद का घरेलू उपाय है गाजर का रस (Gajar Ka Ras Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

1 या 2 गाजर

कैसे फायदेमंद है?

गाजर आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद करती है और ये गुण सभी जानते हैं कि गाजर आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। गाजर विटामिन A से भरपूर होती है और यह आंखों में विटामिन A की कमी को पूरा करने में मदद करती है। यह आंखों को लंबे समय तक मोतियाबिंद से बचाने में मदद करता है।

गाजर का उपयोग कैसे करें?

  1. गाजर को लें और उन्हें छिल लें।
  2. फिर उनका रस निकाल लें।
  3. अब उसे छान लें और एक गिलास गाजर का जूस पिएं।

कब इस्तेमाल करें?

आप इस जूस का रोजाना सेवन कर सकते हैं।

9. मोतियाबिंद का घरेलू इलाज है पालक (Palak Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • 1 गिलास पालक का रस

कैसे फायदेमंद है?

पालक हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके साथ ही पालक हमारी आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि इसमें कैरोटेनॉयड्स होते हैं जो हमारी आंखों के रेटिना के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

पालक का उपयोग कैसे करें?

  1. आपको बस 1 गिलास पालक का जूस निकाल कर पीना हैं।
  2. इसके साथ ही आप पालक को अपने दैनिक आहार में भी शामिल कर सकते है।

कब इस्तेमाल करें?

इसका सेवन आप रोजाना कर सकते हैं।

10. एलोवेरा है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Aloe Vera Hai Motiyabind Ka Gharelu Ilaj in Hindi):

सामग्री:

  • 1 बड़ा चम्मच एलोवेरा जेल

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा में कई औषधीय गुण होते हैं। इसके इथेनॉल और एथिल एसीटेट के अर्क का उपयोग आंखों की सूजन और आंख के बाहरी हिस्से, जैसे कॉर्निया के इलाज के लिए आई ड्रॉप के रूप में किया जा सकता है। हालांकि मोतियाबिंद के लिए यह कितना फायदेमंद होगा, इस पर अभी भी और कई नए शोध की जरूरत है। तो चलिए जानते है मोतियाबिंद का घरेलू इलाज (Home Remedies For Cataract in Hindi) में यह कैसे उपयोग किया जा सकता है-

एलोवेरा जेल का उपयोग कैसे करें?

  1. ताजा एलोवेरा जेल को कुछ देर के लिए फ्रिज में रख दें।
  2. इसके ठन्डे हो जाने के बाद आप इसे अपनी बंद पलकों पर लगाएं।
  3. 15 से 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और फिर पानी से धो लें।

कब इस्तेमाल करें?

आप इसका रोजाना इस्तेमाल कर सकते है।

मोतियाबिंद के लिए टिप्स (Motiyabind Ke Liye Tips in Hindi):

  1. अपनी आंखों को जितना हो सके आराम दें।
  2. मोतियाबिंद से पीड़ित लोगों को हमेशा कम रोशनी का इस्तेमाल करना चाहिए।
  3. अपने डॉक्टर से समय-समय पर आपके चश्मे या कॉन्टैक्ट लेंस की जांच करवाएं।
  4. यदि आपको देखने और चलने में कठिनाई हो रही है तो किसी का सहारा लें।
  5. टीवी और कंप्यूटर को तेज रोशनी में न देखें।
  6. आप अपनी जीवनशैली में बदलाव करें जैसे धूम्रपान छोड़ना और अपनी आंखों को सीधे ही धूप में न ले जाएँ। इससे आपकी मोतियाबिंद की समस्या में जल्दी रिकवरी होगी।
  7. आप कुछ भी देखने के लिए बड़ी स्क्रीन का उपयोग कर सकते हैं या स्पीकिंग सॉफ़्टवेयर के साथ अपने कार्य को आसान बना सकते हैं।

आशा है की इन सभी चीजो को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपचार और नुस्खे – Motiyabind Ka Gharelu Ilaj, Upchar Aur Nuskhe (Home Remedies For Cataract in Hindi)के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!