मयूरासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां [Mayurasana (Peacock Pose) Steps And Benefits in Hindi]

मयूरासन करने का तरीका और फायदे (Mayurasana Steps And Benefits in Hindi) : क्या आपको पता है मयूरासन करने का सही तरीका क्या है, अगर नहीं तो यहाँ हमने विस्तार में बताया है की मयूरासन कैसे करे और इसके फायदे क्या होते है।   

इसी लिए आज हम आपके लिए यह लेख लाये है, जिसे पढ़ने के बाद आपको यह ज्ञान हो जाएगा की मयूरासन कैसे करते है और मयूरासन के फायदे क्या होते है, तो चलिए शुरू करते है।

मयूरासन क्या है [What Is Mayurasana (Peacock Pose) in Hindi]:

मयूरासन को “Peacock Pose” के नाम से भी जाना जाता है। मयूर (Peacock) का अर्थ है “मोर” और आसन का अर्थ “मुद्रा”। इस आसन को करने से शरीर का आकार मोर जैसा दिखता है, इसलिए इसका नाम मयूरासन है। इस आसन में कलाई और हाथो को एक असामान्य स्थिति में रखना होता है। इसलिए इसे हस्ता मयूरासन के नाम से भी जाना जाता है।

घेरंड संहिता के अनुसार, मयूरासन शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है और शरीर को विषाक्त पदार्थों को पचाने और उनको चयापचय (मेटाबोलिज्म) करने की अनुमति देता है।

मोर भारतीय पौराणिक कथाओं द्वारा इंगित किया गया है- जो प्रेम, अमरता जागृति और आध्यात्मिकता का प्रतीक। मयूरासन एक विशेष रूप से उन्नत योग आसन है, जो हठ योग में एक हाथो का संतुलन (Arm Balance Yoga) आसन भी है। इस आसन का उल्लेख घेरंड संहिता में भी किया गया है।

यह एक मध्यवर्ती हाथो के संतुलन का योग आसन है जिसमे आपके शरीर का पूरा भार हाथों पर होता है,और शरीर हवा में होता है। यह शरीर में सुरक्षित रूप से शक्ति का निर्माण भी करता है।

जब आप पहली बार इसको करने का प्रयास करे तो यह मुश्किल हो सकता है। हालाँकि, थोड़े दिनों के अभ्यास से, कोई भी इस आसन में महारत हासिल कर सकता है। यह आपके पैर, और कलाई में लचीलेपन की सीमा को भी बढ़ता है।

मयूरासन (Mayurasana or Peacock Pose) के साथ आप कुछ योग मुद्राए जैसे की, शलभासन (टिड्डी मुद्रा-Locust Pose), गोमुखासन (Cow Face Pose), बालासन (Child Pose), चतुरंग दंडासन (Plank Pose), और उर्ध्व धनुरासन या चक्रासन (Wheel Pose)आप इन आसनो का अभ्यास या तो मयूरासन बीच में कर सकते हैं या अंत में कर सकते हैं।

प्रात: सुबह के समय करने के लिए यह सबसे अच्छा योगासन है, और इस योग आसन का अभ्यास करने से पहले आपको अपना पेट खाली रखना चाहिए।

(यह भी पढ़े – मार्जरी आसन करने का तरीका और फायदे [Marjariasana (Cat Pose) Steps And Benefits in Hindi])

बाबा रामदेव द्वारा बताया गया मयूरासन करने का सही तरीका [Baba Ramdev Mayurasana (Peacock Pose) Step By Step Instructions in Hindi]:

मयूरासन करने का तरीका (How To Do Mayurasana / Peacock Pose With Right Technique And Posture in Hindi):

  1. मयूरासन का अभ्यास करने के लिए, सबसे पहले आप एक योग चटाई ले और उस पर घुटनों के बल बैठ जाएं।
  2. पंजे एक साथ रखें और घुटनों को एक दूसरे से अलग रखें।
  3. अपने हाथों को फर्श पर अपनी उंगलियों के साथ अपने शरीर के पीछे की ओर रखें और हथेलियों को फर्श पर दबाएं।
  4. अपनी सुविधा और लचीलेपन को ध्यान में रख कर अपने हाथों की स्थिति को जमीं पर  व्यवस्थित कर लें और कंधो और कोहनियों को एक साथ रखें।
  5. अपनी कोहनी को एक समकोण की ओर थोड़ा मोड़ें। ऊपरी बाहों पर सामने की ओर आराम करें, और कोहनी को नाभि के किनारो पर रखें।
  6. अपने पेट को अपनी कोहनी पर दबाएं और अपने माथे को फर्श पर टिकाएं।
  7. अपने घुटने को सीधा करें, अपने दोनों पैरों को अपने पीछे फैलाएं।
  8. फर्श से अपना सिर उठाएं।
  9. इस स्थिति में, अपने पूरे शरीर को ऊपर उठाएं, पेट की मांसपेशियों पर कोहनी और शरीर के भार को पूरी तरह से हथेलियों द्वारा संतुलित करे।
  10. समान रूप से 3 या 5 सांस, या लगभग 10 सेकंड के लिए सांस लें। जैसा कि आप अभ्यास करते हैं, आप धीरे-धीरे इस समय को 50 सेकंड तक बढ़ा सकते हैं।
  11. इस मुद्रा से बाहर आने के लिए धीरे-धीरे अपने सिर और पैरों को फर्श पर ले जाएं, अपने घुटनों को मोड़ें, और अपने धड़ को अपनी बाहों से ऊपर उठाएं। और बालासन (बाल मुद्रा) और अधोमुख श्वानासन (डाउनवर्ड फेसिंग डॉग) में आराम करें।

(यह भी पढ़े – ताड़ासन करने का तरीका और फायदे | Tadasana (Mountain Pose) Steps and Benefits in Hindi)

Mayurasana Peacock Pose benefits in hindi, Mayurasana Peacock Pose in hindi, How to do the Mayurasana Peacock Pose in hindi, Mayurasana Peacock Pose karne ka tarika in Hindi, Mayurasana Peacock Pose ke fayde in Hindi, Mayurasana Peacock Pose ke fayde, Mayurasana Peacock Pose preparatory poses in hindi, मयूरासन के फायदे, मयूरासन करने का तरीका, मयूरासन करने की विधि
मयूरासन कैसे करे और इसके फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi]

मयूरासन के फायदे और लाभ (Health Benefits of Mayurasana / Peacock Pose Yoga in Hindi):

  • यह मधुमेह के लिए भी प्राकृतिक इलाज है।
  • यह कब्ज के लक्षणों को भी कम करता है।
  • यह ट्यूमर और बुखार से छुटकारा पाने में मदद करता है।
  • पाचन तंत्र को ठीक करने में इस आसन का अभ्यास अधिक फायदेमंद है।
  • यह योगासन विषैले पदार्थों को हटाकर रक्त को डिटॉक्सीफाई करता है।
  • यह शरीर की मुद्रा को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • यह योग पेट की मांसपेशियों को टोन करता है और प्लीहा, पित्ताशय की थैली, गुर्दे, लीवर, एवम पेट के अंगों को मजबूत करता है। और शरीर प्रणाली को भी प्रसारित करता हैं।
  • यह मणिपुर चक्र को भी उत्तेजित करता है क्योंकि नाभि पर मणिपुर चक्र स्थित होता है, जब कोहनियों को नाभि में दबाया जाता है, तो मणिपुर चक्र सक्रिय हो जाता है।
  • इस आसन के अभ्यास से रक्त परिसंचरण सही होता है।
  • यह एकाग्रता बढ़ाता है, और रोग प्रतिरोधक शक्ति को सुधारता है।
  • यह यौन गतिविधियों में भी सुधार करता है।
  • यह योगासन मन को शांत करता है और तनाव को कम करता है।
  • यह आसन कलाई, कंधे, कोहनी और रीढ़ को मजबूत बनाने में मदद करता है।

(यह भी पढ़े – Stamina Badhane Ke Liye Kya Khana Chahiye [25 Amazing Foods That Can Give You More Stamina])

मयूरासन से जुडी सावधानीयां (Precautions for Mayurasana / Peacock Pose Yoga in Hindi):

  • मयूर मुद्रा या मयूरासन उन लोगों के लिए अनुशंसित नहीं है जिनके पास उच्च रक्तचाप, हृदय और हर्निया जैसी चिकित्सा स्थितियां हैं।
  • पेरिमेनोपॉज़ल चरण में या रजोनिवृत्ति के दौरान भी महिलाओं को इस मुद्रा के अभ्यास से बचना चाहिए।
  • जिन लोगो को पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या है, उन्हें इस आसन को करने से बचना चाहिए।
  • अधिक वजन और गर्भवती महिलाओं को इस मुद्रा को नहीं करना चाहिए। यह जटिलताओं को जन्म दे सकता है।
  • यदि इस आसन को करते समय आपको कोई दर्द महसूस हो, तो आसन को रोक दें और आराम से बैठें।

आशा है इन सभी गुणों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की मयूरासन कैसे करे और इसके फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi] क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख मयूरासन करने का तरीका और फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi] पसंद आया होगा ,अगर आपको भी मयूरासन करने का तरीका और फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi] के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई मयूरासन करने का तरीका और फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi] के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी मयूरासन करने का तरीका और फायदे [Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi] के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!