यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार (12 Effective Home Remedies For Urine Infection in Hindi)

0

यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार  – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi): पेशाब में जलन या दर्द को “डिसुरिया” कहा जाता है। यह आमतौर पर मूत्रमार्ग या आपके जननांगों के आसपास महसूस होता है। मूत्रमार्ग वह ट्यूब है जो आपके मूत्राशय से मूत्र को बाहर निकालती है। पुरुष हो या महिला, सभी को एक ही समस्या का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अगर महिलाओं की बात की जाए तो 50 प्रतिशत महिलाएं पेशाब में जलन की समस्या से प्रभावित होती हैं।

कई बार यह समस्या और भी बढ़ जाती है। जिससे आपके लिए एक मिनट भी बैठना असंभव हो जाता है। पेशाब में जलन अपने आप में कोई बीमारी नहीं है, यह सिर्फ अन्य बीमारियों का लक्षण है। है। पेशाब में जलन एक बहुत ही आम समस्या है, जो यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन, किडनी में स्टोन और डिहाइड्रेशन के कारण होती है।

कुछ लोग इस समस्या से जल्द ही निजात पा लेते हैं तो इसमें अधिक समय भी लग जाता है। इसके लिए कई लोग बार-बार इलाज भी कराते हैं। ऐसा माना जाता है कि जब हमारे शरीर में पानी की कमी हो जाती है। तब यह समस्या और बढ़ जाती जानिए पेशाब में जलन को दूर करने के घरेलू उपाय।

यूरीन इंफेक्शन के लक्षण (Symptoms of urine infection in Hindi):

आप इन लक्षणों से ट्रैक्ट इन्फेक्शन की पहचान कर सकते हैं:-

  • बुखार 101 डिग्री से नीचे रहना और ठंड लगना।
  • ठीक ना लगना।
  • छोटे बच्चों में बुखार के साथ उल्टी होना।
  • भूख में कमी
  • पीठ दर्द।
  • मतली
  • पेशाब करते समय दर्द होना।
  • लगातार पेशाब आना।
  • पेशाब में खून आना।
  • पेशाब का मवाद।
  • एक समय में पूर्ण पेशाब।
  • बार-बार पेशाब आने जैसा महसूस होना, लेकिन बेचैनी के साथ थोड़ी परेशानी होना।
  • नाभि के नीचे पेट में दर्द और भारीपन।
  • गंदा और गहरे रंग का बदबूदार पेशाब।
  • हाइपोथर्मिया, भूख न लगना और बुजुर्गों में सुस्ती।

(यह भी पढ़े – 17 Effective Foods To Eat In High Blood Pressure Diet Plan in Hindi (उच्च रक्तचाप के लिए खाद्य पदार्थ))

कभी-कभी, पेशाब में जलन भी योनि में संक्रमण से जुड़ी हो सकती है, जिसमें निम्नलिखित लक्षण शामिल हो सकते हैं:-

  • योनि की खुजली
  • योनि में दर्द और जलन
  • सेक्स के दौरान दर्द या बेचैनी महसूस होना
  • योनि स्राव, आमतौर पर गंधहीन और पानीदार

एड्स, क्लैमाइडिया या सिफलिस जैसे यौन संचारित संक्रमण भी पेशाब में दर्द और जलन पैदा कर सकते हैं। वे निम्नलिखित लक्षण भी पैदा कर सकते हैं जैसे:

  • खुजली
  • डाह करना
  • जननांग दाद के छाले या छाले
  • असामान्य निर्वहन

पेशाब में जलन क्यों होती है? (Why is there burning in urination?):

पेशाब में जलन होने के कई कारण हो सकते हैं:-

महिलाओं में पेशाब में जलन के कारण (Causes of burning urination in women):

महिलाओं के लिए पेशाब में जलन और दर्द का परिणाम हो सकता है:-

  • मूत्राशय संक्रमण (सिस्टिटिस)
  • योनि में संक्रमण
  • यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI)
  • गर्भाशय ग्रीवा की सूजन (एंडोमेट्रैटिस) और मूत्र पथ के बाहर अन्य कारण, जिसमें डायवर्टीकुलोसिस और डायवर्टीकुलिटिस शामिल हैं
  • मूत्राशय या मूत्रमार्ग (मूत्रमार्ग) की सूजन। सूजन आमतौर पर एक संक्रमण के कारण होता है
  • अन्य कारण भी हो सकते हैं, जैसे संभोग, साबुन, सुगंधित टॉयलेट पेपर, गर्भनिरोधक स्पंज का उपयोग, या शुक्राणुनाशक।

(यह भी पढ़े – मोतियाबिंद का घरेलू इलाज, उपाय, उपचार और नुस्खे (10 Effective Home Remedies For Cataract in Hindi))

पुरुषों में पेशाब में जलन के कारण (Causes of burning urination in men):

पुरुषों में पेशाब में जलन और दर्द के निम्न कारण हो सकते हैं –

  • मूत्र पथ के संक्रमण और मूत्र पथ के बाहर अन्य संक्रमण, जिसमें डायवर्टीकुलोसिस और डायवर्टीकुलिटिस शामिल हैं
  • प्रोस्टेट रोग
  • कैंसर

पेशाब में जलन से बचाव कैसे करें? (How to prevent burning in urine?):

पेशाब में जलन, जलन और दर्द जैसी समस्याओं को रोकने के कई तरीके हैं।

  1. तरल पदार्थ का खूब सेवन करें।
  2. सोते समय और संभोग के बाद पेशाब करें।
  3. पेशाब को ज्यादा देर तक अंदर न रखें।
  4. यौन स्वच्छता और अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखें।
  5. यदि आपको डिसुरिया है, तो ऐसे किसी भी उत्पाद का सेवन करने से बचें जो जननांगों को उत्तेजित करता हो।
  6. कई भागीदारों के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने से बचें।
  7. हमेशा कंडोम का उपयोग करें या सुरक्षित सेक्स का अभ्यास करें।
  8. शराब और कॉफी जैसे मूत्राशय में जलन पैदा करने वाले पदार्थों से बचें।
  9. नियमित रूप से पेशाब करें और अपने मूत्राशय को पूरी तरह से खाली रखें।
  10. सूती कपडे पहनें और गैर-बाध्यकारी कपड़े पहनें जो गर्मी और नमी न खींचे।

(यह भी पढ़े – PCOS के लिए होम्योपैथिक इलाज और उपचार (10 Effective PCOS Homeopathy Treatment in Hindi))

पेशाब में जलन का उपचार कैसे करें (how to treat burning in urine in hindi):

पेशाब में जलन और दर्द होने की स्थिति में डॉक्टर मरीज के पेशाब की जांच करते हैं ताकि लक्षणों का पता लगाया जा सके। इसी जांच के आधार पर वह दवा देने का फैसला करता है।

पेशाब में जलन और दर्द होने पर डॉक्टर मरीज को कुछ एंटीबायोटिक दवाओं की खुराक देते हैं। ताकि ये एंटीबायोटिक्स मरीज को पेशाब और जलन से राहत दिला सकें।

जिन लोगों को बार-बार मूत्राशय में संक्रमण होता है। उन व्यक्तियों के लिए, डॉक्टर 6 महीने तक एंटीबायोटिक दवाओं का एक कोर्स लेने का सुझाव देते हैं।

यूरीन इंफेक्शन का घरेलू इलाज (Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

पेशाब में जलन का घरेलु उपाय आप इन उपायों से कर सकते हैं:-

1. यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू उपचार में आजमायें इलायची (Use Cardamom in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

5-7 इलायची के दाने पीस लें। इसमें आधा चम्मच सोंठ का पाउडर मिलाएं। इसमें अनार का रस और सेंधा नमक मिलाएं। इसे गुनगुने पानी में मिलाकर पिएं। इलायची की मदद से यूरिन इन्फेक्शन का आयुर्वेदिक इलाज किया जा सकता है।

2. यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू उपाय में आजमायें नारियल (Use Coconut in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

नारियल पानी पीने से पेशाब के दौरान होने वाले यूरिनरी इन्फेक्शन के लक्षणों में आराम मिलता है। यह पेट को ठंडा करने का भी काम करता है।

(यह भी पढ़े – स्तंभन दोष के लिए सर्वश्रेष्ठ घरेलू उपचार (8 Effective Home Remedies For Erectile Dysfunction And Premature Ejaculation In Hindi))

3. यूरिन इन्फेक्शन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय में खाएं फल (Eat Fruits in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

खट्टे फल अधिक लें। आप संतरा, मौसमी आदि खा सकते हैं। ये शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को मारते हैं।

4. यूरिन इन्फेक्शन के इलाज का घरेलू उपाय में आजमाए बादाम (Eat Almonds Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

बादाम, छोटी इलाइची और मिश्री की 5-7 गुठली पीस लें। इसे पानी में मिलाकर पिएं। यह दर्द और पेशाब में राहत देता है।

5. यूरिन इन्फेक्शन को दूर करने का घरेलू उपाय में आजमाए आंवला (Use Gooseberry in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

एक चम्मच आंवला पाउडर में दो से तीन इलायची के दाने पीसकर मिला लें। इसे पानी के साथ पिएं। इससे लाभ होता है। आंवला यूरिन इन्फेक्शन के इलाज में मदद करता है।

(यह भी पढ़े – पीलिया में क्या खाएं और क्या न खाएं (17 Effective Foods For Jaundice Diet Chart in Hindi))

6. यूरिन इन्फेक्शन के इलाज का घरेलू उपाय में गेहूं है सहायक (Use Wheat in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

रात को पानी में एक मुट्ठी गेहूं मिलाकर सुबह पानी छानकर मिश्री के साथ मिलाकर खाएं। इससे लाभ होता है। यूरिन इन्फेक्शन या यूरिन इन्फेक्शन के इलाज में मदद मिलती है।

7. यूरिन इन्फेक्शन के इलाज के लिए घरेलू उपचार में आजमाए चंदन (Use Sandalwood in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

आधा चम्मच चंदन का पाउडर लें और उसमें एक चम्मच पानी मिलाकर पिएं। बेहतर उपचार के लिए किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह लें।

8. यूरिन इन्फेक्शन के इलाज के लिए घरेलू उपचार में अदरक और काला तिल फायदेमंद (Use Ginger and Black Sesame in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

अदरक और काले तिल को मिलाकर बारीक पीस लें। इसमें एक चौथाई हल्दी पाउडर और कुछ गिलास पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे दिन में 2-3 बार चाटें।

(यह भी पढ़े – कोलेस्ट्रॉल का आयुर्वेदिक इलाज और उपचार (Ayurvedic Treatment Of Cholesterol in Hindi))

9. यूरिन इन्फेक्शन का घरेलू उपचार है क्रैनबेरी जूस (Use cranberry juice in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

क्रैनबेरी जूस लें। इससे दर्द और जलन (यूरिनरी इन्फेक्शन के लक्षण) में आराम मिलता है। यह उपाय भी लाभ देता है।

10. यूरिन इन्फेक्शन के इलाज के घरेलू उपाय में कारगर है सेब का सिरका और शहद (Use Apple Cider Vinegar and Honey in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

एक गिलास गुनगुने पानी में दो चम्मच सेब का सिरका और एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं। ट्रैक्ट में इंफेक्शन होने पर फायदा होता है।

11. यूरिन इन्फेक्शन का इलाज करने का घरेलू उपाय में आजमाए अनानास (Use Pineapple in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

अनानास का फल या जूस लें। यह बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करता है। यह यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन से राहत दिलाता है।

12. यूरिन इन्फेक्शन का घरेलु इलाज है दही और छाछ (Eat Curd and Buttermilk in Home Remedies For Urine Infection in Hindi):

यूरिनरी इन्फेक्शन में छाछ और दही खाना बेहद फायदेमंद होता है। ये शरीर में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को दूर करते हैं।

जलन के दौरान यूरिन इन्फेक्शन से कैसे बचें? (How to avoid urine infection during burning?):

पेशाब में इन्फेक्शन होने पर इन चीजों से करें परहेज:-

  1. संक्रमण के समय चीनी और मिठाई का सेवन न करें। मिठास से बने तत्व ट्रैक्ट बैक्टीरिया के विस्तार को बढ़ावा देते हैं।
  2. फलों का रस खाएं, लेकिन इसमें चीनी न मिलाएं।
  3. यूरिनरी इन्फेक्शन के दौरान केक, कुकीज, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स और शुगर युक्त पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए।
  4. कॉफी का सेवन न करें। इससे जलन की समस्या अधिक हो सकती है।
  5. जितना हो सके शराब और कैफीन के सेवन से दूर रहें।

आशा है की आपको इस लेख द्वारा यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi) के बारे में जानकारी मिल गयी होगी।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार  – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi) पसंद आया होगा, अगर आपको भी यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी यूरीन इंफेक्शन के घरेलु उपाय, नुस्खे और उपचार  – Urine Infection Ke Gharelu Upay, Nuskhe Aur Upchar (Home Remedies For Urine Infection in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here