तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान (8 Effective Benefits of Tulsi Water in Hindi)

0

तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi): सुबह की शुरुआत गर्म पानी पीकर करनी चाहिए। हम सभी को अक्सर ऐसी सलाह मिलती है। लेकिन अगर इस गर्म पानी के अंदर तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल किया जाए तो यह और भी फायदेमंद हो जाता है।

भारत के लगभग हर घर में आपको होली तुलसी यानी तुलसी का एक पौधा देखने को मिल जाएगा। जहां एक ओर इसकी धार्मिक मान्यताएं हैं, वहीं इसका उपयोग कई बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है।

हिंदू शास्त्रों के अनुसार जिस घर के आंगन में तुलसी का पौधा होता है, उस घर में बैक्टीरिया और बैक्टीरिया प्रवेश नहीं कर पाते हैं, जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसलिए आज के इस लेख में हम बात करेंगे तुलसी का पानी पीने से होने वाले फायदों के बारे में, तो आइये शुरू करते है-

विषय सूची:

तुलसी का पानी पीने के फायदे (Benefits of Tulsi Water in Hindi):

यहाँ निचे हमने तुलसी का पानी पीने के फायदे (Benefits of Tulsi Water in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हे आपको जानना चाहिए-

तुलसी का पानी पीने के फायदे, तुलसी का पानी पीने के नुकसान, Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde, Tulsi Ka Pani Peene Ke Nuksan, Side Effects of Tulsi Water in Hindi, Benefits of Tulsi Water in Hindi, Tulsi Ka Pani Pine Ke Fayde, Tulsi Ka Pani Pine Ke Nuksan,
तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi)

1. तुलसी का पानी पीने के फायदे दिल को स्वस्थ रखें (Benefits Of tulsi Water Keep Heart Healthy In Hindi):

जब सुबह तुलसी का पानी पीने के लाभों की बात आती है, तो यह हृदय को स्वस्थ रखने में भी मदद कर सकता है। कहा जाता है कि तुलसी में कार्डियोप्रोटेक्टिव गुण होते हैं। इन गुणों के कारण तुलसी हृदय को स्वस्थ रखकर हृदय रोग को दूर रखने में मदद कर सकती है।

वहीं, तुलसी का पानी तनाव के कारण होने वाली हृदय रोग से बचाने में भी मदद कर सकता है। इसलिए तुलसी का रस पीने के फायदों में हृदय रोग के जोखिम को कम करना और हृदय को स्वस्थ रखना शामिल है।

Also Read:-

2. तुलसी का पानी पीने के फायदे तनाव से राहत दे (Benefits of Tulsi water relieve stress in Hindi):

आज के समय में तनाव एक बहुत ही आम समस्या हो गई है और इससे निजात पाने के लिए लोग तरह-तरह की थैरेपी अपनाते हैं। वैसे क्या आप जानते हैं कि तुलसी का पानी पीने के फायदे इस समस्या को कम करने में देखे गए हैं।

इसमें एंटीस्ट्रेस गुण होते हैं, जो तनाव से राहत दिला सकते हैं। तुलसी के पत्तों का पानी हमारे शरीर में एक प्रकार के स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल हार्मोन की मात्रा को नियंत्रित कर सकता है। खासकर तुलसी की चाय का सेवन करने से तनाव को कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

साथ ही यह अन्य मानसिक लाभों जैसे अवसादरोधी गुणों और याददाश्त में सुधार करने में भी सहायक हो सकता है। ऐसे में तनाव से राहत पाने में तुलसी के पत्तों का पानी पीने के फायदे पाए जा सकते हैं।

3. तुलसी का पानी पीने के फायदे कैंसर के खतरे को कम करें (Benefits Of Tulsi Water Reduce The Risk Of Cancer In Hindi):

शरीर से जुड़ी आम बीमारियों के साथ-साथ तुलसी के रस के फायदे कुछ हद तक कैंसर के खतरे को कम करने में मददगार हो सकते हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि तुलसी के रस में रेडियोप्रोटेक्टिव गुण होते हैं, जो शरीर में बढ़ने वाले ट्यूमर सेल्स को खत्म करते हैं।

इसके अलावा तुलसी में यूजेनॉल भी पाया जाता है, जिसमें कैंसर रोधी गुण होते हैं। इसके अलावा, तुलसी में आवश्यक फाइटोकेमिकल्स जैसे रोस्मारिनिक एसिड, एपिजेनिन, ल्यूटोलिन, मर्टल भी होते हैं, जो विभिन्न प्रकार के कैंसर से लड़ने में मदद कर सकते हैं।

4. तुलसी का पानी पीने के फायदे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं (Benefits Of tulsi Water Increase Immunity In Hindi):

तुलसी के पत्तों का पानी पीने के फायदे बीमारियों से लड़ने की क्षमता में सुधार करने में भी देखे गए हैं। ऐसा कहा जाता है कि इसमें इम्युनोमोडायलेटरी गुण होते हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली के कामकाज को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। वहीं इन गुणों के कारण तुलसी का इस्तेमाल अस्थमा जैसी बीमारियों के इलाज में भी किया जा सकता है।

वहीं, सर्दी, जुकाम, बुखार जैसी समस्याओं से राहत पाने के लिए तुलसी के फायदे का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसलिए अगर कोई इम्युनिटी कम है तो तुलसी के पत्तों के पानी के फायदे उनके लिए कारगर हो सकते हैं।

Also Read:-

5. तुलसी का पानी पीने के फायदे मधुमेह को नियंत्रित करें (Benefits of Tulsi water Control diabetes in Hindi):

अगर कोई आपसे मधुमेह के घरेलू उपचार के बारे में पूछे तो आप उन्हें तुलसी के सेवन की सलाह दे सकते हैं। मधुमेह विरोधी गुणों के कारण हर सुबह तुलसी का पानी पीने के फायदे मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, तुलसी में हाइपोग्लाइसेमिक गुण भी होते हैं जो शरीर में रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

6. तुलसी का पानी पीने के फायदे वजन घटाने में मदद करें (Benefits Of Tulsi Water Help In Weight Loss In Hindi):

यदि कोई अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहा है, तो वह व्यायाम और उचित खान-पान से तुलसी के रस का लाभ उठा सकता है। दरअसल, रोज सुबह तुलसी का पानी पीने से मोटापा कम किया जा सकता है। तुलसी के रस के लाभ शरीर के समग्र वजन, बीएमआई और शरीर में इंसुलिन को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं और शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद कर सकते हैं।

7. तुलसी का पानी पीने के फायदे गले की खराश से दिलाएं राहत (Benefits Of Drinking Tulsi Water Get Relief From Sore Throat in Hindi):

तुलसी का इस्तेमाल सदियों से गले को स्वस्थ रखने के लिए किया जाता रहा है। गले में खराश फ्लू या सामान्य सर्दी के कारण हो सकता है, जो वायरस या बैक्टीरिया का कारण हो सकता है।

ऐसे में इन वायरस और बैक्टीरिया को मारने की क्षमता के कारण तुलसी का पानी पीने के फायदे गले की खराश से राहत दिलाने में पाए जा सकते हैं। यह फेफड़ों से कफ को दूर करने में मदद कर सकता है, जो गले में खराश पैदा करने में भी मदद कर सकता है। आपको राहत मिल सकती है।

8. तुलसी का पानी पीने के फायदे मुंह को बैक्टीरिया के संक्रमण से बचाएं (Benefits Of Tulsi Water Protect The Mouth From Bacterial Infection In Hindi):

रोज सुबह तुलसी का पानी पीने के फायदे मुंह को साफ रखने में भी देखे जा सकते हैं। अपने जीवाणुरोधी गुणों के कारण, तुलसी सांसों की दुर्गंध, पायरिया और अन्य मसूड़ों की बीमारियों को ठीक करने में मदद कर सकती है। तुलसी में रोगाणुरोधी गुण भी होते हैं। यह गुण मुंह को बैक्टीरिया के संक्रमण से बचाने में मदद कर सकता है। यह एक प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर भी है।

Also Read:-

तुलसी का पानी कैसे बनाएं (How To Make Tulsi Water In Hindi):

यहाँ निचे हमने तुलसी का पानी बनाने की विधि के बारे में बताया है, इस तरह आप तुलसी का पानी बना सकते है-

  1. एक बर्तन में एक गिलास पानी लें और जब यह पानी उबलने लगे तो इसे थोड़ा उबलने दें।
  2. फिर उसमें कुछ साफ धुले हुए तुलसी के पत्ते डालें और उबलने के लिए छोड़ दें।
  3. इस पानी को तब तक उबलने दें जब तक कि पानी आधा न रह जाए और तुलसी का अर्क पानी में न आ जाए।
  4. इसके बाद आप इसे थोड़ा ठंडा होने दें।
  5. फिर इसमें शहद मिलाकर पी लें।

अब जब आप तुलसी का पानी पीने के फायदे (Benefits of drinking Tulsi water in Hindi) के बारे में जान ही चुके है, तो चलिए अब तुलसी का पानी पीने के नुकसान (Tulsi Water Side Effects in Hindi) के बारे में भी थोडा जान लिया जाएँ-

तुलसी का पानी पीने के नुकसान (Side Effects of Tulsi Water in Hindi):

  1. तुलसी में एंटीफर्टिलिटी प्रभाव होता है, जिसके कारण इसके अत्यधिक उपयोग से पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या कम हो सकती है।
  2. गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को तुलसी के पानी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

आशा है इन सभी फायदों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi) क्या होते है।

Also Read:-

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi) पसंद आया होगा, अगर आपको भी तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi) के बारे में जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी तुलसी का पानी पीने के फायदे और नुकसान – Tulsi Ka Pani Peene Ke Fayde Aur Nuksan (Side Effects And Benefits of Tulsi Water in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here