लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (10 Effective Benefits of Garlic and Honey in Hindi)

0

लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits Of Garlic And Honey in Hindi): लहसुन और शहद लगभग सभी घरों की रसोई में मौजूद होते हैं, लेकिन अगर आप लहसुन और शहद के मिश्रण के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं तो आप चौंक जाएंगे। लहसुन और शहद दोनों ही प्राकृतिक गुणों से भरपूर हैं।

लहसुन में जहां कई औषधीय गुण होते हैं, वहीं शहद शरीर को फिर से जीवंत और ऊर्जा देने का काम करता है। लेकिन अगर दोनों को मिलाकर सेवन किया जाए तो आप कई बीमारियों से बच सकते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं कि लहसुन और शहद के मिश्रण का सेवन करने से आप किन स्थितियों से बच सकते हैं।

विषय सूची:

लहसुन और शहद के गुण (Properties of Garlic and Honey in Hindi):

दुनिया भर में लहसुन और शहद को पारंपरिक दवाओं के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है। लहसुन में प्रमुख स्वास्थ्य घटक के रूप में एलिसिन होता है और लहसुन में ऑक्सीजन, सल्फर और अन्य रसायन होते हैं जो इसे जीवाणुरोधी और रोग से लड़ने वाले गुण देते हैं।

वहीं अगर शहद की बात करें तो इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जिन्हें फ्लेवोनोइड्स और पॉलीफेनॉल्स भी कहा जाता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण भी होते हैं। ये रसायन शरीर में सूजन (सूजन और लाली) से लड़ने में मदद करते हैं। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को संतुलित करने और कई तरह की बीमारियों को रोकने में मदद कर सकता है।

Also Read:-

शहद और लहसुन में पाए जाने वाले पोषक तत्वों की जानकारी हम नीचे टेबल के माध्यम से दे रहे हैं। यह मात्रा प्रति 100 ग्राम शहद और लहसुन की होती है।

पोषक तत्त्व शहदलहसुन
पानी17.1 ग्राम58.23 ग्राम
ऊर्जा304 किलो कैलोरी148 किलो कैलोरी
प्रोटीन0.3 ग्राम6.32 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट82.4 ग्राम32.86 ग्राम
रेशा0.2 ग्राम2.1 ग्राम
कुल चीनी82.12 ग्राम 0.99 ग्राम
सुक्रोज0.89 ग्राम
ग्लूकोज (डेक्सट्रोज)35.75 ग्राम
फ्रुक्टोज40.94 ग्राम
माल्टोस1.44 ग्राम
गैलेक्टोज3.1 ग्राम
कैल्शियम6 मिलीग्राम180 मिलीग्राम
आयरन0.42 मिलीग्राम1.69 मिलीग्राम
मैग्नीशियम2 मिलीग्राम25 मिलीग्राम
फास्फोरस4 मिलीग्राम152 मिलीग्राम
पोटैशियम52 मिलीग्राम399 मिलीग्राम
सोडियम4 मिलीग्राम248 मिलीग्राम
विटामिन C0.5 मिलीग्राम24.8 मिलीग्राम
जस्ता0.22 मिलीग्राम1.15 मिलीग्राम
तांबा0.036 मिलीग्राम0.297 मिलीग्राम
मैंगनीज0.08 मिलीग्राम
सेलेनियम0.8 माइक्रोग्राम14.1 माइक्रोग्राम
थिअमिन0.179 मिलीग्राम
फ्लोराइड7 माइक्रोग्राम
राइबोफ्लेविन0.038 मिलीग्राम0.104 मिलीग्राम
नियासिन0.121 मिलीग्राम0.661 मिलीग्राम
विटामिन B-60.024 मिलीग्राम1.166 मिलीग्राम
पैंथोथेटिक अम्ल0.068 मिलीग्राम
फोलेट2 माइक्रोग्राम2 माइक्रोग्राम
कॉलिन2.2 मिलीग्राम23.1 मिलीग्राम
पराजित1.7
कैरोटीन, बीटा4 ग्राम
ल्यूटिन + ज़ेक्सैन्थिन14 माइक्रोग्राम
विटामिन E (अल्फा-टोकोफेरोल)0.08 मिलीग्राम
विटामिन K1.7 माइक्रोग्राम

लहसुन और शहद के फायदे (Benefits of Garlic and Honey in Hindi):

लहसुन और शहद दोनों का एक साथ सेवन करने से हमें औषधि जैसे लाभ मिल सकते हैं। शहद और लहसुन का उपयोग घरेलू उपचार के रूप में सैकड़ों वर्षों से किया जा रहा है। ध्यान रहे कि ये सिर्फ घरेलू नुस्खे हैं। इसका सेवन किसी भी गंभीर बीमारी का पूर्ण इलाज नहीं हो सकता है। इस कारण से, बीमार होने पर डॉक्टर से परामर्श करना आवश्यक है। आइए अब जानते हैं लहसुन और शहद के फायदे (Garlic and Honey Benefits in Hindi)-

लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects and Benefits of Garlic and Honey in Hindi)
लहसुन और शहद के फायदे (Benefits of Garlic and Honey in Hindi)

1. जीवाणुरोधी प्रभाव के लिए लहसुन और शहद के फायदे (Benefits of Garlic and Honey for Antibacterial Effect in Hindi):

लहसुन और शहद दोनों का औषधीय उपयोग बहुत पुराना है। लहसुन और शहद दोनों ही बैक्टीरिया को मारने में सक्षम माने जाते हैं। एक प्रयोगशाला अध्ययन में पाया गया कि लहसुन के रस और शहद का एक संयोजन जीवाणु संक्रमण को भी रोकता है जो एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज नहीं कर सकता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार शहद और लहसुन से आप बैक्टीरिया के संक्रमण को कम कर सकते हैं। दोनों का एक साथ सेवन करने से ये काफी हद तक प्राकृतिक रोगाणुरोधी दवा के रूप में भी काम कर सकते हैं।

लहसुन और शहद का मिश्रण श्वसन तंत्र में संक्रमण और निमोनिया पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने के लिए भी फायदेमंद माना जाता है।

2. लहसुन और शहद के फायदे हृदय स्वास्थ्य की रक्षा करें (Benefits of Garlic and Honey Protect Heart Health in Hindi):

शहद और लहसुन के फायदों में दिल की सेहत भी शामिल है। लहसुन हर तरह की हृदय रोग के खतरे से बचा सकता है। यह कोलेस्ट्रॉल, ब्लड प्रेशर, एथेरोस्क्लेरोसिस (धमनियों में फैट जमा होना) जैसी सभी समस्याओं को कम कर सकता है। इन सभी को हृदय रोग का खतरा बताया जाता है। आयुर्वेद में यह भी कहा गया है कि सदियों से लहसुन का इस्तेमाल हृदय रोग के इलाज के लिए किया जाता रहा है।

इसके अलावा, शहद में मौजूद फ्लेवोनोइड्स में एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव होते हैं, जो हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकते हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि शहद तीन तरह से बीमारियों से दिल की रक्षा कर सकता है, पहला कोरोनरी वासोडिलेटेशन (रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करना) में सुधार करके, दूसरा, रक्त के थक्के को बनने से रोककर, और तीसरा, कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (कोलेस्ट्रॉल) के ऑक्सीकरण को रोककर। इस आधार पर कह सकते हैं कि शहद और लहसुन का मिश्रण दिल के लिए ज्यादा कारगर साबित हो सकता है।

Also Read:-

3. लहसुन और शहद के फायदे प्रतिरक्षा बढ़ाएँ (Benefits of Garlic and Honey Boost Immunity in Hindi):

इम्युनिटी के कमजोर होने का मतलब है शरीर के आसपास के रोग। इस रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए शहद और लहसुन को घरेलू उपचार के रूप में जाना जाता है। नया और पुराना दोनों लहसुन आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। लहसुन साइटोकिन्स (सिग्नलिंग प्रोटीन का एक व्यापक समूह) के उत्पादन को बढ़ाकर प्रतिरक्षा में सुधार कर सकता है।

वहीं, शहद की बात करें तो ऐसा माना जाता है कि इसके एंटीऑक्सीडेंट के कारण यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकता है। शहद एक प्राकृतिक इम्युनिटी बूस्टर है। यह प्रतिरक्षा कोशिकाओं द्वारा साइटोकिन उत्पादन को बढ़ावा देकर ऐसा कर सकता है। इसी वजह से इम्युनिटी बढ़ाने के लिए शहद और लहसुन का मिश्रण अच्छा माना जाता है।

4. लहसुन और शहद के फायदे वजन कम करें (Benefits of Garlic and Honey Lose Weight in Hindi):

लहसुन शहद के फायदों में से एक है वजन कम करना। रोजाना शहद का सेवन करने से आप वजन बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं क्योंकि शहद में मोटापा-रोधी प्रभाव होता है।

शहद में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट के कारण यह वजन कम करने में मदद कर सकता है। यह भूख को नियंत्रित करने वाले हार्मोन (लेप्टिन, ग्रेलिन और पेप्टाइड्स) को संशोधित करके वजन घटाने में भी मदद कर सकता है। अगर हम लहसुन की बात करें तो लहसुन में मोटापा रोधी प्रभाव होता है जो वसा कोशिकाओं (एडिपोजेनेसिस) को कम करके मोटापे को रोक सकता है।

5. स्मृति और मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए लहसुन और शहद के फायदे (Benefits of Garlic and Honey for Memory and Brain Health in Hindi):

शहद और लहसुन मस्तिष्क स्वास्थ्य और याददाश्त को बनाए रखने के लिए भी जाने जाते हैं। शहद में मौजूद पॉलीफेनोल्स न्यूरोइन्फ्लेमेशन से रक्षा कर सकते हैं, जो स्मृति से संबंधित मस्तिष्क संरचनाओं से जुड़ा होता है। इतना ही नहीं, ये पॉलीफेनोल्स स्मृति विकारों के विकास को रोकते हैं और याददाश्त बढ़ाने का काम कर सकते हैं।

लहसुन में न्यूरोप्रोटेक्टिव प्रभाव होता है, जो दिमाग को बीमारियों से बचाने में भी मदद कर सकता है। इसमें मौजूद काओलिन एसिड एक एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करके मनोभ्रंश जैसी भूलने वाली मानसिक बीमारियों से बचाने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, लहसुन न्यूरॉन्स की रक्षा करके संज्ञानात्मक गिरावट, यानी स्मृति हानि से रक्षा कर सकता है।

Also Read:-

6. लहसुन और शहद के फायदे कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रित करें (Benefits of Garlic and Honey Control Cholesterol Level in Hindi):

लहसुन और शहद का मिश्रण कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। लहसुन हानिकारक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ने से रोक सकता है। साथ ही शहद कोलेस्ट्रॉल को भी कम कर सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, प्राकृतिक शहद के सेवन से बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल वाले लोग कोलेस्ट्रॉल को 3.3 प्रतिशत तक कम कर सकते हैं।

इतना ही नहीं यह एलडीएल यानी हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को 4.3 प्रतिशत तक कम करता है। साथ ही स्वस्थ लोगों में शहद के सेवन से गुड कोलेस्ट्रॉल 3.3 प्रतिशत तक बढ़ सकता है। ऐसे में शहद और लहसुन का मिश्रण कोलेस्ट्रॉल के लिए पर्याप्त माना जा सकता है।

7. त्वचा स्वास्थ्य के लिए लहसुन और शहद के फायदे (Benefits of Garlic and Honey for Skin Health in Hindi):

शहद और लहसुन के फायदे त्वचा की सेहत के लिए भी गिने जाते हैं। सौंदर्य प्रसाधन उद्योग में शहद का उपयोग वर्षों से किया जा रहा है। इसमें मौजूद एंटी-माइक्रोबियल गतिविधि के कारण यह त्वचा से संबंधित रोगाणुओं से लड़ता है। यह त्वचा की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने के लिए भी जाना जाता है।

साथ ही, शहद एक्जिमा (लाल रंग), डर्मेटाइटिस (त्वचा में खुजली) और अन्य बीमारियों से बचाव कर सकता है। इतना ही नहीं शहद त्वचा को जवां बनाए रखने और झुर्रियों से बचाने में भी मददगार माना जाता है।

वहीं, लहसुन में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो त्वचा की बढ़ती उम्र को कम करने के लिए जाने जाते हैं। यह त्वचा को जवां बनाए रख सकता है और सोरायसिस और संक्रमण जैसी कई बीमारियों से बचा सकता है। इसके अलावा, लहसुन के लंबे समय तक उपयोग से फाइब्रोब्लास्ट का अधिकतम प्रसार होता है, जो एक एंटी-एजिंग और कायाकल्प एजेंट के रूप में कार्य कर सकता है।

8. लहसुन और शहद के फायदे कामेच्छा बढ़ाएँ (Benefits of Garlic and Honey Increase Libido in Hindi):

शहद और लहसुन दोनों कामोत्तेजक के रूप में कार्य करते हैं। कामोद्दीपक एक ऐसा पदार्थ है जो यौन इच्छा, यौन आकर्षण या यौन व्यवहार यौन सुख को बढ़ाता है। शहद और लहसुन के सेवन से शरीर में रक्त का प्रवाह बेहतर होता है। इसके अलावा शहद में मौजूद बोरॉन और नाइट्रिक ऑक्साइड जैसे तत्व हार्मोन को नियंत्रित करने और कामेच्छा बढ़ाने में मदद करते हैं।

Also Read:-

9. लहसुन और शहद के फायदे यौन शक्ति बढ़ाएँ (Benefits of Garlic and Honey Increase Sexual Power in Hindi):

कई पुरुषों को कमजोर पुरुष शक्ति की समस्या होती है और यह समस्या खान-पान से भी जुड़ी होती है। खाली पेट लहसुन और शहद का सेवन पुरुष ऊर्जा को मजबूत करता है और प्रभावी रूप से यौन शक्ति को बढ़ाता है। इसके अलावा, शहद और लहसुन स्तंभन दोष, नपुंसकता, स्तंभन दोष और शीघ्रपतन के लिए प्रभावी प्राकृतिक उपचार हैं।

10. लहसुन और शहद के फायदे सर्दी और फ्लू का इलाज करें (Benefits of Garlic and Honey Treat Cold and Flu in Hindi):

शहद और लहसुन दोनों जीवाणुरोधी और एंटीवायरल हैं। जिसके कारण फ्लू के इलाज के लिए इनका सेवन खाली पेट किया जाता है। यह खांसी, बहती या भरी हुई नाक जैसे लक्षणों को दूर करने का एक घरेलू उपाय है। खाली पेट शहद और लहसुन पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

लहसुन और शहद खाने का सबसे अच्छा समय क्या है? (What Is The Best Time To Eat Garlic And Honey?):

लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects and Benefits of Garlic and Honey in Hindi)
लहसुन और शहद खाने का सबसे अच्छा समय क्या है? (What Is The Best Time To Eat Garlic And Honey?)

चूंकि लहसुन एक उत्कृष्ट एंटीऑक्सीडेंट है, इसलिए इस शहद और लहसुन के मिश्रण का सेवन करने का सबसे अच्छा समय सुबह का है। कच्चा लहसुन खाने से एसिडिटी हो सकती है इसलिए आपको हमेशा लहसुन के साथ शहद मिलाना चाहिए। लहसुन पेट के संक्रमण से निपटने में मदद करता है और स्वाभाविक रूप से उनका इलाज करता है। सुबह उठकर नियमित रूप से शहद और लहसुन के मिश्रण का सेवन करें और इसका अधिक से अधिक लाभ उठाएं।

अब जब आप लहसुन और शहद खाने के फायदे (Garlic and Honey Benefits in Hindi) के बारे में जान ही चुके है, तो आइये अब लहसुन और शहद का इस्तेमाल कैसे करें? (Garlic and Honey Uses in Hindi) के बारे में भी थोडा जान लें-

लहसुन और शहद का उपयोग कैसे करें? (How to use Garlic and Honey in Hindi):

आप लहसुन और शहद के कई स्वास्थ्य लाभों का आनंद या तो भोजन के साथ पकाकर या पोषण पूरक के रूप में ले सकते हैं। लहसुन और शहद को एक साथ इस्तेमाल करने के कई तरीके हैं। लहसुन को पकाने और इस्तेमाल करने से इसमें मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा कई गुना बढ़ जाती है। यही वजह है कि हम लहसुन और शहद के इस्तेमाल के दूसरे अलग-अलग तरीके बताने जा रहे हैं।

  1. ताजा कटा हुआ या कुचला हुआ लहसुन सबसे अधिक स्वास्थ्य लाभ देता है। इसके अलावा, लहसुन का अर्क और लहसुन पाउडर भी स्वस्थ यौगिकों में उच्च होता है।
  2. लहसुन पाउडर आमतौर पर लहसुन की खुराक के लिए प्रयोग किया जाता है। 150 से 2400 मिलीग्राम लहसुन के पाउडर की दैनिक खुराक से आप कई स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  3. वहीं, खांसी, जुकाम और गले में खराश के लिए शुद्ध शहद का इस्तेमाल प्राकृतिक उपचार के तौर पर किया जा सकता है। सर्दी और फ्लू के लक्षणों को कम करने के लिए आवश्यकतानुसार एक चम्मच शहद लें या फिर हर्बल चाय में शहद मिलाकर पीने से आराम मिल सकता है।
  4. आप त्वचा पर शहद का उपयोग एलर्जी के चकत्ते, मुँहासे और अन्य त्वचा की जलन को शांत करने में मदद करने के लिए भी कर सकते हैं। वहीं, आप शहद का इस्तेमाल त्वचा के घाव, जलन और खरोंच को ठीक करने के लिए भी कर सकते हैं।
  5. लहसुन और शहद खाने का तरीका लहसुन की 12 से 13 कलियों को धोकर पीस लेना है। फिर इस पेस्ट को एक कप शुद्ध शहद, लगभग 300 मिली में मिलाकर कांच के जार में भरकर एक हफ्ते के लिए कमरे में रख दें। उसके बाद आप शहद और लहसुन के फायदे के लिए इसका रोजाना सेवन कर सकते हैं।
  6. लहसुन को पीसकर या पीसकर शहद में मिलाने के बजाय आप इसे हल्का पकाकर और शहद के साथ मिलाकर खा सकते हैं।
  7. लहसुन और शहद खाने का एक और तरीका है। आप लहसुन का पेस्ट और शहद मिलाकर पानी पी सकते हैं। लहसुन का पेस्ट और शहद मिलाकर त्वचा पर लगाया जा सकता है।
  8. लहसुन और शहद खाने का एक और तरीका है। आप लहसुन का पेस्ट और शहद मिलाकर पानी पी सकते हैं।

यहाँ निचे हमने लहसुन और शहद के दुष्प्रभाव (Garlic and Honey Side Effects in Hindi) के बारे में विस्तार से बताया है, जिन्हें आपको जानना चाहिए-

लहसुन और शहद के नुकसान दुष्प्रभाव (Side Effects of Garlic and Honey in Hindi):

लहसुन और शहद के पोषक तत्व हमारे लिए बहुत फायदेमंद होते हैं, लेकिन लहसुन और शहद के सेवन से कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। लहसुन या शहद की खुराक लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें। नीचे जानिए क्या हैं ये साइड इफेक्ट-

लहसुन के बारे में:

लहसुन की खुराक कुछ लोगों में एलर्जी का कारण बन सकती है। उच्च मात्रा में लहसुन के साथ लहसुन की खुराक लेने से आपका खून पतला हो सकता है और इसके परिणामस्वरूप रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है।

इस कारण से, यह आपके रक्त को पतला करने वाली दवाओं के साथ नकारात्मक रूप से बातचीत कर सकता है। इनमें वार्फरिन (कौमडिन), सैलिसिलेट (एस्पिरिन), क्लोपिडोग्रेल (प्लाविक्स) शामिल हैं। इसके अलावा लहसुन मुंह और शरीर में सांसों की दुर्गंध पैदा कर सकता है। कच्चा लहसुन खाने से पेट की समस्या और सीने में जलन हो सकती है।

शहद के बारे में:

अपने आहार में शहद को शामिल करने से पहले डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से बात करें, क्योंकि शहद के सेवन से मधुमेह वाले लोगों में रक्त शर्करा का स्तर बढ़ सकता है। शहद, यह कुछ लोगों में एलर्जी का कारण बन सकता है। पराग कण से एलर्जी वाले लोगों को शहद से एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है।

यदि आपको शहद से एलर्जी है, तो अपने डॉक्टर से पूछें कि क्या आपके लिए शहद खाना सुरक्षित है। शहद पराग कण अन्य प्रतिक्रियाओं को भी ट्रिगर कर सकते हैं जैसे घरघराहट, खांसी, चेहरे या गले की सूजन, चक्कर आना, मतली, उल्टी, कमजोरी, बेहोशी, पसीना, त्वचा की प्रतिक्रियाएं, अनियमित हृदय धड़कन आदि।

आशा है इन सभी गुणों को जान ने के बाद आपको कभी यह नहीं बोलना पड़ेगा की लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Garlic and Honey in Hindi) क्या होते है।

Also Read:-

उम्मीद है आपको हमारा यह लेख लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Garlic and Honey in Hindi) पसंद आया होगा, अगर आपको भी लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Garlic and Honey in Hindi) के बारे में पता है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताये।

और अगर आपके घर परिवार में भी कोई लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Garlic and Honey in Hindi) जानना चाहते है तो आप उन्हें भी यह लेख भेजे जिस से उन लोगो को भी लहसुन और शहद के फायदे, उपयोग और नुकसान (Uses, Side Effects And Benefits of Garlic and Honey in Hindi) के बारे में पता चलेगा।

हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमारे साइट को सब्सक्राइब कर सकते है, जिस से आपको हमारे लेख सबसे पहले पढ़ने को मिलेंगे। वेबसाइट को सब्सक्राइब करने के लिए आप निचे दिए गए बेल्ल आइकॉन को प्रेस कर अल्लोव करे, अगर आपने हमे पहले से ही सब्सक्राइब कर रखा है तो आपको यह बार बार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here