जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (12 Effective Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama)

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) : हर महिला की माँ बनने की इच्छा होती है। कुछ महिलाएं आसानी से गर्भधारण करती हैं, जबकि कुछ को गर्भधारण करने में समस्या होती है। यह समस्या शारीरिक और मानसिक दोनों तरह की हो सकती है। इस तरह की कई समस्याएं योग से हल हो जाती हैं।

गर्भवती होने के लिए योग को बहुत फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि यह महिलाओं की प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है। इस लेख में हमने आपको जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) के बारे में विस्तार से बताया है, जो आपको जल्द ही गर्भधारण करने में मदद कर सकते है।

हालाँकि योग का नियमित अभ्यास महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है, और उनकी शारीरिक और मानसिक समस्या को दूर करने में मदद करता है, केवल योग ही आपको गर्भधारण करने के लिए काफी नहीं है।

इसके विपरीत आपको कई अन्य चीजो का भी ध्यान रखना होगा जो आपको जल्दी प्रेगनेंट होने में मदद कर सकते है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Pranayama And Yoga To Get Pregnant in Hindi) कौन कौन से है:-

विषय सूची:

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम कौन-कौन से है? (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama):

  • पश्चिमोत्तानासन योग [Paschimottanasana Yoga (Seated Forward Bend Pose)]
  • तितली आसन योग [Titli Asana Yoga (Butterfly Pose)]
  • विपरीत करनी आसन योग [Viparita Karani Asana Yoga (Legs Up The Wall Pose)]
  • बालासन योग [Balasana Yoga (Child Pose)]
  • सर्वांगासन योग [Sarvangasana Yoga (Shoulder Stand Pose)]
  • सेतुबंधासन योग [Setu Bandhasana Yoga (Bridge Pose)]
  • भुजंगासन योग [Bhujangasana Yoga (Cobra Pose)]
  • शवासन योग [Shavasana Yoga (Corpse Pose)]
  • ताड़ासन योग [Tadasana Yoga (Mountain Pose)]
  • पद्मासन योग [Padmasana Yoga (Lotus Pose)]
  • नाड़ी शोधन प्राणायाम (Nadi Shodhan Pranayama)
  • भ्रामरी प्राणायाम (Bhramari Pranayama)

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama):

1. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Paschimottanasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग कैसे लाभदायक है:

पश्चिमोत्तानासन योग मुद्रा अंडाशय और गर्भाशय को सुचारू रूप से कार्य करने लगते है। यह आसन पीठ के निचले हिस्से और कूल्हों की मांसपेशियों को लचीला बनाता है और महिलाएं नियमित रूप से इस आसन का अभ्यास करके तनाव और डिप्रेशन से राहत पा सकती हैं। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Paschimottanasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पश्चिमोत्तानासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Paschimottanasana Yoga Kare)

पश्चिमोत्तानासन योग करने की विधि:

  1. अपने पैरों को सामने फैलाकर बैठें, रीढ़ को सीधा रखें, और अंगुलिया तनी हुयी होनी चाहिए।
  2. सांस लेते हुए दोनों हाथों को सिर के ऊपर उठाएं और खींचे।
  3. अब साँस छोड़ते हुए, अपने नितम्ब के जोड़ से आगे झुकने का प्रयास करे अब जहां तक आपसे संभव हो अपने शरीर को आगे की और झुकाए और अपनी दृष्टि को पंजो की ओर केन्द्रित करे।
  4. आखिरी स्टेप में आपको अपने दोनों हाथों को पैरों के तलवों और नाक को घुटनों तक चुने का प्रयास करे, जितना आप से हो सके उतना की खिचाव डाले।
  5. शुरू में 5 सेकंड तक ऐसा करें और धीरे-धीरे तब तक आसन में बने रहने की कोशिश करें जब तक आप सहज महसूस न कर लें।
  6. साँस लें और अपनी शुरुवाती स्थिति में लौट जाए।
  7. यहाँ एक चक्र पूरा हुआ। शुरुवात में 30-60 सेकंड के लिए करें। स्वास्थ्य लाभ के लिए हर दिन 3 – 5 मिनट पर्याप्त है।

(यह भी पढ़े – नॉर्मल डिलीवरी के लिए योग)

2. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में तितली आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Titli Asana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में तितली आसन कैसे लाभदायक है:

तितली आसन आपके श्रोणि क्षेत्र और कूल्हों की मांसपेशियों में लचीलापन बनाता है। इस आसन को करने से महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ती है। यह श्रोणि क्षेत्र में अच्छे रक्त प्रवाह की अनुमति देता है। इस आसन से महिलाओं के हाई बीपी और अस्थमा की समस्या नियंत्रण में रहती है। यह थकान और तनाव से छुटकारा दिलाता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में तितली आसन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में तितली आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Titli Asana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में तितली आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Titli Asana Yoga Kare)

तितली आसन योग करने की विधि:

  1. अपनी योग चटाई बिछाकर उस पर दंडासन में बैठे।
  2. फिर अपने घुटनों को मोड़ें और पैरों के तलवों को एक दूसरे से मिलायें, और आप से जहाँ तक संभव हो अपनी एडियों को शरीर के करीब ले जायें।
  3. जांघ की मांसपेशियों को पूरी तरह से आराम दें और अपने हाथों के साथ-साथ अपने पैरों को पकड़ें।
  4. गहरी सांस लें। साँस छोड़ते हुए, अपने घुटनों को ऊपर-नीचे करें। जरूरत पड़ने पर घुटनों को दबाने के लिए कोहनी का इस्तेमाल करें।
  5. अब दोनों पैरों को तितली के पंखों की तरह ऊपर-नीचे करना शुरू करें।
  6. घुटनों को नीचे ले जाते समय जमीन को छूने की कोशिश करें। लेकिन ध्यान रखें कि ऐसा करने के लिए बल प्रयोग न करें।
  7. 30 से 50 बार टांगो को ऊपर निचे करें / लगभग दो से पांच मिनट के लिए इस मुद्रा को करें।

(यह भी पढ़े – बालों की ग्रोथ के लिए बेस्ट ऑयल (10 Best Oil For Hair Growth in Hindi))

3. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में विपरीत करनी आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Viparita Karani Asana Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में विपरीत करनी आसन कैसे लाभदायक है:

विपरीत करनी आसन मुद्रा करने से महिलाओं के पेल्विक एरिया में रक्त का प्रवाह अच्छा होता है। इस आसन को करने से कमर और रीढ़ लचीली होती है। यह आसन गर्भधारण करने में सहायक है। इस आसन को करने से पैरों की वैरिकाज़ नसों में रक्त प्रवाह सुचारू होता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में विपरीत करनी आसन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में विपरीत करनी आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Viparita Karani Asana Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में विपरीत करनी आसन करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Viparita Karani Asana Kare)

विपरीत करनी आसन योग करने की विधि:

  1. अपनी योग चटाई बिछा कर उस पर लेट जाये। अगर आप सहज महसूस न करे तो आप अपनी कमर पर कम्बल या तकिया लगा सकते है और अब सामान्य रूप से सांस लें।
  2. अब धीरे धीरे अपनी टांगो को ऊपर की ओर उठाये और जब टांगो से 45° कोण बन जाये तब अपनी कमर को हाथो से सहारा देते हुए अपने हिप्स को ऊपर उठाए जब तक वह एकदम सीधी ऊपर नही हो जाती।
  3. यह सुनिश्चित करे की आपकी कोहनियाँ जमीन पर हो और आपकी कमर को अच्छे से सहारा दे रहे हो।
  4. अपने पैरों को अपेक्षाकृत मजबूत रखें, बस उन्हें जगह में लंबवत रखने की कोशिश करे।
  5. गहरी सांस लेते रहें और अपनी सहूलियत के अनुसार इस स्थिति में रहें। शुरुआत में 30 – 60 सेकंड तक करें। स्वास्थ्य लाभ के लिए इस योग आसन का अभ्यास हर दिन 3 से 5 मिनट पर्याप्त है। हालांकि आध्यात्मिक लाभ के लिए योगी 15 मिनट तक कर सकते हैं।

4. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में बालासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Balasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में बालासन योग कैसे लाभदायक है:

रोजाना बालासन करने से कूल्हों, जांघों और टखनों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इस आसन को करने से मन शांत रहता है। यह थकान और तनाव से छुटकारा दिलाता है। यह श्रोणि क्षेत्र में अच्छे रक्त परिसंचरण में मदद करता है और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में बालासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में बालासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Balasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में बालासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Balasana Yoga Kare)

बालासन योग करने की विधि:

  1. बालासन/बच्चे की मुद्रा करने के लिए अपनी योग चटाई पर बैठें।
  2. वज्रासन में अपने घुटनों के बल बैठ जाएं। इस मुद्रा में, अपने हाथो को जांघों पर रखे।
  3. अपने पैरों के दोनों घुटनों को एक दूसरे से या थोड़ी दूरी पर एक-दूसरे से चिपका कर रखें और कमर को बिल्कुल सीधा रखें।
  4. अब सांस लें, दोनों हाथों को सीधे सिर से ऊपर उठाएं। हथेलियों को न जोड़ें।
  5. अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें। ध्यान रखें कि कूल्हे के जोड़ों को झुकाना है, कमर के जोड़ों को नहीं।
  6. जब तक आपकी हथेलियां जमीन को न छुएं तब तक आगे झुकते रहें।
  7. अब सिर को जमीन पर ले जाएं।
  8. अब आप जिस मुद्रा में है वह बालासन/बच्चे की मुद्रा हैं, अब पूरे शरीर को रिलैक्स करने दे और फिर एक गहरी सांस लें और उसे छोड़े।
  9. दोनों हाथों की उंगलियां कसकर जोड़ ले। आपको उनके बीच में अपना सिर रखकर उनका सहारा देना होगा।
  10. अब सिर को धीरे-धीरे दोनों हथेलियों के बीच में रखें एवम अपनी सांस को सामान्य रखें।
  11. अब आप 1 से 5 मिनट तक बालसन/बच्चे की मुद्रा में रह सकते है।
  12. इस आसान से बाहर निकलने के लिए, सबसे पहले, अपनी हथेलियों को कंधे के नीचे लाएं और धीरे-धीरे अपने ऊपरी शरीर को उठाएं और पिछली स्थिति में वापस आ जाएं और आराम से सांस लें। इन सभी क्रियाओं को आराम से करें।

(यह भी पढ़े – झड़ते बालों के विकास के लिए सर्वश्रेष्ठ पतंजलि हेयर प्रोडक्ट्स (10 Effective Hair Loss Solution in Patanjali in Hindi))

5. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सर्वांगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Sarvangasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सर्वांगासन योग कैसे लाभदायक है:

नियमित रूप से सर्वांगासन योग मुद्रा करने से थायरॉयड ग्रंथि को आराम मिलता है और हार्मोन को आसानी से रिलीज होने की अनुमति मिलती है। इस आसन को करने से गर्भाशय में रक्त ठीक से प्रवाहित होता है। यह श्रोणि क्षेत्र को आराम देता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सर्वांगासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सर्वांगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Sarvangasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सर्वांगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Sarvangasana Yoga Kare)

सर्वांगासन योग करने की विधि:

  1. सबसे पहले स्वच्छ खुले वातावरण में एक योग मैट बिछा लें।
  2. जिससे इस आसन को करते समय शरीर को स्वच्छ ऑक्सीजन मिले।
  3. अब इस आसन को करने के लिए योग मैट पर पीठ के बल लेट जाएं।
  4. दोनों हाथ और पैर सीधे जमीन पर होने चाहिए।
  5. हथेलियों को जमीन की तरफ रखें ,और दोनों पैर एक दूसरे से सीधे सटे होने चाहिए।
  6. अब धीरे-धीरे सांस लेते हुए दोनों पैरों, कूल्हों और कमर को धीरे-धीरे ऊपर की तरफ उठाएं।
  7. अब अपनी कमर और पीठ को ऊपर की ओर उठाने के लिए दोनों हाथों की कोहनी को जमीन पर रखें और हथेलियों से अपनी कमर को सहारा दें।
  8. ध्यान रहे कि इसको करते समय आपके दोनों पैर सीधे रहें, अपने घुटनों को मोड़ने न दें।
  9. इस आसन में शरीर का पूरा भार कंधों और सिर पर होगा।
  10. इसे करते समय ठोड़ी को छाती से स्पर्श कर के रखें।
  11. अपने कंधे से कोहनी तक के क्षेत्र को जमीन के करीब रखें और अपने चेहरे को आकाश या पैरों के अंगूठे की ओर रखें।
  12. अपने शरीर को स्थिर करें और अपनी क्षमता के अनुसार कुछ देर तक इस मुद्रा में बने रहें।
  13. सांस को सामान्य रखें।
  14. सर्वांगासन से बाहर आने के लिए, कमर और पैरों को धीरे-धीरे नीचे लाएं और अपने हाथों को जमीन पर रखें।
  15. अपनी प्रारंभिक अवस्था में आ जाएं।

6. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सेतुबंधासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Setu Bandhasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सेतुबंधासन योग कैसे लाभदायक है:

सेतुबंधासन योग मुद्रा करते समय, श्रोणि क्षेत्र ऊपर की ओर होने के कारण, रक्त गर्भाशय और अंडाशय में अच्छी तरह से परिचालित होता है। यह मासिक धर्म की समस्याओं को कम करता है। इस आसन को करने से तनाव से राहत मिलती है। इससे थायराइड हार्मोन नियंत्रित रहता है। यह पीठ की मांसपेशियों को आराम देता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सेतुबंधासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सेतुबंधासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Setu Bandhasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में सेतुबंधासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Setu Bandhasana Yoga Kare)

सेतुबंधासन योग करने की विधि:

  1. सेतुबंधासन करने के लिये सबसे पहले एक योग चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएं।
  2. अपने घुटनों को मोड़ें।
  3. घुटनों और पैरों को सीधी रेखा में रखते हुए दोनों पैरों को एक-दूसरे से थोड़ा गैप रखते हुए फैलाएं।
  4. हाथों को शरीर से सटाकर रखें और हाथों की हथिलियो को जमीन पर सटा कर रखे।
  5. धीरे-धीरे साँस लेते हुए, अपनी पीठ के निचले, मध्य और ऊपरी हिस्सों को धीरे से जमीन से ऊपर उठाएं।
  6. धीरे-धीरे अपने कंधों को अंदर की ओर ले जाएं।
  7. अपनी ठोड़ी को हिलाए बिना, अपनी ठोड़ी के साथ अपनी छाती लगाएं और अपने वजन के साथ अपने कंधों, हाथों और पैरों का समर्थन करें। इस दौरान निचले शरीर को स्थिर रखें और ध्यान रहे की इस दौरान दोनों जांघें एक साथ रहेंगी।
  8. यदि आप चाहें तो इस समय के दौरान, आप अपने ऊपरी शरीर को जमीन पर हाथों से दबाकर उठा सकते हैं। आप अपने हाथों से अपनी कमर का सहारा भी ले सकते हैं।
  9. साँस छोड़ते हुए आसन को 1-2 मिनट तक करें फिर आसन को समाप्त करे।

(यह भी पढ़े – 7 Effective Yoga for Varicocele in Hindi (जानिए वैरीकोसेल के लिए योग हिंदी में))

7. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भुजंगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhujangasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भुजंगासन योग कैसे लाभदायक है:

नियमित रूप से भुजंगासन योग मुद्रा का अभ्यास महिला के गर्भाशय में आवश्यक हार्मोन पहुंचाता है और उनकी प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है। इस आसन को करने से पीठ दर्द में राहत मिलती है। इससे कब्ज और गैस की समस्या दूर होती है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भुजंगासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भुजंगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhujangasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भुजंगासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhujangasana Yoga Kare)

भुजंगासन योग करने की विधि:

  1. सबसे पहले योग मेट बिछा कर उस पर पेट के बल लेट जाएं।
  2. अपने पैरों को उंगलियों के बल टिका लें या पैर के तलवो को उपर छत की ओर करके रखें।
  3. अपने पैरों को एकसाथ सीधा और खुला रखें।
  4. हाथों की हथेलियों को छाती के पास कंधों या सिर के दोनों तरफ रखें।
  5. अपने मस्तक या माथे को जमीन पर सीधा रखें।
  6. अब आपको एक गहरी सांस लेते हुए, अपने ऊपरी शरीर को ऊपर की ओर उठाना है।
  7. आपको पहले सिर, फिर छाती और अंत में नाभि तक के क्षेत्र को ऊपर उठाना होगा।
  8. इसके लिए अपनी हाथों की हथेलियों को अपने कंधों के बराबर रखते हुए, हाथों से जमीन की ओर दबाव डाल कर नाभि तक के शरीर को ऊपर उठाने का प्रयास करें।
  9. अब दोनों हाथों को सीधा करें और गर्दन उठाते हुए आकाश की ओर देखने का प्रयास करें और 15-30 सेकेंड के लिए इसी स्थिति में रहें।
  10. अपने शरीर का भार दोनों हाथों पर बराबर बना कर रखें और सामान्य रूप से सांस लेते रहें।
  11. ध्यान रहे की आपके पेट या नाभि से नीचे शरीर का सारा हिस्सा जमीन से नहीं उठना चाहिए।
  12. आराम से पीठ को जितनी मोड़ सकें उतनी ही मोड़ें, जबरदस्ती या क्षमता से ज़्यादा जोर ना लगाए।
  13. अब धीरे-धीरे अपनी सांस छोड़ें और अपनी प्रारंभिक अवस्था में लौट आएं।

(यह भी पढ़े – 7 Effective Yoga for Varicose Veins in Hindi (योगा फॉर वैरिकोज वेन्स))

8. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में शवासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Shavasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में शवासन योग कैसे लाभदायक है:

नियमित रूप से शवासन मुद्रा का अभ्यास करने से आपके शरीर को आराम मिलता है। यह तनाव और थकान से राहत देता है। यह आसन महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में शवासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में शवासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Shavasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में शवासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Shavasana Yoga Kare)

शवासन योग करने की विधि:

  1. शवासन में, बस लेटना होता है। एक कुरसी या चटाई बिछाकर अपनी पीठ के बल लेट जाएँ। जरूरत पड़ने पर अपनी गर्दन के नीचे एक छोटा तकिया रखें। अपनी आँखें बंद करें।
  2. दोनों हाथों को शरीर से कम से कम 4-5 इंच दूर रखें।
  3. अपने पैरों को आराम से फैलाएं, दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखें। दोनों पैरों की अंगुलियां एक दूसरे के विपरीत होनी चाहिए।
  4. हथेलियों को आकाश की ओर रखें और अपने हाथों को शरीर के साथ रखें लेकिन अपने शरीर को न छुएं।
  5. अपना ध्यान धीरे-धीरे शरीर के हर हिस्से पर लगा लें और अपने पूरे शरीर को आराम दें, एवम सम्पूर्ण शरीर को ढीला छोड़ दें।
  6. अपनी आँखें बंद करें। अब थोड़ी सांस लें। धीमी और गहरी सांस लें और हर सांस का आनंद ले। अपने मन में उत्पन्न होने वाली उत्तेजना, जल्दबाजी या किसी भी बात पर ध्यान न दें। बस अपने तन और मन के साथ रहें। अपने पूरे शरीर को पृथ्वी पर समर्पित करें और आराम करें। इस बात का ध्यान रखें कि इस आसन को करते समय आपको नींद न आ जाए।
  7. अब अपना सारा ध्यान अपनी सांसों पर केंद्रित करें।
  8. कम से कम 5 से 10 मिनट के लिए इसी स्थिति में रहें फिर जब आप पूर्णता का अनुभव करते हैं, तो आप धीरे-धीरे अपनी आँखें खोल सकते हैं।
  9. अब उठो और अपने दाहिने हाथ के सहयोग से बैठ जाए।
  10. इस मुद्रा के अंत में सांस लेने पर ध्यान दें। अपने हाथों और पैरों की उंगलियों को हल्के से हिलाना शुरू करें, फिर अपनी कलियों को घुमाएं। अब अपने हाथ ऊपर उठाएं और अपने सम्पूर्ण शरीर को खिचाव या स्ट्रेचिंग दे और धीरे-धीरे उठकर आलथी-पालथी मार कर बैठ जाएं।

(यह भी पढ़े – एलोपेसिया का होम्योपैथिक उपचार, इलाज और दवा (Alopecia Treatment in Homeopathy in Hindi))

9. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में ताड़ासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Tadasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में ताड़ासन योग कैसे लाभदायक है:

हर दिन ताड़ासन योग मुद्रा का अभ्यास करना श्रोणि क्षेत्र में रक्त प्रवाह को सुचारू बनाता है। यह आसन बैठने, चलने और खड़े होने पर मांसपेशियों को लचीला बनाता है। यह आसन शरीर के लगभग सभी अंगों को प्रभावित करता है और प्रजनन प्रणाली को स्वस्थ रखने में मदद करता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में ताड़ासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में ताड़ासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Tadasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में ताड़ासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Tadasana Yoga Kare)

ताड़ासन योग करने की विधि:

  1. एक साफ और खुली जगह चुनें और योग मैट, दरी या कंबल बिछा कर उस पर खड़े हो जाये।
  2. अब पैरों और कमर को सीधा करके योगा मैट पर खड़े हो जाएं।
  3. सीधे खड़े होकर पैरों के बीच कुछ दूरी रखें।
  4. अपने दोनों हाथों को अपने शरीर के करीब रखें।
  5. अब गहरी सांस लें, अपनी दोनों बाहों को सिर से ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियों को एक साथ बांध लें।
  6. अब अपने हाथ सीधे रखें और स्ट्रेच करें, इस दोरान आपकी हथेलियों की दिशा आकाश की तरफ होनी चाहिए।
  7. अब आपको अपनी एड़ी ऊपर करते हुए अपने पेरो की उंगलियों पर खड़े होना है।
  8. इस दौरान आपके शरीर को पैरों से लेकर हाथों की उंगलियों तक खिंचाव महसूस करना चाहिए।
  9. अब 10 सेकंड तक इस पोजीशन में रहें और सांस लेते रहें।
  10. फिर सांस छोड़ते हुए शुरु की अवस्था में आ जाएं और इस आसन को कम से कम 10 बार जरुर दोहराएं।

10. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पद्मासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Padmasana Yoga Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पद्मासन योग कैसे लाभदायक है:

रोजाना पद्मासन योग मुद्रा का अभ्यास करने से मन शांत रहता है। इस आसन को करने से महिलाओं का रक्तचाप नियंत्रण में रहता है। इससे विभिन्न हार्मोन का संतुलन बना रहता है और प्रजनन क्षमता भी बढ़ती है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पद्मासन योग करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पद्मासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Padmasana Yoga Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में पद्मासन योग करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Padmasana Yoga Kare)

पद्मासन योग करने की विधि:

  1. सबसे पहले, एक योग चटाई लें और उस पर बैठ जाएँ।
  2. रीढ़ को सीधा रखें और पैरों को सामने की ओर फैलाकर रखें।
  3. आपको कमर और गर्दन को बिल्कुल सीधा रखना है।
  4. अब धीरे -धीरे दाहिने घुटने को मोड़ें और इसे अपनी बाईं जांघ पर रखें।
  5. ध्यान रहे की पैर की एड़ी पेट के निचले हिस्से को छूती हो और पैरों के तलवे ऊपर की ओर हो।
  6. अब आपको अपने दूसरे पैर के साथ भी यही प्रक्रिया दोहरानी हैं।
  7. अब अपनी हाथों की कोहनी को अपने घुटनों पर रखें और ध्यान की मुद्रा में आ जाएँ।
  8. अब इसी स्थति में बने रहे और धीरे -धीरे लंबी और गहरी सांस लेते रहें।
  9. आप इस आसन में जितनी देर आराम से बैठ सकें उतनी देर तक इस आसान में बैठें।

11. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में नाड़ी शोधन प्राणायाम करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Nadi Shodhan Pranayama Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में नाड़ी शोधन प्राणायाम कैसे लाभदायक है:

नाड़ी शोधन प्राणायाम करने से शरीर के विभिन्न भागों में ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है। इससे तनाव दूर रहता है और दिमाग शांत होता है। अगर गर्भावस्था में जाने वाली महिलाए इसका नियमित रूप से अभ्यास करती है, तो यह उनकी प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकता है और उन्हें गर्भ धारण करने में मदद कर सकता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में नाड़ी शोधन प्राणायाम करने की विधि क्या है?

नाड़ी शोधन प्राणायाम करने का तरीका और फायदे - Nadi shodhana pranayama (Alternate nostril breathing) steps and benefits in Hindi
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में नाड़ी शोधन प्राणायाम करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Nadi Shodhan Pranayama Kare)

नाड़ी शोधन प्राणायाम करने की विधि:

  1. सबसे पहले अपने रीढ़ की हड्डी और कंधों को सीधा करते हुए आराम से ध्यान की अवस्था में बैठें।
  2. अपने बाएं हाथ को बाएं घुटने पर रखें और दाहिने हाथ की अंगुलियों को मुंह के सामने लाएं।
  3. तर्जनी उंगली या (इंडेक्स फिंगर) और मिडिल फिंगर को धीरे-धीरे माथे के बीच रखें। दोनों अंगुलियों पर ज्यादा दबाव न रखें, अंगुलियों को आराम से रखें।
  4. अनामिका और छोटी उंगली को बाएं नथुने और अंगूठे को दाईं नासिका के बीच रखें। हम दायें नथुने के लिए बायीं नासिका और अंगूठे को खोलने या बंद करने के लिए अनामिका और छोटी उंगली का उपयोग करेंगे।
  5. अपने अंगूठे को दाएं नथुने पर दबाएं और बाएं नथुने से धीरे से सांस छोड़ें।
  6. अब बाईं नासिका से सांस लें और फिर अनामिका और छोटी उंगली से बाईं नासिका को धीरे से दबाएं। दाहिने नथुने से दाहिने अंगूठे को हटाते हुए, दाईं ओर से सांस लें।
  7. दोनों नथुनों से बारी-बारी से सांस लेते रहे, और प्रत्येक साँस छोड़ने के बाद, उसी नथुने से साँस लेना याद रखें जिसमें से आपने साँस छोड़ी थी। अपनी आँखें बंद रखें और बिना किसी बल या प्रयास के लंबी, गहरी साँसें लेते रहें।
  8. आप अपनी छोटी उंगलीयो को अंदर की ओर मोड़ सकते हैं।
  9. इस एक्सरसाइज को आप 30 मिनट तक करें।

(यह भी पढ़े – झड़ते बालों के लिए आयुर्वेदिक उपाय (10 Effective Hair Fall Solution in Ayurveda in Hindi))

12. जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhramari Pranayama Kare):

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम कैसे लाभदायक है:

भ्रामरी प्राणायाम महिलाओं के हाई ब्लड प्रेसर को नियंत्रित करने में मदद करता है। सिरदर्द से राहत देता है, मन को शांत करता है और हमे अच्छी नींद प्रदान करने में मदद करता है। भ्रामरी प्राणायाम सेक्स हार्मोन के संतुलन को बनाए रखता है और गर्भधारण में मदद करता है। तो आइये जानते है जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम करने की विधि क्या है?

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhramari Pranayama Kare)
जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग में भ्रामरी प्राणायाम करे (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Me Bhramari Pranayama Kare)

भ्रामरी प्राणायाम करने की विधि:

  1. किसी भी जगह एक शांत वातावरण में, जहां पर अच्छी हवा आती जाती हो ध्यान करने के किसी भी सुविधाजनक आसन में बैठें और अपनी आँखें बंद कर लें।
  2. अब कुछ समय के लिए अपनी आँखें बंद रखें।
  3. शरीर में संवेदनाएं और आंतरिक शांति पर ध्यान केन्द्रित करें।
  4. अपनी तर्जनी या मध्यमा उंगली (Middle Finger) को अपने कानों पर रखें।
  5. आपके गाल और कान के बीच एक कार्टिलेज है, अपनी तर्जनी को कार्टिलेज पर रखें।
  6. गहरी सांस अंदर लेते हुए और धिरे-धिरे सांस छोड़ें और धीरे से कार्टिलेज को दबाएं।
  7. अब आप मधुमक्खी की तरह तेज गुनगुना आवाज (Humming Sound) करते हुए कार्टिलेज को दबाए रख सकते हैं या उसे अपनी उंगलियों से अंदर-बाहर कर सकते हैं।
  8. चाहे तो आप कम आवाज़ वाली आवाज़ भी कर सकते हैं लेकिन बेहतर नतीजों के लिए ऊंची पिच बनाना अच्छा होता है।
  9. फिर से गहरी सांस लेते रहे एवम एक ही पैटर्न 3-4 बार जारी रखें।

जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग करते समय क्या सावधानियां बरतनी चाहिए (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Kya Savdhani Barte in Hindi):

योग जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए या गर्भावस्था के दौरान एक महिला को अत्यधिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। लेकिन विभिन्न योग आसनों को करते समय सावधानी बरतना भी उतना ही आवश्यक है। यहां कुछ बिंदु दिए गए हैं, जिन्हें आपको गर्भावस्था में योग करते समय याद रखना चाहिए:-

  1. किसी भी प्रकार के योग आसन का प्रयास न करें, गर्भवती महिला के लिए उपयुक्त कुछ ही आसन होते हैं।
  2. इन अभ्यासों को अकेले करने की कोशिश न करें क्योंकि एक पेशेवर की देखरेख में उन्हें प्रदर्शन करना किसी भी प्रकार की ऐंठन या चोट से बचने में मदद कर सकता है।
  3. हमेशा वार्म अप के साथ योग का अभ्यास शुरू करें, योग से पहले अपने शरीर को थोड़ा सा खुलने दें।
  4. अपने चिकित्सक से परामर्श करें यदि आप किसी भी प्रकार की असुविधा का अनुभव करते हैं जो व्यायाम के किसी भी रूप में या उसके बाद आपको प्रभावित करता है।
  5. सही तरीके से योग आसन और विभिन्न श्वास तकनीकों का अभ्यास करना बहुत महत्वपूर्ण है।
  6. आपको योग आसन करने की आदत नहीं डालनी चाहिए, इसके लिए आपको अपनी पहली तिमाही खत्म होने के बाद ही योग करने का अभ्यास करना चाहिए।
  7. आपको अधिक समय तक सांस लेने से बचना चाहिए।
  8. योग आसनों को संतुलित करते हुए आपको सावधानी बरतनी चाहिए।
  9. योग के सत्र से पहले और बाद में आपके शरीर के पोषण और जलयोजन की जरूरतों पर ध्यान देने की सिफारिश की जाती है।
  10. आपको योग के लिए आरामदायक कपड़े पहनने चाहिए।
  11. आपको ओवर-स्ट्रेचिंग से बचना चाहिए।
  12. आपको योग के सत्र के बाद आराम करना चाहिए।
  13. गर्भावस्था के दौरान योग के कई फायदे हैं। यह गर्भावस्था के दौरान न केवल माँ को स्वस्थ रखता है, बल्कि प्रसव के दौरान भी फायदेमंद होता है। हालांकि, आपको किसी भी योग आसन को करने या अभ्यास करने से पहले चिकित्सकीय मार्गदर्शन लेना अनिवार्य है।

आशा है इन सभी योगासनों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) क्या होते है।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) पसंद आया होगा ,अगर आपको भी जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी जल्दी प्रेगनेंट होने के लिए योग और प्राणायाम (Jaldi Pregnant Hone Ke Liye Yoga Aur Pranayama) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!