लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान (15 Amazing Benefits Of Lemon Grass in Hindi)

Show Some Love By Sharing!

लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi): लेमन ग्रास का नाम सुनते ही आपके दिमाग में हरी घास की तस्वीर जरूर आई होगी। वहीं आप सोच रहे होंगे कि क्या घास भी सेहत के लिए फायदेमंद हो सकती है? वहीं आपके साथ धोखा हुआ है।

आपको बता दें कि हम यहां किसी ऐसी घास की नहीं बल्कि लेमनग्रास की बात कर रहे हैं। लेमनग्रास के औषधीय गुण सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। यह सिर से लेकर पांव तक कई बीमारियों से निजात दिलाने में मददगार हो सकता है।

विषय सूची:

लेमन ग्रास क्या है? (What is Lemon Grass in Hindi):

लेमनग्रास एक औषधीय पौधा है, जो विशेष रूप से दक्षिण-पूर्व एशिया में पाया जाता है। यह घास की तरह दिखता है, लेकिन इसकी लंबाई आम घास से ज्यादा होती है। वहीं इसमें नींबू की तरह महक आती है और चाय में अदरक की तरह इसका इस्तेमाल ज्यादातर किया जाता है।

लेमनग्रास के औषधीय गुण जैसे एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-फंगल आदि आपको कई बीमारियों और संक्रमणों से बचाते हैं। लेमनग्रास तेल का उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है।

इसमें लगभग 75 प्रतिशत सिट्रल पाया जाता है जिसकी वजह से इसकी खुशबू भी नींबू जैसी होती है। अक्सर लेमनग्रास ऑयल का इस्तेमाल ब्यूटी प्रोडक्ट्स और पेय पदार्थों में भी किया जाता है।

(यह भी पढ़े – नारियल दूध के फायदे, उपयोग और नुकसान (15 Amazing Benefits of Coconut Milk in Hindi))

यहाँ निचे हमने लेमन ग्रास के फायदे (Lemon Grass Benefits in Hindi) के बारे में बताया है, जिन्हें आप नही जानते होंगे-

लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass in Hindi):

आप में से कई लोग लेमन ग्रास को बेकार सी घास समझते होंगे, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नही है, यह वाकई एक चमत्कारी जड़ी-बूटी है, लेमन ग्रास के लाभों को जानने के लिए आगे इस लेख को जरुर पढ़े-

लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान, Lemon Grass Ke Fayde, Lemon Grass Ke Upyog, Lemon Grass Ke Nuksan, Uses Of Lemon Grass in Hindi, Side Effects Of Lemon Grass in Hindi, Benefits Of Lemon Grass in Hindi, Lemon Grass Benefits in Hindi, Lemon Grass Side Effects in Hindi, Lemon Grass Uses in Hindi, Lemon Grass in Hindi,
लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi)

1. पेट के लिए लेमन ग्रास टी के फायदे (Benefits of Lemon Grass Tea for Stomach in hindi):

लेमनग्रास के गुण आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाने में भी मदद कर सकते हैं। साथ ही इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से बचाते हैं और पेट के अल्सर और पेट की अन्य समस्याओं को रोकने का काम कर सकते हैं। अगर किसी को पाचन संबंधी समस्या है तो वह लेमनग्रास टी को डाइट में शामिल कर सकता है।

2. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass to Control Cholesterol in hindi):

शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से स्ट्रोक और हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में लेमनग्रास के औषधीय गुण शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर आपको इनसे बचा सकते हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार लेमनग्रास ऑयल के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम किया जा सकता है।

(यह भी पढ़े – हेजलनट्स के फायदे, उपयोग और नुकसान (12 Amazing Benefits of Hazelnuts in Hindi))

3. कैंसर के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Cancer in hindi):

लेमनग्रास और लेमनग्रास ऑयल में कैंसर रोधी गुण पाए जाते हैं, जो कैंसर कोशिकाओं को खत्म कर कैंसर के खतरे को कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा आप कैंसर सेल्स को खत्म करने के लिए लेमनग्रास टी भी पी सकते हैं।

4. किडनी के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Kidneys in hindi):

लेमनग्रास में मूत्रवर्धक गुण होते हैं। इसका सेवन करने से आपको बार-बार पेशाब करने की जरूरत पड़ सकती है, जो कि आपकी किडनी के लिए अच्छा है। इससे आपके शरीर के टॉक्सिन्स पेशाब के जरिए बाहर निकलेंगे और आपकी किडनी स्वस्थ रहेगी। इसके अलावा पथरी की दवाओं में मूत्रवर्धक गुण भी होते हैं, जो गुर्दे की पथरी को बाहर निकालने में सहायक भूमिका निभाते हैं।

(यह भी पढ़े – अखरोट खाने के फायदे और नुकसान (15 Amazing Benefits of Walnuts in Hindi))

5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of lemon grass to increase immunity in hindi):

लेमनग्रास के औषधीय गुण आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। इसमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, जो आपको कई तरह के इन्फेक्शन और बीमारियों से बचा सकते हैं। साथ ही इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल सिस्टम को मसाला देने का काम कर सकते हैं।

6. वजन घटाने के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Weight Loss in hindi):

लेमनग्रास के मूत्रवर्धक गुणों के कारण, यह शरीर को डिटॉक्सीफाई करता है और मूत्र के माध्यम से शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है। माना जाता है कि डिटॉक्सिफिकेशन आपको वजन कम करने में मदद करता है। वजन घटाने के लिए लेमनग्रास के फायदों के बारे में फिलहाल कोई ठोस सबूत उपलब्ध नहीं है और इस पर और अधिक शोध की जरूरत है।

7. नींद के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Sleep in hindi):

अगर आपको ठीक से नींद नहीं आ रही है तो आप इस समस्या से राहत पाने के लिए लेमनग्रास ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें शामक गुण होते हैं, जो आपको बेहतर नींद में मदद करेंगे। आप चाहें तो डिफ्यूजर में लेमनग्रास ऑयल की कुछ बूंदें डालकर अरोमाथैरेपी ले सकते हैं।

(यह भी पढ़े – मूंगफली के तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान (14 Amazing Benefits of Peanut Oil in Hindi))

8. डिप्रेशन के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Depression in hindi):

लेमनग्रास के फायदे डिप्रेशन से लड़ने में भी देखे गए हैं। दरअसल, लेमनग्रास में एंटी-डिप्रेसेंट गुण होते हैं, जो डिप्रेशन को दूर करने का काम कर सकते हैं।

9. गठिया के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Arthritis in hindi):

रूमेटाइड अर्थराइटिस एक ऐसी समस्या है जिसमें जोड़ों में दर्द, सूजन और अकड़न होती है। 30-60 साल की उम्र में यह समस्या होना आम बात है। अगर आप भी गठिया की समस्या से परेशान हैं तो लेमनग्रास ऑयल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो आपको गठिया के लक्षणों से राहत दिला सकते हैं। राहत पाने के लिए आप लेमन ग्रास ऑयल की कुछ बूंदों से प्रभावित क्षेत्र की मालिश कर सकते हैं।

10. अस्थमा के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Asthma in hindi):

लेमनग्रास के औषधीय गुण आपको अस्थमा से होने वाली एलर्जी से बचा सकते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एलर्जी गुण होते हैं, जो संक्रमित कोशिकाओं को आपके फेफड़ों में प्रवेश करने से रोकते हैं और आपको एलर्जिक अस्थमा से बचाने में फायदेमंद साबित होते हैं।

(यह भी पढ़े – तिल के तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान (25 Amazing Benefits of Sesame Oil in Hindi))

11. नर्वस सिस्टम के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for the Nervous System in hindi):

लेमनग्रास के पोषक तत्व नर्वस सिस्टम के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। दरअसल, इसमें मैग्नीशियम पाया जाता है, जो न्यूरोडीजेनेरेटिव बीमारियों से बचाव कर सकता है। न्यूरोडीजेनेरेटिव रोग मस्तिष्क में न्यूरॉन्स को नष्ट कर देता है।

12. डायबिटीज के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Diabetes in hindi):

अगर आप डायबिटीज से परेशान हैं तो लेमनग्रास के गुण आपकी मदद कर सकते हैं। लेमनग्रास और इसके फूलों का पारंपरिक रूप से मधुमेह के इलाज के लिए उपयोग किया जाता रहा है। इसमें एंटी-डायबिटिक गुण होते हैं, जो आपको खाली पेट और भोजन के बाद ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

13. तनाव के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Stress in hindi):

नींबू के रस के गुण आपको तनाव से भी राहत दिला सकते हैं। दरअसल, यह काम लेमनग्रास में पाए जाने वाले मैग्नीशियम से होता है। शोध में पाया गया है कि मैग्नीशियम की कमी से सिरदर्द, अनिद्रा, थकान, अति-भावनात्मकता और चिंता जैसी तनाव संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

ऐसे में लेमनग्रास का सेवन आपकी मदद कर सकता है, क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम होता है। आप चाहें तो तनाव और चिंता को दूर करने के लिए लेमनग्रास ऑयल के साथ अरोमाथेरेपी भी ले सकते हैं। फिलहाल इस पर और शोध की जरूरत है।

(यह भी पढ़े – बादाम खाने के फायदे और नुकसान (20 Amazing Benefits of Almonds in Hindi))

14. मुंहासों के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of Lemon Grass for Acne in hindi):

लेमनग्रास के गुण आपको बेदाग और पिंपल मुक्त त्वचा पाने में मदद कर सकते हैं। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं, जो पिंपल्स और संक्रमण पैदा करने वाले कीटाणुओं से लड़ते हैं और उन्हें जड़ से खत्म करते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करते हैं और मुंहासों को बढ़ने से रोकते हैं।

15. माइग्रेन की समस्या के लिए लेमन ग्रास के फायदे (Benefits of lemon grass for migraine problem in hindi):

एक विकार है जिसे माइग्रेन के रूप में भी जाना जाता है। यह एक ऐसी जटिल बीमारी है जिसमें सिर के एक तरफ बहुत चुभने वाला दर्द होता है और यह दर्द कई घंटों से लेकर दो से तीन तक रह सकता है। माइग्रेन एक बहुत ही दर्दनाक बीमारी है क्योंकि रोगी को हल्की और तेज आवाज से भी परेशानी होती है। चूंकि वर्तमान समय में माइग्रेन की बीमारी बढ़ती जा रही है, इसलिए शरीर को इस बीमारी से बचाना जरूरी हो गया है।

आपको बता दें कि अगर आप माइग्रेन की बीमारी से पीड़ित हैं या शरीर को इस गंभीर बीमारी से बचाना चाहते हैं तो लेमनग्रास का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल लेमनग्रास में कई तरह के फायदेमंद तत्व पाए जाते हैं, जो माइग्रेन की बीमारी से निजात दिलाने में फायदेमंद होते हैं। माइग्रेन की बीमारी में लेमनग्रास और तुलसी के पत्तों की चाय का सेवन फायदेमंद माना जाता है।

(यह भी पढ़े – आर्गन ऑयल शैम्पू के फायदे (9 Amazing Benefits of Argan Oil Shampoo in Hindi))

लेमन ग्रास के उपयोग (Uses of Lemon Grass in Hindi):

लेमनग्रास का स्वाद नींबू के जैसा ही होता है। लेमनग्रास का इस्तेमाल थाई और कॉन्टिनेंटल खाना पकाने में किया जाता है। लेमनग्रास का इस्तेमाल आप कई तरह से कर सकते हैं, जैसे:

कैसे इस्तेमाल करे:

  1. आप इसकी चाय को ग्रीन टी की तरह बना सकते हैं। आप इसे चाय में अदरक/इलायची के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  2. चिकन बनाते समय आप थोड़ा लेमनग्रास काट कर उसमें डाल सकते हैं. यह चिकन को एक अलग स्वाद दे सकता है।
  3. आप लेमनग्रास सूप बना सकते हैं। आप टमाटर के सूप में कुछ लेमनग्रास भी मिला सकते हैं।
  4. आप लेमनग्रास का पेस्ट बनाकर सब्जी बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।
  5. लेमनग्रास टी में बर्फ डालकर आप आइस्ड लेमनग्रास टी बना सकते हैं।
  6. आप खाने में लेमन जेस्ट की जगह लेमन ग्रास का इस्तेमाल कर सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें:

  1. आप लेमनग्रास टी का सेवन सुबह और शाम कर सकते हैं।
  2. इसे लंच या डिनर में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

कितना उपयोग करना है:

  1. चाय को मजबूत बनाने के लिए आप इसमें आवश्यकतानुसार एक या दो लेमनग्रास की पत्तियां मिला सकते हैं।
  2. आप खाना पकाने में स्वादानुसार लेमनग्रास के 5-10 पत्ते भी मिला सकते हैं, लेकिन इसे सीमित मात्रा में ही इस्तेमाल करें।

यहाँ निचे हमने लेमन ग्रास के दुष्प्रभाव (Harms of Lemon Grass in HIndi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हें आपको जानना चाहिए-

लेमन ग्रास के नुकसान (Side Effects of Lemon Grass in HIndi):

अगर आप सोच रहे हैं कि लेमनग्रास के फायदे ही होते हैं तो ऐसा नहीं है, दरअसल लेमनग्रास से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। आइए अब हम आपको लेमनग्रास के नुकसान से अवगत कराते हैं।

  1. लेमनग्रास शरीर में रक्त शर्करा को कम करता है, इसलिए अत्यधिक सेवन से शरीर के रक्त शर्करा को कम किया जा सकता है।
  2. संवेदनशील त्वचा वाले लोगों को लेमनग्रास से एलर्जी हो सकती है और त्वचा पर दाने और त्वचा का लाल होना विकसित हो सकता है।
  3. लेमनग्रास में नींबू जैसी सुगंध होती है, इसलिए अगर इसका रस आंखों में चला जाए या बदबू आए तो यह आंखों में जलन और आंखों में लाली पैदा कर सकता है।
  4. बहुत से लोगों को लेमनग्रास से एलर्जी होती है, इसलिए लेमनग्रास से एलर्जी वाले लोगों को फेफड़ों से संबंधित शिकायत हो सकती है।
  5. गर्भवती महिलाओं के लिए लेमनग्रास का सेवन हानिकारक साबित हो सकता है, इसलिए गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर से सलाह लेकर ही इसका सेवन करना चाहिए।

आशा है की आपको इस लेख द्वारा लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi) के बारे में जानकारी मिल गयी होगी।

यह भी पढ़े –

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi) पसंद आया होगा, अगर आपको भी लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी लेमन ग्रास के फायदे, उपयोग और नुकसान – Lemon Grass Ke Fayde, Upyog Aur Nuksan (Uses, Side Effects And Benefits Of Lemon Grass / Cymbopogon in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a comment

error: Content is protected !!
×